बॉलीवुड और विदेशों में धूम मचाने वाली बनारसी साड़ियां लुभा रही महिलाओं को

बॉलीवुड और विदेशों में धूम मचाने वाली बनारसी साड़ियां लुभा रही महिलाओं को

भारतीय आर्ट हेण्डलूम एण्ड हेण्डीक्राफ्ट्स की ओर से नगर निगम प्रांगण में चलायी जा रही हैंडलूम एवं हेण्डीक्राफ्ट प्रदर्शनी में बनारसी साड़ियों ने धूम मचा रखी है। 
 
बॉलीवुड और विदेशों में धूम मचाने वाली बनारसी साड़ियां लुभा रही महिलाओं को
शहर में महिलाओं द्वारा इन साड़ियों को खूब पसंद किया जा रहा है। इन बनारसी साड़ियों का जलवा बॉलीवुड में भी खूब धूम मचा रहा है। 

उदयपुर 31 जनवरी 2020 । भारतीय आर्ट हेण्डलूम एण्ड हेण्डीक्राफ्ट्स की ओर से नगर निगम प्रांगण में चलायी जा रही हैंडलूम एवं हेण्डीक्राफ्ट प्रदर्शनी में बनारसी साड़ियों ने धूम मचा रखी है। शहर में महिलाओं द्वारा इन साड़ियों को खूब पसंद किया जा रहा है। इन बनारसी साड़ियों का जलवा बॉलीवुड में भी खूब धूम मचा रहा है। 

बनारस से आए नदीम और शाहिद ने बताया कि शादी के दौरान प्रसिद्ध अभिनेता अभिषेक बच्चन और अभिनेत्री ऐश्वर्या राय ने भी उनके यहां से शेरवानी और साड़ी बनवाई थी। इस साड़ी में सोने चांदी का वर्क लगाकर कारीगरी की गई थी। उन्होंने बताया कि जरी में शुद्ध सोना चान्दी का वर्क सुरक्षित तरीके से जोड़ा जाता है। इस प्रकार साड़ी बनाने के लिए कारीगर भी विशेष उपलब्धि वालेे होते हैं।  

ऐसी साड़ियों में  मिक्स टेक्स, सिल्क, और सीफोम मिक्स करके बनाया जाता है। इन साड़ियों को बनाने में पारंपरिक डिजाइनों और कलर का खास ख्याल रखा जाता है। ऐश्वर्या राय बच्चन के साथ ही अभिषेक बच्चन ने भी बनारस से ही अपनी शेरवानी बनवाई थी। इनके अलावा प्रसिद्ध अभिनेत्री अनुष्का शर्मा और प्रसिद्ध क्रिकेटर विराट कोहली ने भी अपनी शादी के अवसर पर बनारस से साटन सिल्की की साड़ी खास डिजाइन मे बनवाई थी। 

इसमें भी पारंपरिक डिजाइन कलर मैचिंग और सोने चांदी का वर्क करवाया गया था। इन साड़ियों के वजन का खास ख्याल रखा जाता है। आमतौर पर जो साड़ियां बाजार में बिकती है उन साड़ियों से आधे वजन की यह साड़ियां होती है। ऐश्वर्या राय बच्चन ने जो साड़ी बनवाई थी वह उन्होंने शादी में पहनी थी और अनुष्का शर्मा ने जो साड़ी बनवाई थी उन्होंने दिल्ली में हुए रिसप्शन के दौरान पहनी थी। यह साड़ियां और शेरवानी को मौजम अंसारी ने डिजाइन किया था।

एक साड़ी बनाने में लगते हैं 60 दिन

नदीम और शाहिद ने बताया कि हालांकि ऐसी साड़ियां विशेष आर्डर पर ही बनाई जाती है। एक साड़ी 3 पार्ट में बनती है। जिसमें 3 लोग दिन रात काम करके 45 दिन में एक साड़ी को तैयार करते हैं। उसके बाद इसके फिनिशिंग के काम में 15 से 20 दिन लग जाते हैं। 18 हजार से 35 हजार तक की लागत वाली इन साड़ियों की डिजाइन बनाने में 6 माह का समय लगता है। डिजाइन बनने के बाद 60 दिनों में एक साड़ी तैयार होती है। इन साड़ियों मे पारंपरिक डिजाइन, कलर और फिनिशिंग का खास ख्याल रखा जाता है।

उदयपुर में बिकने आई बनारसी साड़ियों में जामा वर्क, मूंगा सिल्क, मूंगा, कोटन सिल्क, उजाला सिल्क, डकाई जामदानी, पटोला, काजीवरम, चंदेरी कॉटन जूट सिल्क, मेगा चेक्स, सुपरनेट कोटा सिल्क होटल सिल्क आदि कई तरह की वैरायटी शामिल है। उदयपुर में भी इन साड़ियों की खूब डिमांड है। खासकर साटन सिल्क की साड़ी जो महिलाओं की खास पसंद है और दुल्हन शादी के समय इसे पहनना पसंद करती है। यहां बिकने आई साड़ियों में 18000 से लेकर के 35000 रूपयें तक की साड़ियां शामिल है। 

उन्होंने बताया कि यह साड़ियां हैंडलूम प्रदर्शनी में 18 से 35000 तक मिल जाती है यही साड़ियां आम ग्राहक किसी शोरूम मे खरीदने जाएगा तो उससे 60 हजार से 70000 रूपयें आसानी से वसूल लिए जाते हैं। यह साड़ियां बनारस के काशी विश्वनाथ में बनाई जाती है। यहां पर 1966 से इन साड़ियों का कारोबार चल रहा है भारत में तो इनकी डिमांड आमजन से लेकर बॉलीवुड तक है लेकिन विदेशों में भी इन साड़ियों को खूब पसंद किया जाता है जिनमें अमेरिका ऑस्ट्रेलिया जापान जैसे विकसित देश भी शामिल है।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal