अमरजोक नदी, पिछोला, फतेहसागर की पेटा भूमि से हो रही छेड़छाड़ को रुकवाने की मांग

अमरजोक नदी, पिछोला, फतेहसागर की पेटा भूमि से हो रही छेड़छाड़ को रुकवाने की मांग

झील मित्रो ने अमरजोक नदी, पीछोला, फतेहसागर की पेटा भूमि से हो रही छेड़छाड़ को रुकवाने की मांग की है। झील मित्र संस्थान, झील संरक्षण समिति तथा गांधी मानव कल्याण समिति के साझे में हुए संवाद में डॉ अनिल मेहता ने कहा कि अमरजोक नदी के पेटे में एक अरावली ताज रिसोर्ट को सड़क बनाने की अनुमति दी गई है। वंहा ठीक नदी पर बड़ा रिसोर्ट बन रहा है तथा देवास टनल के आउटलेट के समीप ही होटल वेस्ट वाटर ट्रीटमेंट बनाया जा रहा है। यह क़ानूनी प्रावधानों के खिलाफ है व पीछोला को भयंकर रूप से प्रभावित करेगा।

 

अमरजोक नदी, पिछोला, फतेहसागर की पेटा भूमि से हो रही छेड़छाड़ को रुकवाने की मांग

झील मित्रो ने अमरजोक नदी, पीछोला, फतेहसागर की पेटा भूमि से हो रही छेड़छाड़ को रुकवाने की मांग की है। झील मित्र संस्थान, झील संरक्षण समिति तथा गांधी मानव कल्याण समिति के साझे में हुए संवाद में डॉ अनिल मेहता ने कहा कि अमरजोक नदी के पेटे में एक अरावली ताज रिसोर्ट को सड़क बनाने की अनुमति दी गई है। वंहा ठीक नदी पर बड़ा रिसोर्ट बन रहा है तथा देवास टनल के आउटलेट के समीप ही होटल वेस्ट वाटर ट्रीटमेंट बनाया जा रहा है। यह क़ानूनी प्रावधानों के खिलाफ है व पीछोला को भयंकर रूप से प्रभावित करेगा।

तेज शंकर पालीवाल ने कहा कि रानी रोड व अलकापूरी में होटल व्यवसायी योजनाबद्ध तरीके से फतेहसागर पेटें में भराव भर जमीन निकलने की कोशिश कर रहे है। इसे तुरन्त रोकना होगा। नंदकिशोर शर्मा ने कहा कि पीछोला अधिकतम भराव तल के भीतर कई व्यवसाइयों ने कृषि के नाम पर मिट्टी भराव कर जमीन ऊंची उठाई है ताकि पानी वंहा तक नही पहुंच सके व निर्माण किया जा सके। यह गंभीर षड़यंत्र है।

अब पढ़ें उदयपुर टाइम्स अपने मोबाइल पर – यहाँ क्लिक करें

पल्लब दत्ता, रवि शर्मा ने कहा कि झील नदी पेटे व किनारों पर अधिक निर्माण से सतही व भूजल दोनों गंभीर रूप से प्रदूषित होते है। इस अवसर पर बारीघाट पर श्रमदान के दौरान मांस से भरा बैग निकला जिसकी सड़ांध से नंदकिशोर शर्मा, कुशल रावल, पल्लब दत्ता व अन्य श्रमदानी अस्वस्थ हो गए।श्रमदान में द्रुपद सिंह, राम लाल गहलोत, विनोद पालीवाल ने भी भाग लिया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal