कोरोना मुक्ति के लिए महादेव से भक्तों ने ऑनलाइन की अरज


कोरोना मुक्ति के लिए महादेव से भक्तों ने ऑनलाइन की अरज

नीलकंठ महादेव को सवा लाख महामृत्युंजय मंत्र जाप
 
कोरोना मुक्ति के लिए महादेव से भक्तों ने ऑनलाइन की अरज
UT WhatsApp Channel Join Now
रुद्री पाठ ओर विदेशी फूलों के श्रृंगार से रिझाया
 

उदयपुर। सावन के चौथे सोमवार को जहां उदयपुर के विभिन्न महादेव मंदिरों में पूजा-अर्चना हुई, वही शहर के यूआईटी के पास स्थित नीलकंठ महादेव  मंदिर में इस पावन मौके पर बेहद अनूठा आयोजन किया गया। आयोजन के तहत शिव भक्त लव श्रीमाली और लकी फ्लावर्स के गौरव माली सहित शिव भक्तों की टीम ने कोरोना महामारी से मुक्ति के लिए सवा लाख महामृत्युंजय मंत्र का जाप कर महायज्ञ किया इस विशेष मोके को लेकर नीलकंठ महादेव और संपूर्ण मंदिर परिसर को विदेशी फूलों से सजाया गया।

शिवभक्त लव श्रीमाली ने बताया कि कोरोना की महामारी से पूरा विश्व जूझ रहा है, ऐसे में महादेव को रिझाने के लिए उनके मंदिर को विदेशी फूलों से सजाया गया। सुबह 4 बजे 11 पंडितों द्वारा महामृत्युंजय मंत्र के जाप शुरू हुए, और इस महायज्ञ में भोलेनाथ से यह अरज की गई, कि जिस तरह उन्होंने समुद्र मंथन से निकले हलाहल विष को अपने कंठ में धारण कर संपूर्ण मानव जाति को बचाया वैसे ही इस कोरोना रूपी विष से संपूर्ण मानव जाति को बचाएं। 
 

शाम को 4 बजे लव श्रीमाली द्वारा पूर्ण विधि विधान के साथ रुद्री पाठ किया गया और आहुतियां दी गई

शिव भक्त लक्की फ्लावर्स के गौरव माली ने बताया कि नीलकंठ महादेव मंदिर में प्रवेश हेतु बेहद सुंदर स्वागत द्वार लगाया गया और पूरे परिसर को हॉलैंड, कोलंबिया ओर थाईलैंड से मंगवाए गए फूलों से बेहद खूबसूरती से सजाया गया। इसके साथ ही नीलकंठ महादेव को भी इन फूलों से श्रृंगारित किया गया। कोरोना वायरस का संक्रमण ना फैले और भक्त आसानी से इस पूरे धार्मिक आयोजन में शामिल हो, इसके लिए मंदिर के बाहर लगी एलईडी पर सैकड़ों भक्तों ने महादेव के दर्शन किए और कोरोना मुक्ति के लिए भी प्रार्थना की।

आयोजन के दौरान भीड़ इकट्ठा ना हो इसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूर्ण रूप से ध्यान रखते हुए मंदिर के बाहर तैनात सिक्योरिटी गार्ड ने भीड़ इकट्ठा होने नहीं दिया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal