पीसीपीएनडीटी के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन


पीसीपीएनडीटी के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

आईवीएफ सेंटर्स के संचालन कर्ताओं की बैठक

 
pspndt
UT WhatsApp Channel Join Now

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा पीसीपीएनडीटी के प्रभावी क्रिन्यावन हेतु जिला कलक्टर ताराचंद मीणा के  अध्यक्षता में जिले में संचालित समस्त आईवीएफ सेंटर्स के संचालकों की कलेक्टर सभागार में बैठक ली गई तथासोनोग्राफी केन्द्रो के संचालको एवं चिकित्सको के साथ एक दिवसीय कार्यशाला पंचायत समिति गिर्वा उदयपुर में आयोजित की गयी जिसमें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ शंकर एच बामनिया एवं अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ रागिनी अग्रवाल तथा आईएमए अध्यक्ष डॉ आनन्द गुप्ता एवं बेटी बचाओ बेटी पढाओ की ब्रांड एबसेडर डॉ दिव्यानी कटारा आदि उपस्थित रहे।

बैठक में वर्ष 2021-22 में जिले का लिंगानुपात 945 था जो बढ़कर 2022 में 956 हो गया है यह सब पीसीपीएनडीटी एक्ट के सख्ती एवं प्रभावी निगरानी के कारण ही संभव हुआ है। कार्यशाला में जिला कलक्टर ताराचंद मीणा द्वारा लिंगानुपात में सुधार हेतु निर्देश दिये गये एवं चिंता जताते हुए कहा कि शहरी क्षेत्र में ग्रामीण की तुलना में कम लिंगानुपात का होना चिंता का विषय है इसके लिये एक आवश्यक कार्य आयोजन तैयार कर कार्यवाही करने तथा नियमों का पालन नहीं करने वाले संस्थाओं के साथ सख्ती से कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ शंकर एच बामनिया ने बैठक का मुख्य उद्देश्य बताते हुए कहा कि यदि कोई केन्द्र पर लिंग परीक्षण कराने सम्बन्धी पुछताछ करता है तो इसकी सुचना व्हॉट्सअप नम्बर 979999795 पर दी जा सकती है एवं सरकार द्वारा संचालित मुखबिर योजना के तहत भ्रूण लिंग परीक्षण में लिप्त सेन्टर के बारे में सत्य सुचना पाये जाने पर प्रोत्साहन राशि 3 लाख रूपये में से मुखबिर गर्भवती महिला एवं सहयोगी को दी जाती है एवम पीसीपीएनडीटी एक्ट के बारे संपूर्ण जानकारी दी गई।

आईएमए अध्यक्ष डॉ आनंद गुप्ता ने सस्थान पर संधारित किए जाने वाले पीसीपीएनडीटी से सम्बन्धित समस्त रिकॉर्ड के बारे में विस्तृत जानकारी दी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य घटते लिंगानुपात पर रोक लगाना है। कार्यशाला में जिले में बेटी- बचाओ बेटी पढाओ की ब्रांड एंबसेडर डॉ दिव्यानी कटारा का स्वागत किया गया तथा उनके द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढाओ पर किये जा रहे कार्या पर चर्चा कर लिंगानुपात में सुधार हेतु की जाने वाली गतिविधियों में पूर्ण सहयोग जागरूकता हेतु निवेदन किया गया उनके द्वारा बताया गया कि. समाज में बेटी बचाने के लिये आम जन को जागरूक किया जा रहा है। 

डॉ रागिनी अग्रवाल के द्वारा एक्ट की कड़ाई से पालना की जा कर समाज में बेटे बेटी का भेद कम किया जा सकता है यह जानकारी दी गयी, कार्यशाला में दो बेटीयो पर नसबंदी कराये जाने वाली महिलाओ को महिला दिवस पर प्रोत्साहित किये जाने एवं महिला दिवस पर सप्ताहिक दिवस मनाये जाने सम्बन्धी चर्चा कि गयी। पीसीपीएनडीटी समन्वयक मनीषा भटनागर ने पीसीपीएनडीटी से सम्बन्धित पीपीटी के माध्यम से जानकारी के साथ जिले के समस्त ब्लॉक की लिंगानुपात के आंकड़े बताए । वर्क शॉप में जिला कार्यक्रम प्रबंधक सदाकत अहमद एव यूपीएम वैभव सरोहा शामिल थे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal