उदयपुर जिले में 14 स्थानों पर शुरू होगी इन्दिरा रसोई

उदयपुर जिले में 14 स्थानों पर शुरू होगी इन्दिरा रसोई

8 रुपये में मिलेगा भोजन

 
उदयपुर जिले में 14 स्थानों पर शुरू होगी इन्दिरा रसोई

उदयपुर संभाग में 41 रसोई होगी संचालित

उदयपुर, 19 अगस्त 2020। नगर निगम के आयुक्त कमर चौधरी ने कहा है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के संकल्प कि कोई भूखा ना सोए, को मूर्त रूप प्रदान करने के लिए उदयपुर जिले के पांच नगर निकायों में 14 स्थानों पर ‘इन्दिरा रसोई योजना’ का शुभारंभ 20 अगस्त, गुरुवार को किया जाएगा। इस रसोई में हर जरूरतमंद को मात्र 8 रुपये में गर्म और ताजा भोजन प्राप्त होगा।

चौधरी बुधवार को यहां जिला परिषद सभागार में ‘इंदिरा रसोई योजना’ के शुभारंभ की पूर्व संध्या पर आयोजित प्रेसवार्ता में मीडियाकर्मियों को संबोधित कर रहे थे।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि योजना के तहत नगरनिगम उदयपुर में 10 स्थानों पर तथा जिले के अन्य समस्त नगरपालिकाओं में एक-एक स्थान पर इस योजना का संचालन सेवाभावी स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से किया जाएगा। योजना के तहत लाभार्थी को भोजन के लिए 8 रुपये देने होंगे जबकि राज्य सरकार की तरफ से 12 रुपये का अनुदान दिया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि एमबी हॉस्पीटल में मानव सेवा समिति द्वारा निःशुल्क भोजन उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है।  

एडीएम (प्रशासन) ओ.पी.बुनकर और नगर निकाय क्षेत्रीय उपनिदेशक विनय पाठक की मौजूदगी में चौधरी ने योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए की जा रही तैयारियों के बारे में बताया और कहा कि संबंधित एजेंसियों को भोजन गुणवत्ता, कोरोना को देखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करने और सरकार के प्रावधानों के अनुसार योजना का संचालन करने को पाबंद किया गया है। उन्होंने बताया कि योजना की मोबाईल एप्प के माध्यम से भी ऑनलाईन मॉनिटरिंग की जा सकेगी और इसके माध्यम से कोई भी व्यक्ति यह जान सकेगा कि कौनसी रसोई में किस व्यक्ति ने भोजन किया है।

8 रुपये में मिलेगा भोजन:

नगर निगम आयुक्त कमर चौधरी ने बताया कि योजना के तहत नगर निगम के समस्त 10 इन्दिरा रसोई में 300-300 लोगों को तथा नगरपालिकाओं की इंदिरा रसोई में 150-150 लोगों को सुबह-शाम भोजन दिया जाएगा। जरूरतमंद व्यक्ति से किसी प्रकार का पहचान पत्र नहीं लिया जाएगा और उसके रसोई में पहुंचने पर फोटो खींचा जाएगा और 8 रुपये लेकर कूपन दिया जाएगा जिसके आधार पर उसे  रसोई में पूर्ण सम्मान के साथ बैठाकर भोजन कराया जाएगा।

जन्मदिन, वर्षगांठ पर भामाशाह करा सकेंगे भोजन:

आयुक्त चौधरी ने बताया कि इस रसोई के तहत कोई भी व्यक्ति अपने या परिजनों के जन्मदिन, शादी या अन्य वर्षगांठ पर दोपहर, रात्रि या दोनों समय का भोजन करा सकेंगे। इसके लिए उसे प्रति थाली 20 रुपये देने होंगे। इसके लिए भामाशाह को रजिस्टर्ड जिला स्तरीय इंदिरा रसोई के बैंक खाते या मुख्यमंत्री सहायता कोष में निर्धारित राशि जमा कराई जा सकती है। रसोई में दानदाता के सहयोग का उल्लेख भी किया जाएगा।  

यह रहेगा भोजन और समय:

प्रेसवार्ता में एडीएम (प्रशासन) ओ.पी.बुनकर ने बताया कि जिले की समस्त 14 इंदिरा रसोई में सुबह 8.30 से दोपहर 1 बजे तक तथा शाम को 5 बजे से रात्रि 8 बजे तक भोजन उपलब्ध हो सकेगा। इस भोजन में लाभार्थी को प्रति थाली 100 ग्राम दाल, 100 ग्राम सब्जी, 250 ग्राम चपाती तथा अचार दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि समय-समय पर जिला स्तरीय समिति द्वारा भोजन की गुणवत्ता की औचक जांच भी की जाएगी।

उदयपुर संभाग में 41 रसोई होगी संचालित:

नगर निकाय क्षेत्रीय उपनिदेशक विनय पाठक ने संपूर्ण संभाग में 41 इंदिरा रसोई के संचालन की जानकारी दी और कहा कि इंदिरा रसोई के चयनित स्थान पर ही किचन भी होगा ताकि लाभार्थियों को रियासती दर पर गरम व गुणवत्तायुक्त भोजन प्राप्त हो सके। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री की मंशाओं को पूरा करने के लिए समस्त नगर निकायों को योजना के प्रभावी संचालन के लिए निर्देश दिए जा चुके हैं। इस मौके पर योजना के जिला परियोजना प्रभारी शैली सिंह सोलंकी मौजूद थे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal