6 लाख में मासूम का सौदा, इंसानियत शर्मसार


6 लाख में मासूम का सौदा, इंसानियत शर्मसार

उदयपुर 2 अप्रैल 2019 शहर में कल एक मासूम दुधमुंही बच्ची को 6 लाख रूपये में बेचने के आरोपी दम्पति को सूरजपोल थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दम्पति को गिरफ्तार करने के बाद बच्ची को बाल कल्याण समिति के सदस्य हरीश पालीवाल के सुपुर्द किया। पालीवाल ने मासूम बच्ची को राजकीय शिशुगृह में रखवाने के आदेश दिए।

 
UT WhatsApp Channel Join Now

6 लाख में मासूम का सौदा, इंसानियत शर्मसार

उदयपुर 3 अप्रैल 2019 शहर में कल एक मासूम दुधमुंही बच्ची को 6 लाख रूपये में बेचने के आरोपी दम्पति को सूरजपोल थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दम्पति को गिरफ्तार करने के बाद बच्ची को बाल कल्याण समिति के सदस्य हरीश पालीवाल के सुपुर्द किया। पालीवाल ने मासूम बच्ची को राजकीय शिशुगृह में रखवाने के आदेश दिए।

सूरजपोल पुलिस थानाधिकारी रामसुमेर के अनुसार आरोपी दम्पति मोहम्मद सुब्हान पुत्र मोहम्मद हनीफ और उसकी पत्नी वीना उर्फ़ शगुफ्ता मूलतः चमनपुरा उदयपुर के रहने वाले है। चूँकि वीणा वाल्मीकि समाज की है इसलिए दोनों के परिवार वालो से दम्पति से नाता तोड़ रखा है। पिछले दो माह से यह अजमेर में रह रहे है। कल ही यह लोग उदयपुर पहुंचे और चम्पालाल धर्मशाला में कुछ लोगो से बातचीत बच्ची का 6 लाख में सौदा करने की फ़िराक में थे। वहीँ गांधीनगर निवासी मोहम्मद नौशाद ने शक के आधार पर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

Download the UT Android App for more news and updates from Udaipur

पुलिस को सूचित करने वाले नौशाद के अनुसार वह शाम को अपने ऑफिस में काम कर रहा था तभी उसके मित्र इम्तियाज़ हुसैन ने कॉल किया की चम्पालाल धर्मशाला में एक दम्पति लगभग आठ माह की बच्ची को 6 लाख में बेच रहे है। तभी नौशाद चम्पालाल धर्मशाला पहुंचा और दम्पति से बच्ची के बारे में पूछताछ की तो महिला ने बताया की यह बच्ची उसके बहन की है और इस बच्ची की माँ कहीं चली गई है इसलिए वह इसको बेचना चाहती है। बातचीत में ही नौशाद को बच्ची को चुराकर लाने का संदेह पैदा हो गया था। इसी दौरान नौशाद का दोस्त गौरव भावसार भी आ गया। गौरव ने दम्पति को अपनी बातो में उलझा के रखा तब तक नौसाद ने पुलिस को सूचित कर लिया।

पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ की तो महिला ने बताया की अजमेर में एक लाचार अज्ञात महिला ने उन्हें बच्ची को पालने के लिए सौंपा है। लेकिन आगे पूछताछ में विरोधाभासी बयान होने से प्रथम दृष्टतया बच्ची को चुराकर लाने की आशंका है। पुलिस ने अजमेर के थानों में सूचन भेजी है। हालाँकि अभी तक पता नहीं चल पाया बच्ची के असली माँ बाप कौन ? बीएः बच्चा शोरी का मामला है या किसी ने मजबूरी में या किसी लालच में आकर मासूम का सौदा किया है ?

Source: Rajasthan Patrika

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal