गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल, उदयपुर में कोविड- 19 की जाँच प्रारंभ

गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल, उदयपुर में कोविड- 19 की जाँच प्रारंभ

गीतांजली हॉस्पिटल कोविड-19 की जाँच सुविधा को उपलब्ध कराने वाला सम्पूर्ण दक्षिणी राजस्थान का पहला मेडिकल कॉलेज एवं मल्टी सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बन गया है।
 
गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल, उदयपुर में कोविड- 19 की जाँच प्रारंभ
गीतांजली माइक्रोबायोलॉजी विभाग के एच.ओ.डी डॉ. ए.एस. दलाल व वायरोलोजी इंचार्ज डॉ. उपासना भूम्बला व डिप्टी इंचार्ज डॉ. प्रग्नेश तथा 6 साइंटिफिक ऑफिसर द्वारा आर.टी.पी.सी.आर लैब का क्रियान्वन किया जायेगा जिससे कि लोगों को शीघ्र से शीघ्र कोरोना जाँच की रिपोर्ट मुहैया करवाई जा सकेगी। 

उदयपुर। आज कोरोना काल के समय में गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल, उदयपुर ने अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए (एन.ए.बी.एल) नेशनल एकरेडिएशन बोर्ड फॉर  टेस्टिंग एंड कैलिब्रेशन लैबोरेट्रीज से मान्यता प्राप्त कर एक बहुत ही महत्वपूर्ण कदम को आगे बढ़ाया है। जैसा कि विदित है गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल, उदयपुर ने (एन.ए.बी.एच) नेशनल एकरेडिएशन बोर्ड फॉर हॉस्पिटल्स एंड हेल्थ केयर प्रोवाइडर्स की मान्यता भी दक्षिण संभाग में सर्वप्रथम प्राप्त कर कीर्तिमान स्थापित किया है। 

गीतांजली हॉस्पिटल कोविड-19 की जाँच सुविधा को उपलब्ध कराने वाला सम्पूर्ण दक्षिणी राजस्थान का पहला मेडिकल कॉलेज एवं मल्टी सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बन गया है। गीतांजली हॉस्पिटल में कोविड-19 की जाँच प्रारम्भ हो चुकी है अब एक ही दिन में कोरोना की जाँच के परिणाम प्राप्त किये जा सकेंगे।  गीतांजली हॉस्पिटल में सम्पूर्ण सावधानी के साथ कोरोना के सभी नियमों का पालन सतर्कता के साथ किया जा रहा है और साथ ही निरन्तर रूप से हॉस्पिटल परिसर व प्रत्येक विभाग को सेनीटाइज़ किया जा रहा है।   

सी.ई.ओ प्रतीम तम्बोली ने बताया कि गीतांजली हॉस्पिटल हमेशा अग्रणी रूप से हेल्थकेयर, गुणवत्ता एवं शोध पर ध्यान देता आया है व अपनी जिम्मेदारियों को निभाता आया है। ऐसे में गीतांजली हॉस्पिटल में कोरोना की जाँच (आर.टी.पी.सी.आर) रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन पॉलीमर्स चेन रिएक्शन लेब जो कि आई.सी.एम.आर, एन.ए.बी.एल, सी.ई, आई.वी.डी, व यू.एस एफ.डी.ए मानकों द्वारा अधिकृत है द्वारा बहुत ही ध्यानपूर्वक की जा रही है। 

गीतांजली माइक्रोबायोलॉजी विभाग के एच.ओ.डी डॉ. ए.एस. दलाल व वायरोलोजी इंचार्ज डॉ. उपासना भूम्बला व डिप्टी इंचार्ज डॉ. प्रग्नेश तथा 6 साइंटिफिक ऑफिसर द्वारा आर.टी.पी.सी.आर लैब का क्रियान्वन किया जायेगा जिससे कि लोगों को शीघ्र से शीघ्र कोरोना जाँच की रिपोर्ट मुहैया करवाई जा सकेगी। 

डॉ. ए.एस. दलाल ने कहा कि गीतांजली हॉस्पिटल ने हालाँकि चिकित्सा के क्षेत्र में कई कीर्तिमान स्थापित किये हैं परन्तु आज जो वातावरण कोरोना की वजह से बन चुका है उसमे गीतांजली हॉस्पिटल का ये अथक प्रयास जन हित में बहुत महत्वपूर्ण है|

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गीतांजली मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल पिछले सतत् 13 वर्षों से विश्वस्तरीय चिकित्सा सेवाएँ उपलब्ध कराता आया है| आज कोरोना की जाँच को शुरू कर फिर से गीतांजली हॉस्पिटल ने अपना लोहा मनवाया है|  
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal