मस्तान बाबा का 4 दिवसीय उर्स 12 सितंबर से

मस्तान बाबा का 4 दिवसीय उर्स 12 सितंबर से 

उर्स के सभी आयोजन में मस्तान बाबा दरगाह के मुख्य ट्रस्टी सदर पूर्व केंद्रीय मंत्री कर्नाटक जेडीएस पार्टी के अध्यक्ष सीएम इब्राहिम मौजूद रहेंगे
 
mastan baba urs

उदयपुर 9 सितंबर 2023।  आगामी 12 सितंबर से 15 सितंबर तक सैयद ख्वाजा मोहम्मद अब्दुल रऊफ उर्फ मस्तान बाबा का 4 दिवसीय 26 वा उर्स बड़ी धूमधाम से मनाया जाएगा।  

मस्तान बाबा दरगाह के कार्यवाहक सदर सज्जाद हुसैन साबरी ने बताया कि उर्स में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी हजारों की संख्या में जायरीन (श्रद्धालु) पूरे देश के अलग-अलग प्रदेशों से बड़ी अकीदत के साथ शामिल होंगे। सर्व धर्म समभाव और कौमी एकता की प्रतीक मस्तान बाबा की दरगाह से हमेशा मोहब्बत का पैगाम पूरी इंसानियत में फैलाया जाता है। 

उर्स के सभी आयोजन में मस्तान बाबा दरगाह के मुख्य ट्रस्टी सदर पूर्व केंद्रीय मंत्री कर्नाटक जेडीएस पार्टी के अध्यक्ष सीएम इब्राहिम मौजूद रहेंगे उर्स के दौरान सुबह और शाम आने वाले ज़ायरीनों के लिए दरबार में आम लंगर का इंतजाम रहेगा। 

उर्स के पहले दिन 12 सितंबर शाम 6:00 बजे बाद नमाज अजमेर शरीफ सरकार गरीब नवाज रहमतुल्लाह अलैह की चादर गरीब नवाज के खादिम हज़रात की जानिब से पेश की जाएगी। अहले मोहल्ला मल्ला तलाई की जानिब से जुलूस के साथ चादर और परचम पेश किया जाएगा। दरगाह ट्रस्ट की जानिब से परचम कुशाई की जाएगी एवं रात्रि ईशा की नमाज के बाद 9:30 बजे महफिले मिलाद का आयोजन किया गया है जिसमें हिंदुस्तान के मशहूर खतीब जनाब   अल्लामा अहमद नक्शबंदी साहब हैदराबादी और गुजरात के गोंडल निवासी हिंदुस्तान के मशहूर नातख्वाह जनाब शब्बीर बरकाती और मुकामी आलिम और नातख्वाह तशरीफ़ लाएंगे।

उर्स के दूसरे दिन 13 सितंबर को बद नमाज ईशा 9:30 बजे मशहूर कव्वाल दानिश मोनीश, मोहम्मद असलम साबरी, नजीर नियाजी, रफीक मस्ताना वारसी सूफियाना कलाम पेश करेंगे।

उर्स के तीसरे दिन 14 सितंबर बाद नमाज जोहर दोपहर 2:30 बजे मस्तान बाबा ट्रस्ट की जानिब से चादर शरीफ पेश की जाएगी बाद नमाज जोहर आयड़ छिपा मोहल्ले से जुलूस के साथ चादर शरीफ लाई जाएगी जिसे असर की नमाज के बाद पेश किया जाएगा। बाद नमाज असर मोहल्ला खांजीपीर से भी जुलूस के साथ दरबार में चादर शरीफ पेश की जाएगी एवं कव्वाली का आयोजन किया जाएगा।

उर्स के चौथे दिन 15 सितंबर बाद नमाज जुमा 1.45 कुल की रस्म अदा की जाएगी जिसमें महफिले समा कव्वाली पेश होगी जिसमें रंग पड़ा जाएगा ओर फातिहा के बाद दुआ की जाएगी दोपहर 4 बजे कुल के छीटे के बाद उर्स का समापन किया जाएगा।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal