वक्त बदलें, स्पीड से बदलें लेकिन संस्कार न बदलें:भारील्ल

वक्त बदलें, स्पीड से बदलें लेकिन संस्कार न बदलें:भारील्ल

भौतिक युग में संस्कार विषय व्याख्यान पर बोलें अंतर्राष्ट्रीय मोटिवेशनल स्पीकर एस.पी.भारील्ल

 
s p bharilla

उदयपुर । अंतर्राष्ट्रीय मोटिवेशनल स्पीकर, इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी अवॉर्ड से सम्मानित, लेखक एवं उद्यमी एस.पी.भारिल्ल ने कहा कि जीवन में कुछ परिवर्तन होना चाहियें लेकिन हम जो चाह रहें वो कर नहीं पा रहें है। मैं बदलते जमानें का विरोधी नहीं हूं, लेकिन जमानें के साथ जो संस्कार बदलते जा रहे है उसका विरोधी हूं।

वे आज महावीर जन्म कल्याणक के पूर्व दिवस पर अखिल भारतीय जैन युवा फैडरेशन राजस्थान एवं दिनते युवम् संस्थान उदयपुर के संयुक्त तत्वाधान में टाउनहॉल के ठसाठस भरे सुखाड़िया रंगमंच सभागार में आयोजित भौतिक युग में संस्कार विषय पर बोल रहे थे। 

उन्होंने कहा कि वक्त बदलें, और स्पीड से बदलें लेकिन उसके साथ संस्कार नहीं बदलनें चाहिये। उन्होंने बच्चों को उस जमानें के पोस्टकार्ड व अन्तर्देशीय पत्र की जानकारी दी तो बच्चों के चेहरों से हवाईयां उड़नें लगी। उन्होंने कहा कि जो मजा खत लिखनें व पढ़नें में आता था वह आज के जमानें के वॉट्सअप पर चेटिंग में नहीं आ सकता है। वाट्सअप को उस मजें को लाने में 100 साल भी लग जायेंगे लेकिन वह नहीं ला सकेगा। हम संस्कारों को भूलते जा रहे है। पुरानी बातें हमें याद नहीं रहती है।

बच्चों को जितनी जरूरत मां-बाप की होती है उतनी ही जरूरत दादा-दादी की भी होती है। बच्चा जब दादा-दादी के साथ सोता है तो दादी उसे कहानियां सुनाकर उसमें संस्कार का बीजारोपण करती है। जब भारील्ल ने पुरानी बातों को लेकर जनता को याद दिलाया तो उनके हर शब्द पर दर्शक हँसे और तालियों की दाद दिये बिना नहीं रह सके। उन्हेांने पुरानें लोगों से कहा कि जमानें को गालियां देना बदं करें, जनरेशन गेप की बातें करना बंद कर नहीं तो युवा पीढ़ी उन्हें गालियां देना शुरू कर देगी, उन्हें बदलते जमानें को स्वीकार कर आगे बढ़ना चाहिये।

प्रारम्भ में अखिल भारतीय जैन युवा फैडरेशन राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष डॉ.जिनेन्द्र शास्त्री ने अपने स्वागत उद्बोधन में कहा कि हमें कार्य ऐसा करना चाहिये कि वो इतिहास बनें।

भारील्ल भारत गौरव से आलंकृत 

समारोह में एस.पी.भारील्ल को समारोह के मुख्य अतिथि मुख्य अतिथि एसआरजी ग्रुप के चेयरमैन एवं अखिल भारतीय पुलक जन चेतना मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद, शांतिलाल वेलावत, उप महापौर पारस सिंघवी, ताराचंद जैन, राजकुमार फत्तावत, रणजीत सिंह सोजतिया, बसंतीलाल जैन थाया, श्याम. एस. सिंघवी, डॉ. जिनेन्द्र शास्त्री, दिनते युवम संस्था के जिलाध्यक्ष हेमंत जैन ने पगड़ी पहनाकर, उपरना ओढ़़ाकर स्मृतिचिन्ह एवं प्रशस्ति प्रदान कर भारत गौरव अलंकरण से सम्मानित किया।

समारोह में शाश्वत धाम की बालिकाओं ने भक्ति गीत व शुद्धि जैन परी जैन ने प्रेरणामयी गीत की प्रस्तुति दी। समारोह में जादूगर आंचल ने कुछ जादुई करतब दिखाकर दर्शकों का मनोरंजन किया। कार्यक्रम में के.के.गुप्ता, प्रकाश अग्रवाल, प्रमोद सामर, गेंदालाल फांदोत सहित अनेक अतिथि मौजूद थे। 

कार्यक्रम का संचालन आलेाक पगारिया व आनन्द ने किया। प्रारम्भ में आयोजकों की ओर से अतिथियों का स्वागत किया गया। अंत में दिनते युवम संस्था के अध्यक्ष हेमंत जैन ने आभार ज्ञापित किया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal