कुर्बानी की रस्म के साथ मुस्लिम समुदाय ने उल्लास से मनाई ईदुलजुहा

कुर्बानी की रस्म के साथ मुस्लिम समुदाय ने उल्लास से मनाई ईदुलजुहा

अल्लाह की राह में अपनी सबसे प्यारी चीज़ को भी क़ुरबान करने से नहीं हिचकिचाने की सीख देने वाला पर्व ईदुलजुहा मुस्लिम समुदाय ने सोमवार को अकीदत के साथ मनाया। सुबह-सुबह ईद की मुख्य चेतक स्थित पल्टन मस्जिद समेत शहर की सभी मस्जिदों में ईद की नमाज अदा की गई। उसके बाद घरों में कुर्बानी की रस्म अदा की गई और कुर्बानी का तबर्रुक रिश्तेदारों, परिचितों सहित जरूरतमंदों को तकसीम किया गया। इससे पूर्व, सुबह फजर की नमाज के बाद मरहूमों की मगफिरत में कब्रिस्तान जाकर फातिहा पढ़ी गई।

 

कुर्बानी की रस्म के साथ मुस्लिम समुदाय ने उल्लास से मनाई ईदुलजुहा

उदयपुर 12 अगस्त 2019। अल्लाह की राह में अपनी सबसे प्यारी चीज़ को भी क़ुरबान करने से नहीं हिचकिचाने की सीख देने वाला पर्व ईदुलजुहा मुस्लिम समुदाय ने सोमवार को अकीदत के साथ मनाया। सुबह-सुबह ईद की मुख्य चेतक स्थित पल्टन मस्जिद समेत शहर की सभी मस्जिदों में ईद की नमाज अदा की गई। उसके बाद घरों में कुर्बानी की रस्म अदा की गई और कुर्बानी का तबर्रुक रिश्तेदारों, परिचितों सहित जरूरतमंदों को तकसीम किया गया। इससे पूर्व, सुबह फजर की नमाज के बाद मरहूमों की मगफिरत में कब्रिस्तान जाकर फातिहा पढ़ी गई।

ईदुलजुहा पर सभी मुस्लिम मोहल्लों में खुशी का माहौल रहा। मुख्य नमाज चेतक सर्कल स्थित पलटन मस्जिद पर सुबह 8.00 बजे हुई। पलटन मस्जिद के इमाम मौलाना मुर्तजा हुसैन ने नमाज अदा करवाई। उन्होंने ईद की नमाज से पूर्व तकरीर पेश करते हुए कहा कि कौम में इंकलाब लाना है तो अपने बच्चों को दीन-दुनियावी तालीम दिलाने पर ज्यादा से ज्यादा जोर देना होगा। बेटियों को भी अच्छी तालीम देना फर्ज है। दुनिया आज हमारे समुदाय को जिस नजरिये से देख रही है, उसे बदलने के लिए दीन-दुनियावी तालीम जरूरी है, इसी से बदलाव संभव होगा। उन्होंने मुस्लिम समुदाय के उन होनहारों की तारीफ की जो अच्छी तालीम पाकर विभिन्न क्षेत्रों में कौम और देश का नाम रोशन कर रहे हैं। उन्होंने हुजूरे पाक की सुन्नतों पर अमल करने पर जोर दिया।

कुर्बानी की रस्म के साथ मुस्लिम समुदाय ने उल्लास से मनाई ईदुलजुहा

मुस्लिम महासंघ के प्रवक्ता मोहम्मद छोटू कुरैशी ने बताया कि मुस्लिम महासंघ की ओर से पलटन की मस्जिद पर ईद की मुख्य नमाज के बाद जिला कलक्टर आनंदी, जिला पुलिस अधीक्षक कैलाश विश्नोई, एएसपी गोपालस्वरूप मेवाड़ा व अन्य अधिकारियों को मुबारकबाद दी गई। इस दौरान अंजुमन सदर खलील मोहम्मद, नायब सदर मुनव्वर अहमद, पलटन मस्जिद के सेक्रेटरी मोहम्मद रियाज, मुस्लिम महासंघ के संस्थापक हाजी मोहम्मद बख्श उर्फ प्यारे भाई, संयोजक हाजी मोहम्मद हनीफ, पूर्व पार्षद मोहम्मद नासिर, मोहम्मद अयूब खान, कांग्रेस मीडिया सेंटर प्रवक्ता फिरोज शेख, डॉ. जुल्फिकार काजी सहित मुस्लिम समाज के गणमान्य उपस्थित थे।

कुर्बानी की रस्म के साथ मुस्लिम समुदाय ने उल्लास से मनाई ईदुलजुहा

ईद की नमाज के पूर्व इमाम साहब ने नमाज का तौर-तरीका, नमाज का महत्व बताया। उन्होंने बताया कि कुर्बानी के तबर्रुक के तीन हिस्से होते हैं। एक हिस्सा गरीब मिस्किन जिनका कोई नहीं होता उन्हें प्रदान किया जाता है, दूसरा हिस्सा अपने रिश्तेदारों व पड़ोसियों में बांटा जाता है और तीसरा हिस्सा परिवार का होता है। नमाज के बाद खुत्बा पढ़ा गया। फिर सभी ने एक-दूसरे को गले लगकर ईद की मुबारकबाद दी और घर जाकर कुर्बानी की रस्म अदा की।

कुर्बानी की रस्म के साथ मुस्लिम समुदाय ने उल्लास से मनाई ईदुलजुहा

पल्टन मस्जिद के इमाम मुर्तज़ा साहब ने इस मौके पर बेहतरीन इंतजामात के लिए पुलिस-प्रशासन, नगर निगम आदि विभागों का शुक्रिया अदा किया।

कुर्बानी की रस्म के साथ मुस्लिम समुदाय ने उल्लास से मनाई ईदुलजुहा

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal