भारत के चमकते सितारे पुस्तक में शहर के आर सी मेहता ने देश में 59 वें स्थान पर बनाई जगह


भारत के चमकते सितारे पुस्तक में शहर के आर सी मेहता ने देश में 59 वें स्थान पर बनाई जगह

समाज के लिए समर्पित रहे ऐसे 108 महानुभाव में उदयपुर के ’रक्तवीर समाजसेवी आर सी मेहता’ को 59वें स्थान पर जगह प्रदान कर शहर को गोरवांवित किया है। 

 
R C Mehta
UT WhatsApp Channel Join Now

मेहता 21 वर्षों से विश्व के सबसे बड़े संगठन जैन सोशल ग्रुप्स इंटरनेशनल फेडरेशन, मुंबई से जुड़े हुए हैं एवम वर्तमान में वो राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पर अपनी सेवाए दे रहे है।

उदयपुर। वर्धमान विश्व जैन महासंघ ट्रस्ट, जैन समाचार मंच एवं श्री महावीर चौरिटेबल ट्रस्ट द्वारा प्रकाशित पुस्तक ’भारत के चमकते सितारे द्वितीय-पुष्प 2021’ में सम्पूर्ण भारत वर्ष में निवासरत जैन समाज की 108 सफल, सेवा भावी विभूतियों के योगदान एवं उनकी विशिष्ट उपलब्धियों के साथ उनका जीवन परिचय प्रकाशित किया है।

इसमें विभिन्न क्षेत्रों में मानव कल्याण के प्रति निस्वार्थ सेवा भावना के साथ अपनी सक्रिय सेवाएं प्रदान की हैं। समाज के लिए समर्पित रहे ऐसे 108 महानुभाव में उदयपुर के ’रक्तवीर समाजसेवी आर सी मेहता’ को 59वें स्थान पर जगह प्रदान कर शहर को गोरवांवित किया है। 

मेहता 21 वर्षों से विश्व के सबसे बड़े संगठन जैन सोशल ग्रुप्स इंटरनेशनल फेडरेशन, मुंबई से जुड़े हुए हैं एवम वर्तमान में वो राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पर अपनी सेवाए दे रहे है। मेहता इससे पूर्व मेवाड़ रीजन के चेयरमैन रहे है तथा उनको वर्ष 2021 में बेस्ट रीजन चेयरमैन का राष्ट्रीय स्तर पर अवार्ड मिल चुका है। 

मेहता को रक्तदान के क्षेत्र में जिला ,राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर अनेक सम्मान प्राप्त हुए है। मेहता वर्तमान में कई सामाजिक संगठनों से जुड़ कर अपनी सेवाएं दे रहे हे। उन्होंने वर्ष 2012 में रक्तदान के क्षेत्र में प्रथम जेएसजी ब्लड डोनेशन हेल्प लाइन की स्थापना की है। इस हेल्प लाईन के माध्यम से 3500 से अधिक ब्लड यूनिट की व्यवस्था कर कई रोगियों को जीवन दान दिलाया है।

मेहता ने हाल ही में सभ्य समाज में टूट रहे रिश्तों को पुनः जोड़ने,बढ़ रहे तलाक को रोकने एवं रिश्तों को जोड़ने हेतु टूटते परिवार बिखरते रिश्ते-एक कदम आदर्श परिवार की ओर नामक एक पुस्तक का प्रकाशन किया हैं।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal