एसपी डॉ राजीव पाचार ने की दुकानों और प्रतिष्ठानो पर सीसीटीवी कैमरे लगवाने की अपील

एसपी डॉ राजीव पाचार ने की दुकानों और प्रतिष्ठानो पर सीसीटीवी कैमरे लगवाने की अपील

जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा सूरजपोल थाना पर ली गई व्यापारियों एवं पुलिस मित्रो की जनसम्पर्क मीटिंग 

 
एसपी डॉ राजीव पाचार ने की दुकानों और प्रतिष्ठानो पर सीसीटीवी कैमरे लगवाने की अपील
उन्होंने सीसीटीवी कैमरों का महत्व बताते हुए कहा की इससे न सिर्फ दुकानदारों की सुरक्षा संभव होगी वहीँ अपराधियों पर लगाम कसने में पुलिस को आसानी होगी। 

उदयपुर 18 जनवरी 2021। शहर के सूरजपोल थाना परिसर में जिले के नए पुलिस अधीक्षक डॉ राजीव पाचार ने अपने पहले जनसंवाद के दौरान शहर के दुकानदारों से अपने प्रतिष्ठान पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की अपील की। उन्होंने सीसीटीवी कैमरों का महत्व बताते हुए कहा की इससे न सिर्फ दुकानदारों की सुरक्षा संभव होगी वहीँ अपराधियों पर लगाम कसने में पुलिस को आसानी होगी। 

उन्होंने कहा की ज्यादातर ठगी के मामले सुनार की दुकानों से देखने को मिलते है उन्हें खासतौर से अन्दर और बाहर दोनों जगह कैमरे लगाना चाहिए। यदि किसी भी आमजन को किसी भी तरह की परेशानी होती है तो उसकी सुचना तुरंत नज़दीकी थाने में आकर दे हम आपके लिए हमेशा तैयार रहेगें।  

पुलिस अधीक्षक राजीव पचार ने आमजन को हो रही यातायात से परेशानी पर भी सूरजपोल थाना के सीएलजी मेंबर्स, विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों से सुझाव मांगे। उन्होने सभी व्यापारियों और पत्रकारों से सुझाव लिए कि शहर में किस तरह की ट्राफिक व्यवस्था होनी चाहिए। वहीं रोड सेफ्टी, हेलमेट, शराब पीकर वाहन चलाने पर किस तरह पाबंदी लगाई जा सकती है। 

पुलिस अधीक्षक राजीव पचार ने बताया कि इस शहर से मेरा काफी लगाव रहा है। उन्होंने प्रशिक्षण काल में सबसे पहले सूरजपोल थाने में अपनी सेवाए दी थी. इसी वजह से जनसंवाद की पहली मीटिंग की शुरुआत सूरजपोल थाना से की। और कहा कि इस मिटिंग का मकसद था कि जनता को पुलिस से क्या आकाक्षाएं है। और पुलिस उनके लिए किस तरह मदद कर सकती है। 

शहर के यातायात सम्बन्धी सवालों के जवाब में उन्होने कहा की सभी व्यापारियों और पत्रकारों से सुझाव लिए कि शहर में किस तरह की ट्राफिक व्यवस्था होनी चाहिए। वहीं रोड सेफ्टी, हेलमेट, शराब पीकर वाहन चलाने पर किस तरह पाबंदी लगाई जा सकती है। 

वहीँ ऑनलाइन ठगी के मामलो में बताया की सबसे ज्यादा मामले ऑनलाइन ठगी के होते है। ऑनवाइन ठगी को हम किस तरह दूर कर सकते है। इसके लिए जनता को स्वंय भी जागरूक रहना होगा, उन्होंने आमजन से अपील करते हुए बताया की अपनी बैंकिंग सम्बन्धी डिटेल से किसी से शेयर न करे और फ़र्ज़ी कॉल के ज़रिये लालच में न आये, वहीँ ठगी होने पर तुरंत बैंक को पुलिस को सूचित करे ताकि नुक्सान से बचा जा सके।  

इस अवसर पर एडिशनल एसपी (शहर) गोपालस्वरूप मेवाड़ा, डीएसपी (महिला अपराध अनुसन्धान प्रकोष्ठ) चेतना भाटी, सूरजपोल थानाधिकारी रामसुमेर मीणा, डीएसटी प्रभारी योगेश चौहान, सूरजपोल थाना का समस्त स्टाफ एवं पुलिस मित्रो के साथ सुरजपोल थाना के सीएलजी सदस्य, विभिन्न व्यापारी संगठनों के पदाधिकारी एवं गणमान्य लोग मौजूद थे।   

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal