होर्डिग व बेनर लगाने से पेंटर्स कलाकार पर बेरोजगारी का संकट

होर्डिग व बेनर लगाने से पेंटर्स कलाकार पर बेरोजगारी का संकट 

बेनर फलेक्स, विनाईल, रेट्रो (प्लास्टिक) मुक्त उदयपुर बनाने के लिए जिला कलक्टर चेतन देवड़ा को सौपा ज्ञापन

 
poster banners

ग्राम पंचायतों आगंनवाड़ी, स्वास्थ्य विभाग, जल संसाधन विभाग, पी. डब्ल्यू.डी के नेशनल हाईवे पर होर्डिंग व बैनर लगाए जा चुके है, जिससे सभी पेंटर्स कलाकारों का आर्थिक शोषण हो रहा है

कोरोना महामारी की दूसरी लहर में कई लोगों के रोजगार संकट में आ गया है।  बेनर फलेक्स, विनाईल, रेट्रो (प्लास्टिक) मुक्त उदयपुर बनाने के लिए भारतीय कलाकार संघ-उदयपुर ने जिला कलक्टर चेतन देवड़ा को ज्ञापन सौपा। भारतीय कलाकार संघ का कहना है कि उदयपुर जिले में सभी सरकारी विभागों में पेंटिंग की जगह फ्लेक्स विनाईल रेट्रो (प्लास्टिक) लगाए जा रहे है। जैसे ग्राम पंचायतों आगंनवाड़ी, स्वास्थ्य विभाग, जल संसाधन विभाग, पी. डब्ल्यू.डी के नेशनल हाईवे पर होर्डिंग व बैनर लगाए जा चुके है। जिससे सभी पेंटर्स कलाकारों का आर्थिक शोषण हो रहा है।

वहीं राजकीय संपत्ति का दुरुपयोग हो रहा है। यह सभी प्लास्टिक बैनर बहुत कम समय में खराब भी हो रहे है। और जनता तक संदेश पहुंचने से पहले ही नष्ट हो जाते है। वहीं वॉल पेंटिंग सालों तक चलती है। प्लास्टिक युक्त बैनरों से पर्यावरण भूमि दूषित हो रही है। मवेशियों के उक्त फटे हुए बैनरों को खाने से मवेशी भी मर रहे है।

कोविड के महामारी के दौरान सभी पेंटर्स ने पूरे भारत वर्ष में स्वंय के खर्चे से नि:शुल्क नारे लेखन एवं चित्रकारों के जरिए आम जनता को जागरुक कर सरकार को सहयोग किया जैसे लॉकडाउन की पालन करें, पुलिस प्रशासन क साथ दें, दूरी बनाए कोरोना भगाए, सोशल डिस्टेसिंग की पालना करें, मुंह पर मास्क लगाए जैसी चित्राकारी एवं नारे लिखकर दिवारों पर और सड़को पर पेंटिग बनाकर आम जनता को संदेश दिया।

सभी पेंटर्स ने मांग की समस्त ग्राम पंचायतों और शहरों में लगे सरकारी विभागों में होर्डिंग फ्लेक्स, विनाईल को बन्द किया जाए। हाथ की कला को अहमियत दी जाए। इससे सभी गरीब श्रमिक पेंटर्स लोगों को रोजगार प्राप्त होगा।       

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal