कुुल की रस्म के साथ उर्से गंज शहीदा का हुआ समापन

कुुल की रस्म के साथ उर्से गंज शहीदा का हुआ समापन

आए आए गंज शहीदा घर आए

 
dargaah

कव्वाल असरार इकरार चिश्ती कपासन वालों ने लाज रखलो शर्म आपके हाथ है गंज शहीदा... सहित कई कलाम पेश किए

उदयपुर। शहर के अम्बावगढ स्थित दरगाह हजरात गंज शहीदा बाबा के चल रहे तीन दिवसीय 73वें उर्स का समापन कुल की रस्म के साथ हुआ। दरगाह कमेटी के सैके्ट्री शराफत हुसैन ने बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी गंज शहीदा बाबा का तीन दिवसीय उर्स मनाया गया। जिसमें उर्स के चलते विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये।

वहीं बुधवार को दोपहर नमाजे ज़ौहर के बाद महफिले समां का आयोजन किया गया, जिसमें उदयपुर के कव्वाल मस्ताना अखलाक सुलतानी ने मनकबते गरीब नवाज़ व गंज शहीदा बाबा की शान में आए आए गंज शहीदा घर आए... कलाम पेश समाईन की दाद हासिल की।

कव्वाल असरार इकरार चिश्ती कपासनवालों ने लाज रखलो शर्म आपके हाथ है गंज शहीदा... सहित कई कलाम पेश किए। सायं बाद नमाजे अस्र रंग पढा गया। मौलाना बाबुल हुसैन व मौलाना वसीम रज़वी ने फातिहा-ख्वानी की और मुल्क की तरक्की के लिए, मुल्क में अमन-चैन, आपसी भाईचारे के लिए, कोरोना महामारी से आमजन के बचाव के लिए दुआएं की गई।

इस अवसर पर मुश्ताक खान, नफीस खान, राजा कादरी, शफाकत हुसैन, इश्तियाक खान, आरिफ खान, मोहसिन हैदर, छन्नु खान, काबुल हुसैन, साहिल शेख, अब्दुल रेहमान खान सहित कमेटी के अन्य सदस्य उपस्थित रहे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal