हजरत गंज शहीदा बाबा के उर्स का आगाज

हजरत गंज शहीदा बाबा के उर्स का आगाज

होगी महफिले समां में कव्वालियां

 
urs hazrat ganj shaheeda

उदयपुर 20 दिसंबर 2023। अम्बावगढ़ स्थित दरगाह हजरत गंज शहीदा बाबा के तीन दिवसीय 75वें उर्स का आगाज बुधवार को दरगाह परिसर में स्थित बुलंद दरवाजे पर परचम कुशाई की रस्म के साथ हुआ। 

दरगाह कमेटी के सदर गुलाम मोइनुद्दीन कादरी राजा भाई ने बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी गंज शहीदा बाबा का तीन दिवसीय उर्स मनाया जा रहा है जिसमें विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। उर्स के चलते पहले दिन बुधवार नमाजे फज्र के बाद प्रातः 7:00 बजे कुरआन ख्वानी का आयोजन किया गया। उसके बाद दिनभर दरगाह पर आने वाले अकीदतमंदों द्वारा दरगाह पर फूल, चादर, इत्र पेश किए व तबर्रूक का वितरण किया। 

मोहसिन हैदर ने बताया कि बुधवार सायं अम्बावगढ कच्ची बस्ती से परचम को लेकर आस्ताना-ए-आलिया पर अकीदतमंद हजरात पहुंचे। अस्र की नमाज के बाद सायं 5.00 बजे परचम कुशाई की रस्म को अदा किया गया। 

hazrat baba ganj

इस अवसर पर गुलाम मोइनुद्दीन कादरी राजा भाई, जावेद खान, नफीस खान, इरफान खान छन्नू, युसूफ खान, शौकत हुसैन, इंतखाब आलम, साहिल शेख, बिलाल खान, अरबाज खान, मोहम्मद रईस, समदानी, शादाब रजा सहित कमेटी के अन्य मेम्बरान व सैंकड़ों जायरीन मौजूद रहे। 

रात्रि में महफिले मिलाद का आयोजन  

उर्स के चलते पहले दिन बुधवार रात्रि महफिले मिलाद का आयोजन किया जाएगा । जिसकी शुरुआत मौलाना बाबुल हुसैन ने कलामे पाक की तिलावत से करेंगे । उसके बाद शहर भर के नातख्वां हजरात ने हम्द, नात व मनकबत पड़ेंगे ।

महफिले समां में होगी कव्वालियां 

दरगाह कमेटी के सेक्रेट्री जावेद खान ने बताया कि गुरुवार रात्रि बाद नमाज इशा महफिले समां में कव्वाली का प्रोग्राम आयोजित किया जायेगा। उर्स में मेहमाने खुसुसी पिंडवाड़ा के हजरत सूफी सैयद मकसूद अली कादरी चिश्ती अबुलउलाई मौजूद रहेंगे।

यूपी-रामपुर के दरबारी कव्वाल सुफी जावेद रामपुरी, उदयपुर के दस्तारबंद कव्वाल रफीक मस्ताना वारसी, मस्ताना अखलाक सुल्तानी अपने कलाम पेश करेंगे। रात्रि को उर्स की अहम रस्म संदल ख्वानी व गुस्ल की रस्म को अदा किया जाएगा। शुक्रवार को कुल की रस्म के साथ उर्स का समापन होगा।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal