उदयपुर और दरीबा के अस्पतालों को वेंटिलेटर्स भेंट

उदयपुर और दरीबा के अस्पतालों को वेंटिलेटर्स भेंट

एपिरॉक माइनिंग इंडिया लि. ने अतिमहत्वपूर्ण जीवन रक्षक सहायता के रूप में आरएनटी मेडिकल कॉलेज उदयपुर और गवर्नमेंट कोविड-केयर सेंटर दरीबा, राजसमंद को दस वेंटिलेटर्स भेंट किए हैं।

 
epirock mining

एपिरॉक माइनिंग इंडिया ने उदयपुर और राजसमंद के अलावा नासिक, पुणे और हैदराबाद के अस्पतालों को कई वेंटिलेटर प्रदान किये हैं

उदयपुर। कोविड-19 वायरस की दूसरी लहर में देश के लाखों लोग संक्रमित हो चुके हैं। इस महामारी का मुकाबला करने वाली चिकित्सा बिरादरी को सहयोग प्रदान करने के लिए, एपिरॉक माइनिंग इंडिया लि. ने अतिमहत्वपूर्ण जीवन रक्षक सहायता के रूप में आरएनटी मेडिकल कॉलेज उदयपुर और गवर्नमेंट कोविड-केयर सेंटर दरीबा, राजसमंद को दस वेंटिलेटर्स भेंट किए हैं।

आरएनटी मेडिकल कॉलेज उदयपुर की चिकित्सा सुविधा के बुनियादी ढांचे की रीढ़ है, जो कोविड -19 सहित सभी रोगियों को मुफ्त उपचार प्रदान करता है। प्राचार्य डॉ. लाखन पोसवाल और प्राधिकारी डॉ. राजवीर सिंह ने इस निर्बाध सहयोग को सक्षम करने में बड़ा सहयोग प्रदान किया। 

डॉ. पोसवाल ने कहा कि इस उदार योगदान के लिए एपिरोक के बहुत आभारी हैं। इससे हमें और अधिक लोगों की जान बचाने में मदद मिलेगी। दरीबा में सरकारी कोविड-केयर सेंटर पूरी तरह से रोगियों को मुफ्त इलाज प्रदान करने के लिए समर्पित है। ये वेंटिलेटर गहन देखभाल इकाइयों में महत्वपूर्ण देखभाल और सहायता प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। 

मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रकाशचंद्र शर्मा और उपमुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. धर्मेंद्र गुप्ता ने इसके कार्यान्वयन में बेहद सहायता की। उप निदेशक, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा डॉ. पंकज गौर उदयपुर जोन ने कहा कि एपिरॉक ने इस आवश्यकता को पूरा करके एक बड़ी पहल की है जो महत्वपूर्ण और समयानुरूप है। हम उनके समर्थन की सराहना करते हैं।

एपिरॉक माइनिंग इंडिया के सीएसआर अधिकारी धनजी पुरी ने कहा कि महामारी जैसे चुनौतीपूर्ण समय में एपिरॉक ने चिकित्सा सुविधाओं को एक महत्वपूर्ण फोकस क्षेत्र के रूप में पहचाना जिस पर तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता है। हमने महत्वपूर्ण देखभाल उपलब्ध कराकर अपने योगदान के साथ एक विनम्र प्रयास किया है। हम चिकित्सा समुदाय की सराहना करते हैं जो दिन-रात कोविड से लड़ रहे हैं। 

एपिरॉक माइनिंग इंडिया लि. के प्रबंध निदेशक जेरी एंडरसन ने कहा कि एक संगठन के रूप में, हम सहयोग और प्रतिबद्धता की शक्ति में विश्वास करते हैं और हम साथ मिलकर इस महामारी का मुकाबला कर सकते हैं, क्योंकि जब हम सभी एक साथ आते हैं, जवाबदेही लेते हैं तो समाज की सुरक्षा एवं भलाई के लिए अपने स्तर पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकेंगे। मैं लोगों और संगठनों से समान रूप से आगे आने और इस महत्वपूर्ण समय में सभी का समर्थन करने का आग्रह करता हूं। ‘आरोग्य संपदा’ एपिरॉक माइनिंग इंडिया की एक स्वास्थ्य पहल है जो स्थानीय समुदाय का समर्थन करने पर केंद्रित है। इस कार्यक्रम के तहत एपिरॉक माइनिंग इंडिया ने उदयपुर और राजसमंद के अलावा नासिक, पुणे और हैदराबाद के अस्पतालों को कई वेंटिलेटर प्रदान किये हैं।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal