दिव्यांगो की प्रस्तुतियां देख दर्शक हुए अचंभित


दिव्यांगो की प्रस्तुतियां देख दर्शक हुए अचंभित

उदयपुर का सुखाडिया रंगमंच रविवार को एक ऐसे एतिहासिक कार्यक्रम का साक्षी

 
UT WhatsApp Channel Join Now
दिव्यांगो की प्रस्तुतियां देख दर्शक हुए अचंभित

उदयपुर का सुखाडिया रंगमंच रविवार को एक ऐसे एतिहासिक कार्यक्रम का साक्षी बना जिसमे राष्ट्रीय स्तर पर पूरे भारत से आये दिव्यांग कलाकरों ने अपनी प्रस्तुतियां से दर्शको को सोचने पर मजबूर कर दिया की आखिर क्यूं इन्हे दिव्यांग कहा जाता है जबकी इनकी प्रस्तुतियां किसी भी सामान्य इंसान से कहीं ज्यादा दमदार है।

सुखाडियां रंगमंच पर रिद्धि-सिद्धि वेलफेयर एंड चेरिटेबल ट्रस्ट और दिग्गज प्रोडक्शन की और से आयोजित हौंसलो की उडान दिव्यांग टेलेंट शॉ ने आज सामान्य लोगो के मन मे दिव्यांग लोगो के लिए एक अलग ही सम्मान पैदा कर दिया।

विनोद ठाकूर की धमाकेदार प्रस्तुति ने बढ़ाया जोश

दिव्यांगो की प्रस्तुतियां देख दर्शक हुए अचंभित

शॉ के विशेष आकर्षण नच बलिए फेम विनोद ठाकूर ने जैसे ही मंच पर अपनी डाँस प्रस्तुति शुरू की वैसे ही दर्शको ने तालियों की गडगडाहट के साथ उनका जोश बढाया। दर्शको से मिले जोश के साथ ही विनोद ठाकूर ने पूरे मंच का उपयोग करते हुए अपनी विशेष स्टेप्स से एक जोशीली प्रस्तुति से खुब वाह वाही लुटी और दर्शको ने खडे होकर तालियां बजाते हुए ठाकूर के जज्बे को सलाम किया।

Click here to Download the UT App

टेलेंट शॉ मे सबसे पहले सुरीलो राजस्थान की विजेता मारीशा दिक्षित ने गणेश वंदना से शुभारंभ किया और सुर संगम की बालिकाओं द्वारा स्वागत नृत्य प्रस्तुत किया गया। जिसके बाद गायन और नृत्य मे अपनी एक से बढकर एक प्रस्तुतियों से लोगो को रोमांचित किया और खुब तालियां बटारी। शॉ को हसेस्ट करते हुए आरजे हिमांशु ने भी अपने 90 डेज 90 शॉ के रिकार्ड को बनाने का शुभाारंभ इस दिव्यांग टेलेंट शॉ के माध्यम से किया।

बहाने आपकी सफलता को रोक नही सकते

शॉ के सेलिब्रिटी गेस्ट क्राईम पेट्रोल फेम गुलशन पांडे ने दिव्यांग प्रतिभाओं के हौंसले को सलाम करते हुए कहा कि जीवन मे कोई बहाना आपको सफल होने से रोक नही सकता। अगर कोई यह कहे की मेरे पैर नही है इसलिए मे डांस नही कर सकता तो उस बहाने के सामने विनोद ठाकूर एक उदाहरण है। और यह सभी प्रतिभागी भी उन सभी बच्चों के लिए उदाहरण है जो किसी भी तरह के बहाने की आड़ मे अपनी प्रतिभा को नही पहचान पाते।

शॉ मे ऐसे बच्चे जो सुन नही पाते उनको नृत्य करते हुए देख दर्शक जहां अचंभित हो उठे तो वहीं आँखो से देख नही पाने मे अक्षम बच्चों की प्रस्तुतियां भी दर्शको के लिए बिल्कूल अनोखी रही। इन प्रस्तुतियों के बीच बडौदा के हाई स्टेपर्स ग्रुप के दिव्यांग लोगो की देशभक्ति की प्रस्तुति ने माहौल को देशभक्तिमय कर दिया वहीं मुम्बई कोहलापूर के सतीश चीके ने भी इस देशभक्ति के माहौल को बरकरार रखते हुए चेयर पर खडे होकर भारत का झण्डा लहराकर दर्शको को सीट से खडे होकर भारत माता की जयघोष करने के लिए मजबूर कर दिया।

दिव्यांगो की प्रस्तुतियां देख दर्शक हुए अचंभित

हौसलो की उडान के विजेता

राष्ट्रीय स्तर के दिव्यांग टेलेंट शॉ मे देश के कोने – कोने से अपना हुनर दिखाने आये बच्चों की परर्फोमेंस को देखने के बाद डाँस प्रतियोगिता के निर्णायक नच बलिए फेम विनोद ठाकूर ने हिमाचल की सुप्रिया पाल को प्रथम, नागौर के लोकेन्द्र सिंह को द्वितीय और जयपुर के अक्षय भटनागर को तृतीय विजेता घोषित किया।

गायन प्रतियोगिता की निर्णायक मींरा कन्या महाविद्यालय की संगीत व्याख्याता पूनम जोशी ने कर्नाटक की कृतिका को प्रथम, दिल्ली के अमित पूरी शिकोनाबादी को द्वितीय और दिल्ली के मुकेश कुमार को तृतीय विजेता घोषित किया जिन्हे शॉ के सेलिब्रिटी गेस्ट विनोद ठाकूर, गुलशन पांडे, योगेश माने, मुख्य अतिथि धीरेन्द्र सिंह सचान, ट्रस्ट के चेयरमैन ललित तिवारी, धमेन्द्र सिंह रावल, ईशान पंड्या, प्रीति तिवारी, ममता अरोरा, फूल सिंह मीणा, प्रमोद सामर, डॉ. जिनेन्द्र शास्त्री, हेमेन्द्र रावल, मोहम्मद अब्बास सहित ट्रस्ट की टीम ने विजेता के खिताब से पुरस्कृत किया। इसके साथ ही शॉ मे अपना सहयोग करने वाले नीम फाउंडेशन, तिरूपति फिनसर्व, स्टोन हेल्प लाईन कॉर्पोशन, एल सोल्जर स्कूल, ग्लोबल पब्लिकेशन सहित फोर श्योर फिटनेस क्लब के पदाधिकरियों को भी सम्मानित किया गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal