20 years rigorous imprisonment and fine of 50 thousand to the accused of POCSO Act

पोक्सो एक्ट के आरोपी को 20 साल की कठोर सजा और 50 हज़ार का जुर्माना

पोक्सो एक्ट के आरोपी को 20 साल की कठोर सजा और 50 हज़ार का जुर्माना

ब्लैक मैलिंग से परेशान होकर किया था आत्महत्या का प्रयास

 
judgement

उदयपुर के हिरणमगरी थाना क्षेत्र में युवती से दुष्कर्म करने और उसके अश्लील फोटो खींच उसे ब्लैक मेल करने के मामले में पोक्सो न्यायालय ने आरोपी को 20 साल कठोर कारावास एवं 50 हजार रुपए  के जुर्माने की सजा सुनाई।

आरोपी कि पहचान आसिफ सिंधी निवासी कोल्यारी के रूप में हुई। जानकारी के अनुसार पीड़िता के पिता ने 29 अक्टूबर 2020 को हिरणमगरी थाना में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि उसकी बेटी ने 27 अक्टूबर को कीटनाशक खाकर आत्महत्या का प्रयास किया जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था।  

होश में आने के बाद आत्महत्या के प्रयास करने के पीछे के कारण के बारे पूछा गया तो उसने बताया कि आरोपी आसिफ से उसकी पहले से जान पहचान थी, इसी के चलते  उसने हिरणमगरी इलाके में एक किराए के कमरे में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया और अश्लील फोटो एवं वीडियो बना लिए ओर बाद में वह और उसके दोस्त उसे ब्लैकमेल कर रहे है।

13 गवाह और 26 दस्तावेज न्यायलय में पेश किए गए । इसी को आधार मानते हुए न्यायालय ने अभियुक्त आसिफ सिंधी को दोनों पक्षों की बहस सुनने के उपरांत भादंसं की धारा 376 (3) में दोषी मानते हुए 20 साल कठोर कारावास एवं 50 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on  GoogleNews | WhatsApp | Telegram | Signal

From around the web