जोधपुर जैसी घटना उदयपुर में ना हो, इसके लिए सतर्कता बरतें- एडीएम सिटी प्रभा


जोधपुर जैसी घटना उदयपुर में ना हो, इसके लिए सतर्कता बरतें- एडीएम सिटी प्रभा

एडीएम सिटी ने ली विभिन्न विभागों की बैठक

 
a
UT WhatsApp Channel Join Now

विभिन्न विभागों को सौंपे दायित्व

उदयपुर, 20 दिसंबर। जोधपुर जिले में गैस सिलेंडर विस्फोट से हुई दुर्घटना के दृष्टिगत राज्य सरकार के निर्देशों की पालना में जिला कलक्टर के निर्देशानुसार मंगलवार को एडीएम सिटी प्रभा गौतम की अध्यक्षता में बैठक आयोजित हुई।
बैठक में एडीएम ने कहा कि जोधपुर जिले में गैस सिलेण्ड़र विस्फोट जैसी दुर्घटना उदयपुर में घटित न हो इसके लिये पुख्ता इंतजाम करें। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को विवाह स्थल, समारोह स्थलों पर अग्निशमन यंत्रों की उपलब्धता एवं उपयोग किये जा रहे एलपीजी गैस सिलेण्ड़र की सुरक्षा तथा घरेलू गैस सिलेंडर का उपयोग पूर्ण रूप से वर्जित किया जाकर नियमित जांच करने के निर्देश दिए। साथ ही गैस कम्पनी के अधिकारियों को आवेदन प्राप्त होने पर अस्थाई या स्थाई एसवी जारी करने के निर्देश दिए।

उन्हाेंने नगर निगम को अवैध रूप से संचालित वाटिकाओं पर कार्यवाही करने व अस्वीकृत वाटिकाओं पर सतत् निगरानी रखते हुए प्रावधानों का उल्लंघन होने पर अविलंब प्रशासन को सूचित करने को कहा। एडीएम सिटी ने जिला रसद अधिकारी, जिला परिवहन अधिकारी, ऑयल कंपनी के अधिकारी एवं पुलिस प्रशासन को अविलम्ब एक जांच दल के गठित कर वाहनों में व अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में एलपीजी गैस के दुरुपयोग को रोकने एवं गैस सिलेण्डरों के सत्यापन करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्कूली बच्चों हेतु प्रयुक्त वाहनों में अवैध रूप से एलपीजी गैस के उपयोग करने पर चिंता जाहिर करते हुए जिला परिवहन अधिकारी व जिला रसद अधिकारी को समन्वय स्थापित कर कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
 

जिला रसद अधिकारी ने बताया कि विभाग द्वारा एलपीजी गैस के अवैध भण्डारण एवं दुरूपयोग एवं रोकथाम करने हेतु लगातार कार्यवाही करते हुए संबंधित थानों में निर्धारित प्रावधानों के अनुसार प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है। आगामी दिनांे में भी इस प्रकार की कार्यवाहियां निरन्तर जारी रहेगी। एडीएम सिटी ने जिले के समस्त संस्था प्रधानों को भी इस संबंध में पत्र लिखने एवं शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में उपभोक्ताओं को गैस सिलेण्डर के उपयोग में लिये जाने से होने वाले खतरों एवं बचाव आदि के संबंध में प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। बैठक में जिला रसद अधिकारी बीजल सुराणा, जिला परिवहन अधिकारी डॉ. कल्पना शर्मा,, संभागीय उपभोक्ता संरक्षण अधिकारी जयमल राठौड़, प्रवर्तन अधिकारी मनीष भटनागर, एलपीजी विक्रय दीपांकर पारीक व मनोज मीणा, कमलेश पाण्डरे, रामचन्द्र त्रिपाठी सहित नगर निगम, यूआईटी व अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal