संविदाकर्मी पर लगे पार्षद से अभद्रता करने के आरोप

संविदाकर्मी पर लगे पार्षद से अभद्रता करने के आरोप

निर्दलीय पार्षद के समर्थन में दोनों ही पार्टियों के पार्षदों ने निगम आयुक्त को दिया ज्ञापन  

 
parshad

उदयपुर नगर निगम के वार्ड 41 के निर्दलीय पार्षद कमलेश मेहता ने निगम के संविदाकर्मी पर गंभीर आरोप लगाये हैं। बुधवार को भाजपा और कांग्रेस के पार्षदों ने इस संबंध में आयुक्त को ज्ञापन सौंपकर कार्यवाही की मांग की है। 

निर्दलीय पार्षद कमलेश मेहता ने संविदाकर्मी विमल तावड पर आरोप लगाया कि उसने अभद्र व्यवहार किया और उनके साथ कथित रूप से गाली गलौज की। इसी को लेकर कमलेश मेहता ने नगर निगम में भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टी के पार्षदों के साथ मिलकर नगर निगम आयुक्त से मुलाकात की और ज्ञापन सोंप कर संविदा कर्मचारी पर सख्त कार्रवाई की मांग की हैं।

इसी के चलते दोनों ही पार्टी के पार्षद नगर निगम उदयपुर के बाहर इक्कठा हुए और संविदाकर्मी के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर नारेबाजी की। 

कमलेश ने अपने ज्ञापन के मध्याम से ये बताया है की किस तरह विमल ने उन्हें नगर निगम में घुसने नहीं देने की धमकी दी और खुद को बीजेपी का पदाधिकारी बताते हुए अभद्र भाषा में बात की। सभी पार्षदों ने नगर निगम आयुक्त से विमल के खिलाफ कठोर कार्यवाही करने और उन्हें तुरंत निलंबित करने की मांग की। 

कमलेश ने बताया की घटना मंगलवार को हुई जब रोड पर काम करवाने की बात को लेकर इनके और संविदाकर्मी विमल के बीच में फोन पर बहस पहले बात हुई और धीरे धीरे वो बात चीत बहस में तब्दील हो गई। बहस के बाद विमल द्वारा फोन कट दिया गया और फिर बार बार फ़ोन करने पर भी नहीं उठाया गया। 

कमलेश ने बताया की दिन में करीब 3 बजे विमल ने उन्हें फोन किया और अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हुए धमकाया। इसी बात को लेकर जब ये बात सभी पार्षदों को बताई तो उन्होंने इस पर नाराजगी दिखाई और नगर निगम उदयपुर के आयुक्त से मुलाकात की और कार्यवाही की मांग की। इस पर आयुक्त ने मामले की जाँच कर उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal