राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष अरुण हालदार रहे दौरे पर


राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष अरुण हालदार रहे दौरे पर

विभिन्न संगठनों से जनसुनवाई पश्चात अधिकारियों की ली बैठक

 
udaipur
UT WhatsApp Channel Join Now

समस्त योजनाओं में एससी वर्ग को अधिकाधिक लाभान्वित करें द हालदार

उदयपुर, 20 जुलाई। राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष अरुण हालदार मंगलवार को उदयपुर दौरे पर रहे। इस दौरान उन्होंने जिला परिषद सभागार में अनुसूचित जाति के कल्याण हेतु कार्य कर रहे विभिन्न संगठनों, स्वयं सेवी संस्थाओं एवं समाजसेवियों के साथ जनसुनवाई कर उनकी समस्याएं सुनी।

उदयपुर संभाग के समस्त जिलों के कलक्टर, एसपी एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक लेकर अनुसूचित जाति के कल्याणार्थ चलाई जा रही योजनाओं एवं कानूनों की वर्तमान स्थिति की समीक्षा की। एससी आयोग उपाध्यक्ष अरुण हालदार ने कहा कि सभी अधिकारी एससी समुदाय के कल्याण हेतु कार्य करें एवं उनके लिए लागू योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन करें।
 

जनसुनवाई में सुनी विभिन्न समस्याएं
राष्ट्रीय एससी आयोग के उपाध्यक्ष अरुण हालदा ने विभिन्न जिलों से आए संगठनों से वार्ता कर समस्याएं सुनी। इस दौरान उन्हें जनजाति क्षेत्र में आरक्षण विसंगति, छात्रवृत्ति, एससी वर्ग हेतु सुविधाओं के अभाव, अतिरिक्त छात्रावासों की आवश्यकता आदि समस्याओं से अवगत कराया गया। एससी आयोग उपाध्यक्ष अरुण हालदार ने कहा कि वे सभी समस्याओं की जांच करवा कर शीघ्र ही इन पर की गई कार्यवाही से सभी को अवगत करवाएंगे।

राज्य सरकार से चर्चा योग्य बिंदुओं पर अलग से चर्चा करेंगे। हालदार ने संगठनों को बताया कि आगामी 24 और 25 जुलाई को एससी आयोग की फूल कमीशन बैठक होगी जिसमें इन सभी समस्याओं पर वे चर्चा कर निष्कर्ष निकालने का प्रयास करेंगे। उन्होंने बताया कि एससी आयोग हर समस्या के समाधान हेतु कटिबद्ध है।
 

अधिकारियों की बैठक लेकर जाना योजनाओं का हाल
एससी आयोग उपाध्यक्ष अरुण हालदार ने उदयपुर संभाग के सभी जिलों उदयपुर, चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़, बांसवाडा, डूंगरपुर, राजसमंद के अधिकारियों से चर्चा कर योजनाओं की समीक्षा की। इस दौरान संभागीय आयुक्त राजेंद्र भट्ट एवं आईजी प्रफुल्ल कुमार मौजूद रहे। साथ ही उदयपुर, प्रतापगढ़, बांसवाडा, डूंगरपुर, राजसमंद जिलों के कलक्टर एवं एसपी, चित्तौड़गढ़ एडीएम आदि अपने जिलों के अन्य अधिकारियों के साथ उपस्थित हुए।

संभागीय आयुक्त राजेंद्र भट्ट ने प्रेजेंटेशन में बताया कि संभाग में एससी वर्ग के 13 छात्रावास संचालित हैं। बैठक में मुद्रा लोन योजना में एससी समुदाय के लाभार्थियों की स्थिति की समीक्षा करते हुए उपाध्यक्ष हालदार ने निर्देशित किया कि एससी समुदाय के लोगों को ऋण देने में संवेदनशीलता बरती जाए एवं किसी भी प्रकार का भेदभाव पूर्ण व्यवहार न किया जाए। उन्होंने स्टार्ट अप योजना और स्टेंड अप योजना की समीक्षा करते हुए एससी वर्ग के कम आवेदन प्राप्त होने की स्थिति को देखते हुए इन योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए, जिससे कि अधिकाधिक एससी वर्ग को इन योजनाओं का लाभ दिया जा सके। शिक्षा ऋण योजना में निस्तारण की अच्छी स्थिति पर संतुष्टि जाहिर की।
 

एससी समुदाय की साक्षरता दर 68.91 प्रतिशत
बैठक में एससी आयोग उपाध्यक्ष अरुण हालदार ने एनएससीएफडीसी द्वारा ऋण हेतु प्राप्त प्रार्थना पत्र एवं निस्तारण की भी समीक्षा की। जिले में लगे हैंडपंप एवं उनमें एससी वर्ग का प्रतिशत, रोजगार सम्बन्धी योजनाओं में एससी लाभार्थियों की स्थिति, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम एवं उज्ज्वला योजना की स्थिति आदि की समीक्षा की। संभागीय आयुक्त ने एससी योग उपाध्यक्ष हालदार को बताया कि संभाग में कुल जनसंख्या में एससी वर्ग की जनसंख्या का प्रतिशत 6.14ः है एवं संभाग के एससी समुदाय की साक्षरता दर 68.91ः है। प्रशासन द्वारा एससी वर्ग के उत्थान हेतु निरंतर प्रयास जारी हैं।

 

एससी-एसटी एक्ट में प्रभावी कार्रवाई करें
एससी योग उपाध्यक्ष हालदार ने बैठक में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निरोधक) अधिनियम के तहत पीडि़त को समय से न्याय दिलाने एवं अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई करने हेतु निर्देशित किया। इस दौरान आईजी प्रफुल्ल कुमार ने उन्हें संभाग के समस्त जिलों में इस कानून सम्बन्धी अपराधों की स्थिति से अवगत कराया एवं आश्वस्त किया कि पुलिस द्वारा ऐसे मामलों में पूरी संवेदनशीलता के साथ कड़ी कार्रवाई समय-समय पर की जाएगी।

 

संभाग के सभी जिले जागरूकता अभियान चलाएं
एससी आयोग उपाध्यक्ष हालदार ने बैठक के अंत में सभी जिलों के कलक्टर से कहा कि अपने-अपने जिलों में एससी समुदाय हेतु लागू योजनाओं का अधिकाधिक प्रचार-प्रसार करें जिससे कि योजनाओं में एससी वर्ग के लाभार्थियों की संख्या बढ़ सके। उन्होंने कहा कि योजनाओं का प्रेजेंटेशन देखने के बाद लगा है कि जागरूकता के अभाव में एससी वर्ग विभिन्न योजनाओं में पर्याप्त आवेदन नहीं कर पा रहा है, ऐसे में प्रभावी जागरूकता अभियान की आवश्यकता है। उन्होंने जागरूकता अभियान में जनप्रतिनिधियों को साथ लेने के निर्देश दिए। उदयपुर प्रशासन द्वारा किए जा रहे कार्य पर संतुष्टि जाहिर की एवं कहा कि हमें बाबा साहेब आंबेडकर के सपने को साकार करते हुए हर वंचित का उत्थान सुनिश्चित करना है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal