वाहन की चपेट में आने से तेंदुए की मौत

वाहन की चपेट में आने से तेंदुए की मौत

मृत तेंदूए की उम्र तकरीबन आठ साल

 
Leopard

हाईवे पर 3 महीने में तीन तेंदूए हुए शिकार

उदयपुर-चित्तौड़गढ़ हाइवे पर बीते तीन महीनों में तीन तेंदूए की मौत हो चुकी हैं। कल रात फिर यह घटना उदयपुर-चित्तौड़गढ़ हाइवे पर देबारी पावर हाउस पर देखने को मिली जहां अज्ञात वाहन की टक्कर से एक तेंदूए की मौत हो गई। घटना के बाद वाहन चालक वाहन लेकर मौके से फरार हो गया। इस दौरान वहां ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। वन विभाग की टीम को सुचना दी गई। वन विभाग की टीम ने तेंदूए का पोस्टमार्टम कराया।

दरअसल उदयपुर चित्तौड़गढ़ हाइवे पर जिंक चौराहे के पास देबारी पावर हाउस पर देर रात जंगल से तेंदूआ सड़क क्रॉस कर रहा था। इसी दौरान अज्ञात वाहन ने उसको चपेट में ले लिया। इससे उसके सिर में गम्भीर चोट लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पैंथर के नाखून और दांत पूरी तरह से सुरक्षित बताए जा रहे हैं। 

इसके बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। जहां शव को कब्जे में लेकर बायोलॉजिकल पार्क ले जाया गया है। यहां तेंदूए का पोस्टमार्टम कराया गया। क्षेत्रीय वन अधिकारी दिलीप सिंह गुर्जर ने बताया कि मृत तेंदूए की उम्र तकरीबन आठ साल के आसपास है, ये मेल तेंदूआ है। वहीं पोस्मार्टम के बाद नियमनुसार पैंथर का अंतिम संस्कार किया गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal