चेंजऑवर द प्रोसेस ऑफ जगलिंग-चार्टर्ड अकाउन्टेन्ट की दो दिवसीय नेशनल कॉफ्रेन्स सम्पन्न


चेंजऑवर द प्रोसेस ऑफ जगलिंग-चार्टर्ड अकाउन्टेन्ट की दो दिवसीय नेशनल कॉफ्रेन्स सम्पन्न

नई फैसलैस स्कीम करदाता के लिये मददगार

 
ca conference
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर 8 जनवरी 2023 । इन्स्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउन्टेन्ट ऑफ इंडिया की कमेटी ऑफ मेंबर्स इन प्रेक्टिस एवं उदयपुर शाखा के संयुक्त तत्वावधान में रविवार को हिरण मगरी सेक्टर 4 स्थित विद्या निकेतन स्कूल के सभागार में नेशनल कॉन्फ्रेंस 2023 का समापन हुआ। दूसरे दिन का शुभारंभ गणपति वंदना के साथ ही राष्ट्रगान से शुरू हुआ।

शाखा अध्यक्ष सीए शैैलेन्द्र कुणावत ने बताया कि रविवार को सेमिनार के दूसरे दिन के प्रथम तकनीकी सत्र में जयपुर के सीनियर एडवोकेट्स सीए संजय झवंर, पूर्व मुख्य आयकर आयुक्त दिलीप शिवपुरी,सीए राजीव सोगानी, एडवोकेट प्रखुल खुराना व श्याम सिंघवी ने आयकर अधिनियम के अन्तर्गत फैसलेस असेसमेन्ट व वर्तमान परिदृश्य में सर्च के साथ उसके संबंधों पर जानकारी दी।

सीनियर एडवेाकेटस संजय झंवर एवं पैनल की यह राय थी कि फैसलैस असेसमेन्ट करदाता के लिये सुविधाजनक है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि फेसलैस असेसमेन्ट के समय करदाता को सभी तथ्यों को अपने जवाब में शामिल कर लेना चाहिये,जिससे कि यदि विभगा की ओर से डिमाण्ड क्रिएट हो भी जाय तो आगे अपील में रिलीफ मिल सकें।

द्वितीय तकनीकी सत्र में जयपुर के इक्विटी मार्केट के विशेषज्ञ संदीप जैन ने निवेश को 360 डिग्री एंगल के माध्यम से समझाया। उन्होंने म्युचुअल फण्ड्स को निवेश का एक सुुरक्षित माध्यम बताते हुए शेयरों में सीेधे निवेश में सावधानी बरतनें की सलाह दी। जैन का यह कहना था कि पूर्ण जानकारी के बिना इक्विटी मार्केट में सीधे निवेश से पूंजी को भारी नुकसान हो सकता है। 

सत्र की अध्यक्षता सीए दीपक एरन ने करते हुए कहा कि यदि निवेश सहीं तरीके से नहीं किया जाए तो आपकी पंूजी शून्य भी हो सकती है। वहीं निवेश यदि सही सलाह व जानकारी से किया जाए तो चवह पूंजी मल्टीपल भी हो सकती है।

अंतिम सत्र में आईसीएआई के पूर्व अध्यक्ष सीए अतुल गुप्ता ने निरीक्षण, खोज-जीएसटी में बरामदगी और आंकलन पर अपने विचार रखते हुए कहा कि जीएसटी के अन्तर्गत विभाग द्वारा जारी किये जाने वाले नोटिसों का जवाब देते समय बहुत सावधानी बरतनी चाहिये। साथ ही उन्होंने इनपुट क्रेडिट की जटिलताओं को बताते हुए कहा कि गलत इनपुट क्रेडिट लेने पर विभाग द्वारा भविष्य में टेक्स के साथ-साथ भारी ब्याज के साथ-साथ पेनल्टी का भी सामना करना पड़ सकता है। सत्र की अध्यक्षता सीए केशव मालू ने की।

अंत में समापन समारोह आयोजित किया गया। जिसमें कॉन्फ्रेन्स निदेशक सीए डॉ. श्याम सिंघवी ने सभी कमेटी मेम्बर्स, आयोजक व स्पोन्सर्स का आयोजन को सफल बनाने के लिये आभार ज्ञापित किया।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal