मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना- जामद सिंह को मिली कैंसर से निजात

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना- जामद सिंह को मिली कैंसर से निजात

घुटने प्रत्यारोपण के बाद फिर से चलने-फिरने लगा ओमप्रकाश सैन

 
j

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना बनी वरदान

उदयपुर, 5 जून। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में जनकल्याणकारी राज्य सरकार आमजन को हर क्षेत्र में राहत देने हेतु नए-नए कदम उठा रही है एवं उनकी प्रभावी क्रियान्विति सुनिश्चित की जा रही है। मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश में गत वर्ष आरम्भ की गई मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से दस लाख रुपए तक का निशुल्क उपचार मरीजों को दिया जा रहा है। एक समय था जब निजी अस्पतालों में महंगे इलाज के चलते निर्धन परिवारों को घर-जमीन बेचने को विवश होना पड़ता था, लेकिन चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना आरम्भ करने के बाद तो अब सूरत ही बदल गई है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिनेश खराड़ी ने बताया कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में ही उदयपुर जिला मुख्यालय के गीतांजलि अस्पताल में भी गंभीर प्रकृति के दो रोगियों का निःशुल्क इलाज किया गया और परिवार के मुखिया दोनों ही रोगी अब स्वस्थ जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

 

जामद सिंह ने पाई गले के कैंसर से निजात
सिरोही निवासी 55 वर्षीय जामद सिंह के गले में काफी समय से दर्द हो रहा था। सिरोही के निजी अस्पताल में भी दिखाया परन्तु तबीयत में किसी तरह का सुधार नहीं हुआ। रोगी के पुत्र गणपत सिंह ने अपने पिता को गीतांजली हॉस्पिटल लाने का निर्णय लिया।  यहाँ आने पर पता चला कि रोगी के गले में बड़े बड़े लिम्फ नोड्स है। ये देखते हुए रोगी के गले का तुरंत पेट सी टी स्कैन, ब्रोंकोस्कोपी, लैरिंगोस्कोपी जांचे मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा के तहत निःशुल्क की गई।
जांच से पता चला कि रोगी को गले का कैंसर है ऐसे में तुरंत ऑपरेशन होना ज़रूरी था। कैंसर सर्जन डॉ आशीष जाखेटीया ने बताया कि जब रोगी के परिवार को ऑपरेशन की जानकारी दी तो वह घबरा गए। रोगी व उसके पुत्र मजदूरी करके मुश्किल से दो वक्त का खाना खा पाते हैं ऐसे में ऑपरेशन करवाना संभव नहीं था। लेकिन फिर उन्हें मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा के बारे में बताया गया एवं इस योजना के अंतर्गत कैंसर सर्जन डॉ आशीष जाखेटिया व डॉ अजय यादव व उनकी टीम द्वारा निशुल्क ऑपरेशन किया गया।
ऑपरेशन के बाद सफलतापूर्वक रोगी के गले से ट्यूमर को निकल दिया गया। रोगी अब स्वस्थ है और हॉस्पिटल से छुट्टी दी जा चुकी है। रोगी व उसका परिवार बहुत खुश हैं व मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त कर रहा है।

om


ओमप्रकाश के दोनों घुटनों का हुआ प्रत्यारोपण
भीलवाड़ा निवासी ओमप्रकाश सैन पिछले 15 वर्षों से घुटनों के दर्द से पीडि़त थे। धीरे- धीरे समस्या बढ़ती गई और इस कारण रोगी का चलना फिरना, दिनचर्या के काम करना बहुत मुश्किल हो गया। लगभग 2 वर्षों से रोगी बिस्तर पर था भीलवाड़ा में डॉक्टर को दिखाया तो उन्होंने दोनों घुटने प्रत्यारोपण की सलाह दी।
दोनों घुटने के प्रत्यारोपण में खर्चा बहुत अधिक था व घरेलू परिस्थितियों के कारण ऑपरेशन करवाना संभव नहीं हो रहा था। ऐसे में गीतांजली एडवांस जॉइंट रिप्लेसमेंट एंड ओर्थपेडीक सेंटर में मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा के तहत निःशुल्क घुटना व कुल्हा प्रत्यारोपण ओर्थाेपेडिक सर्जन डॉ रामावतार सैनी ने किया। डॉ रामावतार सैनी ने बताया कि रोगी के दोनों घुटने ओस्टियोआर्थराइटिस से ग्रसित थे जिस कारण उनके दोनों घुटने पूरी तरह मुड़ चुके थे जिस कारण उनका खड़े रहना भी संभव नहीं हो पा रहा था।
रोगी की स्थिति को देखते हुए उसका तुरंत घुटने प्रत्यारोपण का निर्णय लिया गया। रोगी को हाई फ्लेक्स नी घुटने लगाये गए। चीरंजीवी योजना के तहत दोनों घुटनों का निःशुल्क सफल प्रत्यारोपण किया गया। रोगी अब बिलकुल स्वस्थ है एवं बिना किसी सहारे के आराम से चल-फिर रहा हैं। रोगी ओमप्रकाश सैन मुख्यमंत्री द्वारा लागू की गई चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की बदौलत आज अपना सामान्य जीवन जी पा रहा है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal