सोशल मीडिया पर सर्वेक्षण, प्रश्नोत्तरी के माध्यम से सब्सिडी देने का दावा गलत


सोशल मीडिया पर सर्वेक्षण, प्रश्नोत्तरी के माध्यम से सब्सिडी देने का दावा गलत

भारतीय डाक विभाग ने दिया स्पष्टीकरण

 
Fake Alert
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर 23 अप्रेल 2022 । उदयपुर मंडल के प्रवर अधीक्षक डाकघर ने स्पष्ट किया है कि इंडिया पोस्ट के नाम से  विगत कुछ दिनों में सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सएप, टेलीग्राम, इंस्टाग्राम और ईमेल/एसएमएस के माध्यम से प्रसारित होने वाले विभिन्न यूआरएल/वेबसाइटों में कुछ सर्वेक्षणों, प्रश्नोत्तरी के माध्यम से सरकारी सब्सिडी प्रदान करने का दावा किया गया है, यह पूर्णतया गलत है।

उन्होंने स्पष्ट किया कि भारतीय डाक ऐसी किसी भी गतिविधि में शामिल नहीं है जैसे कि सब्सिडी, बोनस या सर्वेक्षण के आधार पर पुरस्कार आदि की घोषणा करना। उन्होंने ऐसी सूचनाएं संदेश/ईमेल प्राप्त करने वाले लोगों से अनुरोध किया है कि, वे इस तरह के फर्जी संदेशो पर विश्वास न करें एवं ना ही इनका जवाब न दें, ना ही व्यक्तिगत विवरण साझा करें। 

यह भी अनुरोध किया है कि किसी भी व्यक्तिगत रूप से पहचान योग्य जानकारी जैसे जन्म तिथि , खाता संख्या , मोबाइल नंबर, जन्म स्थान और ओटीपी आदि साझा न करें।

उन्होंने बताया कि भारतीय डाक हालांकि विभिन्न रोकथाम तंत्रों के माध्यम से इन यूआरएल/लिंक्स/वेबसाइटों को हटाने व रोकने के लिए आवश्यक कार्रवाई कर रहा है।  

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal