नीलाम किये कबाड़ टैंकर से निकली नष्ट की गई शराब

नीलाम किये कबाड़ टैंकर से निकली नष्ट की गई शराब

जांच में भी तथ्य छुपाने वाला कांस्टेबल सस्पेंड

 
constable suspend

डूंगरपुर जिले के बिछीवाड़ा थाने में नष्ट बताई गई अवैध शराब पुलिस द्वारा तस्करों को बेचने के मामले में अब नया मोड़ आ गया है। यह शराब नीलाम हुए कबाड़ हो चुके टैंकर से निकली है। जिसे पुलिसकर्मियों ने ही तस्करी के लिए छुपाई थी। टैंकर खरीददार जब इस टैंकर को स्क्रैप कटिंग के लिए ले गया तो शराब की पेटियां देखकर चौंक गया। मामले में अब पुलिस ने शराब को जब्त कर लिया है। वही जांच के दौरान भी तथ्य छुपाने वाले कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया है। 

एसपी राशि डोगरा ने बताया की 25 से 31अगस्त 2022 तक बिछीवाड़ा थाने में जब्तशुदा शराब को नष्ट करने की कार्रवाई की गई थी। इसके 3 दिन बाद ही गुजरात के कोटम्बा थाना पुलिस ने अवैध शराब से भरी एक कार पकड़ी थी। कार से पकड़ी गई शराब बिछीवाड़ा थाने की ओर से नष्ट बताई गई शराब निकली। 

इस पर एएसपी अनिल मीणा, जिला आबकारी अधिकारी हरीश रोलन, जिला कोषाधिकारी जितेंद्र मीणा, बिछीवाड़ा थानाधिकारी रणजीत सिंह ओर हेड कांस्टेबल रतनाराम को सस्पेंड किया गया था। वहीं एसपी राशि डोगरा ने बिछीवाड़ा थाना समेत रतनपुर व कनबा चौकी के ज्यादातर स्टाफ को लाइन हाजिर कर दिया था। 

इधर पिछले दिनों बीच कोर्ट के आदेश पर  शराब तस्करी में जब्त वाहनों की नीलामी भी हुई जिसमे बिछीवाड़ा थाने में खड़े जब्त वाहन भी नीलाम किये गए।  बिछीवाड़ा थाने में रखे नीलाम टैंकर को खरीददार लेकर उदयपुर कबाड़ खाने में कटिंग के लिए ले गया। टैंकर की कटिंग के दौरान उसमे से शराब की पेटियां निकलने लगी। इसे देखकर स्क्रैप कटिंग करने वाला भी चौंक गया। उसने ये खबर डूंगरपुर पुलिस को दी। 

इस पर पुलिस की एक टीम उदयपुर पहुंची, जहा से शराब को बरामद कर डूंगरपुर ले आए। जांच के दौरान ये शराब भी कागजो में नष्ट बताई गई शराब निकली। जिसे तस्करों को बेचने के लिए छुपाकर रखी गई थी। इधर नष्ट शराब की तस्करी की जांच के दौरान भी मालखाना मुंशी नरेंद्र ने शराब के टैंकर में छुपाने को बात कबूल कर ली। टैंकर से शराब पकड़े जाने के बाद एसपी राशि डोगरा ने कांस्टेबल नरेंद्र को भी सस्पेंड कर दिया है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal