जनवरी के मध्य में भारत में कोरोना के मामले बढ़ सकते हैं

जनवरी के मध्य में भारत में कोरोना के मामले बढ़ सकते हैं

अगले 40 दिन देश के लिए मुश्किल

 
covid

दूसरे देशों में बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए भारत सरकार ने तैयारियां तेज कर दी हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि जनवरी के मध्य में भारत में कोरोना के मामले बढ़ सकते हैं।

अधिकारिक सूत्रों ने पिछले रुझानों का हवाला देते हुए कहा है कि अगले 40 दिन महत्वपूर्ण होने जा रहे है क्योंकि जनवरी में भारत में कोविड मामलों में वृद्धि देखी जा सकती हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों की मानें तो पहले भी यह पाया गया था कि पूर्वी एशिया के कोरोना की चपेट में आने के 30-35 दिन बाद भारत में महामारी की एक नई लहर आई थी। यह एक प्रवृत्ति रही है। हालांकि, यह भी कहा गया कि संक्रमण की गंभीरता कम है। अगर कोरोना की लहर आती भी है, तो इससे होने वाली मौतें और संक्रमितों के अस्पताल में भर्ती होने की दर बहुत कम रहेगी।

A

कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ने की किसी भी स्थिति से निपटने की तैयारियों का जायजा लेने के लिए मंगलवार को देशभर के अस्पतालों में ‘मॉक ड्रिल' की गई। वहीं केंद्रीय स्वास्थय मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि विश्व में कोविड के मामले बढ़ने के मद्देनजर देश सतर्कता बरत रहा है और इससे निपटने के लिए तैयार है। कोरोना वायरस के ओमीक्रोन के उप-स्वरूप बीएफ.7 से मामलों में हालिया वृद्धि हुई है। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि बीएफ.7 के फैलने की दर बहुत अधिक है और एक संक्रमित व्यक्ति 16 लोगों को संक्रमित कर सकता है। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal

From around the web