डेनमार्क के विशेषज्ञ दल का चार दिवसीय दौरा संपन्न


डेनमार्क के विशेषज्ञ दल का चार दिवसीय दौरा संपन्न

उदयपुर के जल प्रबंधन व गुमानिया नाला सुधार पर हुआ व्यापक संवाद

 
denmark
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर 5 मई 2022।  भारत सरकार एवं डेनमार्क सरकार के मध्य की ग्रीन स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप तथा नगर निगम, उदयपुर और आरहूस डेनमार्क म्युनिसिपल्टी सिस्टर सिटी पार्टनरशिप के तहत चार दिवसीय यात्रा पर आये डेनमार्क के विशेषज्ञ दल का उदयपुर दौरा गुरुवार को संपन्न हुआ।

पॉलिटेक्निक के प्राचार्य डॉ अनिल मेहता तथा डेनमार्क दूतावास की जल व शहरी विकास अधिकारी डॉ अनिता कुमारी शर्मा ने बताया कि दल ने विद्या भवन पॉलिटेक्निक सभागार मे नागरिकों, वैज्ञानिकों तथा जल से जुड़े सरकारी विभागों से आयड नदी बेसिन के समग्र जल संसाधन प्रबंधन पर संवाद किया। वहीँ नगर निगम सभागार मे गुमानिया नाला सुधार पर चर्चा की।   

विद्या भवन मे आयोजित संवाद की शुरुआत रंगकर्मी विलास जानवे तथा किरण जानवे की जल संरक्षण नाटिका से हुई। संवाद मे उदयपुर के जल प्रबंधन के लिए आवश्यक आंकड़ों यथा बरसात की मात्रा, सतही व भूजल की गुणवत्ता, भूजल के स्तर मे उतार चढ़ाव इत्यादि के मापन मे जुड़ने के लिए नागरिक समाज ने संकल्प व्यक्त किया। 

मेहता व डॉ अनिता ने बताया कि मदार झीलों से लेकर वल्लभ नगर तक के आयड नदी बेसिन मे पच्चीस स्थानो पर इस मापन मे विद्यार्थी, युवा व नागरिक संगठन जुड़ेंगे।

संवाद मे कोपेनहेगन विश्व विद्यालय के डॉ कार्सटन, डेनिश हाइड्रोलॉजिकल इंस्टीट्यूट के तकनीकी निदेशक डॉ तिरुमलेश्वर रेड्डी व कुलदीप परेता ने संपूर्ण नदी बेसिन व गुमानिया नाला का माइक शी हाइड्रोलॉजिकल मॉडल प्रस्तुत किया। जियोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ डेनमार्क के सचिन करण तथा उदयपुर के भूजल विशेषज्ञ रवि शर्मा ने आयड नदी बेसिन के भूविज्ञानीय स्वरूप पर जानकारी रखी। 

विद्या भवन के अध्यक्ष अजय एस मेहता, डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्ज की उपाध्यक्ष डॉ के विजय लक्ष्मी सहित सीटीएइ के डीन डॉ पी के सिंह, सुखाड़िया विश्वविद्यालय भूगोल विभाग की प्रमुख प्रो सीमा जालान, नेशनल ब्यूरो ऑफ सोइल साइंस व लैंड यूज प्लानिंग के तकनीकी अधिकारी डॉ बी एल टेलर, पूर्व आईएफएस ओ पी शर्मा, प्रदूषण नियंत्रण मंडल के पूर्व अधिकारी नवीन व्यास, सेवा मंदिर के पंकज जोशी, जलदाय विभाग के अभियंता प्रतीक राव, मुस्कान क्लब के सचिव डॉ नरेश शर्मा, गीतांजलि टेक्निकल इंस्टीट्यूट के प्रो मनीष वर्मा, जल प्रेमी डॉ पी सी जैन, तेज शंकर पालीवाल, नंद किशोर शर्मा, पीयूष जोशी, कुशल रावल, भरत कुमावत, सुनील दुबे, राकेश पालीवाल, अनिश केसरी सहित उपस्थित नागरिकों ने जल व झील प्रबंधन पर विचार रखे। 

उधर नगर निगम सभागार मे मेयर जी एस टांक, उप मेयर पारस सिंघवी, आयुक्त हिम्मत सिंह बारहठ की उपस्थिति मे डेनमार्क आर्किटेक्चर विश्व विद्यालय के प्रो क्रिस, आरहूस मुनिसिपल कॉर्पोरेशन की जल व नदी सुधार विशेषज्ञ क्रिस्टिना मार्डि, निगम व स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अभियंता मुकेश पुजारी, शशि बाला सिंह, करुणेश् माथुर, उदयपुर के प्रमुख वास्तुकार सुनील लड्ढा, इंटेक उदयपुर चेप्टर के सचिव गौरव सिंघवी, विद्या भवन की वनस्पति विशेषज्ञ डॉ अनिता जैन, इकलाइ संस्था के भूपेंद्र सालोदिया ने गुमानिया नाला के जीर्णोद्धार पर विस्तार से चर्चा की।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal