हिमाचल पूर्व सीएम परिवार मामला-पत्नी ने भरण-पोषण के लिए मांगे है प्रतिमाह पांच लाख रुपए

हिमाचल पूर्व सीएम परिवार मामला-पत्नी ने भरण-पोषण के लिए मांगे है प्रतिमाह पांच लाख रुपए

अगली पेशी 4 फरवरी को होगी 

 
judgement

उदयपुर 21 जनवरी 2023 । हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय वीरभद्र सिंह के पुत्र एवं हिमाचल प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री विक्रमादित्य सिंह शुक्रवार को न्यायालय में पेश नहीं हुए। सिंह के खिलाफ उनकी पत्नी सुदर्शना चूंडावत ने भरण-पोषण का मामला दर्ज करवा रखा है जिसमें उन्होंने प्रतिमाह पांच लाख रुपए देने की मांग कर रखी है। इससे पूर्व विक्रमादित्यसिंह और उनका परिवार दहेज प्रताड़ना मामले में 13 जनवरी को कोर्ट में पेश नहीं हुआ था। दोनों ही मामलों में समन तामील हो चुके हैं। अब दोनों मामले में अगली पेशी 4 फरवरी को रखी गई है।

परिवादी सुदर्शना सिंह चूंडावत निवासी आमेट की हवेली, उदयपुर के वकील भंवरसिंह देवड़ा ने बताया कि हिमाचल प्रदेश के बुशहर शिमला राजघराने के सदस्य एवं लोक निर्माण विभाग मंत्री विक्रमादित्य सिंह के खिलाफ पेश भरण-पोषण मामले में उन्हें शुक्रवार को न्यायालय में पेश होना था, लेकिन वे नहीं पहुंचे। उनकी पत्नी चुंडावत ने सास व हिमाचल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभासिंह, ननद अपराजिता सिंह, ननदोई अंगद सिंह के खिलाफ 17 अक्टूबर 2022 को घरेलू हिंसा मामले में परिवाद दर्ज करवाया था। इस पर न्यायालय ने आरोपियों के खिलाफ समन जारी किया, जो तामील हो गया। विक्रमादित्य ने सुदर्शना से वर्ष 2019 में विवाह किया था।

परिवादी सुदर्शना ने परिवाद में उनके पति विक्रमादित्यसिंह पर शिमला के किसी पंडित के कहने पर उसे तलाक देने तथा उसके बाद प्रेमिका से विवाह करने की योजना बनाने का आरोप लगाया है। परिवाद में विक्रमादित्यसिंह के शादी से पूर्व एक अन्य युवती के साथ प्रेम संबंध होने की जानकारी दी गई है।

उनका गृहस्थ जीवन अस्त-व्यस्त होने के पीछे सबसे बड़ा कारण पति की प्रेमिका और उससे दूसरा ब्याह करने की मंशा है। आरोपी पति व उसके परिजन उसे महज इसलिए प्रताड़ित करते थे कि वे उसके पति की अमरीन नामक युवती से दूसरी शादी करवाना चाहते थे। परिजन व पति कहते थे कि सुदर्शना से शादी तो केवल इसलिए करवाई गई क्योंकि एक पंडित ने कहा कि अमरीन से पहली शादी करोगे तो अकाल मृत्यु हो सकती है। किसी अन्य से शादी कर उसे तलाक दो, फिर अमरीन से शादी कर लेना। इसीलिए विक्रमादित्यसिंह ने शादी के बाद उसे उनके जीवन से निकालने के लिए हर तरह से यातनाएं देना शुरू कर दिया था।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal

From around the web