जेएसजी लेकसिटी ने एमबी हॉस्पीटल के सेन्ट्रल लैब में भेंट की 45 लाख की मशीन

जेएसजी लेकसिटी ने एमबी हॉस्पीटल के सेन्ट्रल लैब में भेंट की 45 लाख की मशीन

एस्प्रेन हाईब्रिड 1000 स्वचालित मूत्र रसायन एवं माइस्क्रोस्कोपी विश्लेषक तथा आईएसडी इएस आर सिस्टम मशीन

 
JSG

उदयपुर 19 दिसंबर 2022 । जैन सोश्यल ग्रुप लेकसिटी उदयपुर जैन सोश्यल ग्रुप्स इंटरनेशनल फेडरेशन की और से सम्भाग के सबसे बड़े एम.बी. हॉस्पीटल की सेन्ट्रल लेब में 45 लाख की एस्प्रेन हाईब्रिड 1000 स्वचालित मूत्र रसायन एवं माइस्क्रोस्कोपी विश्लेषक तथा आईएसडी इएस आर सिस्टम मशीन भेंट की गई। जिसका लोकार्पण समारोह आर.एन.टी. मेडिकल कॉलेज के सभागार में आयोजित किया गया।

समारोह में कोरोनाकाल जैसी महामारी के दौरान की गई डॉ. लाखन पोसवाल द्वारा की गई स्वास्थ्य सम्बन्धी मानवीय सेवाओं के लिए डॉ. पोसवाल का जहां माला, पगड़ी, शॉल उपरना एवं अभिनन्दन पत्र भेंट कर नागरिक अभिनन्दन किया गया, वहीं डॉ. आर.एल. सुमन सहित विभिन्न विशेषज्ञों का माला, पगड़ी एवं उपरने के साथ सम्मान कर कोरोना जैसी महामारी में मानव जीवन बचाने के लिए उनके द्वारा की गई अतूलनीय सेवाओं की प्रशंसा की गई।

जेएसजी लेकसिटी के संस्थापक अध्यक्ष सीए आर.सी.मेहता ने बताया कि  ने बताया कि लोकार्पण मुख्य अतिथि डॉ. लाखन पोसवाल, विशिष्ठ अतिथि डॉ. आर.एल. सुमन, कुशल कोठारी, आर.सी. मेहता, मोहन बोहरा, अनिल नाहर के साथ ही जोन कोर्डिनेटर हेमन्त ओस्तवाल, ग्रुप अध्यक्ष पारस जैन एवं ग्रुप सचिव अशोक चौधरी के हाथों हुआ। समारोह के शुभारम्भ नवकार महामंत्र के जाप एवं दीप प्रज्वलन के साथ हुआ।

समारोह में अपने विचार व्यक्त करते हुए डॉ. लाखन पोसवाल ने कहा कि कोरोना जैसी महामारी से लडऩा इतना आसान नहीं था। फिर भी हमारी टीम ने रात- दिन एक कर, हर कोरोना मरीज को सम्भाला, उनकी हर तरह से सेवा की, जिसको जैसी जरूरत थी उनकी जांचें, उन्हें दवाएं, ऑक्सीजन, बैड उपलब्ध करवाये। इस कार्य में जैन सोश्यल जैसे कई ग्रुप्स, संस्थाओं और भामाशाहों की भी मदद ली गई। सभी ने खुले हाथों से मेडिकल टीम की मदद की और आज हम कोरोना को हरा पाये। उन्हेंने कहा कि 45 लाख की एस्प्रेन हाईब्रिड 1000 स्वचालित मूत्र रसायन एवं माइस्क्रोस्कोपी विश्लेषक तथा आईएसडी इएस आर सिस्टम मशीन निश्चित तौर पर मरीजों के लिए वरदान साबित होगी।

डॉ. आर.एल. सुमन ने नई मशीन भेंट करते हुए जैन सोश्यल ग्रुप का आभार ज्ञापित करते हुए कोरोनाकाल के अब तक के सबसे बुरे उस दौर को याद करते हुए अपने अनुभव साझा किये। उन्होंने कहा कि यह बात सच है कि डॉक्टर से मरीज के परिजनों की खूब अपेक्षाएं होती है। डॉक्टर भी अपनी और से भरपूर मेहनत करते हैं। सभी यही चाहते हैं अस्पताल में आया हुआ हर मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जाए। कोरोनाकाल में पूरी टीम ने खूब मेहनत की और उसी की बदौलत आज हम कोरोना पर विजयी हुए। नई मशीन के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि मशीन के लोड होते ही इस पर काम शुरू हो जाएगा और निश्चित तौर यह मशीन मरीजों के लिए संजीवनी साबित होगी। यह मशीन क्या है, यह कैसे काम करेगी और इसके क्या फायदे होंगे इस बारे में भी समारोह में विस्तार से बताया।

समारोह में अरूण बोर्दिया ने फैडरेशन के सूत्र का साथ चलें, समान चलें, बन्धुत्व से प्रेम बन्धुत्व से सेवा का वाचन किया। पारस जैन ने स्वागत उद्बोधन देते हुए कहा कि यह मशीन निश्चित तौर पर एमबी हॉस्पीटल में मरीजों के लिए वरदान साबित होगी और इससे ज्यादा से ज्यादा मरीजों को फायदा होगा। आर.सी. मेहता ने कहा कि सेवा तो हमारे खून में हैं। जैन सोश्यल ग्रुप सेवा के क्षेत्र में हमेंशा आगे रहता है। सेवा के क्षेत्र में मेवाड़ की टीम कभी पीछे नहीं रहती है। 

उन्होंने कोरोना जैसी महामारी के दौर में जैन सोश्यल ग्रुप की सेवाओं के बारे में विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि जिस हॉस्पीटल में जहां जिस तरह की आवश्यकताएं थी जैन सोश्यल ग्रुप ने बढ़- चढ़ कर सेवा करने का काम किया। उन्होने कहा कि पूर्व में भी इस तरह की सेवाएं जैन सोश्यल ग्रुप करता आया है। वर्तमान में 45 लाख की लागत से भेंट की गई इस मशीन के लिए उन्होंने भामाशाहों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनका दान व्यर्थ नहीं जाएगा क्योंकि यह मशीन सही जगह और सही हाथों में होने से इसका लाभ ज्यादा से ज्यादा मरीजों को इसका फायदा मिलेगा।

मोहन बोहरा ने कहा कि जैन समाज चौरिटी में हमेंशा ही आगे रहता है। इससे पूर्व राजसमन्द में भी जैन सोश्यल ग्रुप ने हॉस्पीटल में चौरिटी के कार्य किये हैं जिनका लाभ आज आमजन को मिल रहा है।

जेएसजी मेवाड़ रिजन के चेयरमैन इलेक्ट अनिल नाहर ने कहा कि जैन सोश्यल ग्रुप के सेवा प्रकल्पों की लिस्ट बहुत लम्बी है। यह ऐसा संगठन है जो पीड़ित और समाज सेवा में हमेंशा आगे रहता है। उन्होंने कहा कि कोरोनाकाल में जिस तरह से आर.एन.टी. मेडिकल कॉलेज और एम.बी. हॉस्पीटल के स्टॉफ ने जन- मन धन से सेवा देते हुए कोराना से ग्रसित मरीजों को मौत के मुंह में जाने से बचाया उसकी जितनी तारीफ की जाए कम है। इसके लिए एमबी हॉस्पीटल की सम्पूर्ण टीम बधाई की पात्र है। 

समारोह में डॉ. संध्या बोर्दिया, डॉ. नमिता का भी अभिनंदन किया गया। कार्यक्रम में डॉ. आर.एल.जोधावत, ओ.पी.चपलोत, जेएसजी के अन्तर्राष्ट्रीय जनरल सेक्रेट्री अभय नाहर, नगर निगम के क्षेत्रीय उप निदेशक कुशल कोठारी, अध्यक्ष पारस जैन, सचिव अशोक चौधरी, कोषाध्यक्ष नरेन्द्र लोढ़ा सहित मेवाड़ रिज़न के अनेक सदस्य मौजूद थे। समारोह का संचालन आलोक पगारिया ने किया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal