नहीं रहे प्रमुख समाजवादी नेता मुलायम सिंह यादव

नहीं रहे प्रमुख समाजवादी नेता मुलायम सिंह यादव

मंगलवार को दोपहर 3 बजे उनका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा

 
mulayam singh yadav

समाजवादी पार्टी के संरक्षक और प्रमुख समाजवादी नेता मुलायम सिंह यादव का आज सोमवार सुबह करीब सवा आठ बजे निधन हो गया। उन्होंने सुबह 8 बजकर 16 मिनट पर गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में अंतिम सांस ली। 

82 साल के मुलायम यूरिन इन्फेक्शन के चलते 26 सितंबर से मेदांता अस्पताल में भर्ती थे। अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी के ट्विटर हैंडल पर मुलायम के निधन की जानकारी दी। मुलायम की पार्थिव देह सैफई ले जाई जाएगी। मंगलवार को दोपहर 3 बजे उनका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।

मुलायम को 2 अक्टूबर को ऑक्सीजन लेवल कम होने के बाद ICU में शिफ्ट किया गया था। उन्हें यूरिन में इन्फेक्शन के साथ ही ब्लड प्रेशर की समस्या बढ़ गई थी। बाद में उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट कर दिया गया था।

8 बार यूपी विधानसम्भ में निर्वाचित होने वाले मुलायम सिंह यादव तीन बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके है। 1989 में जनता दल की लहर में उत्तर प्रदेश से मज़बूत नेता बनकर उभरे और मुख्यमंत्री चुने गए 1991 में जनता दल में टूट होने और अयोध्या में कारसेवको पर गोली चलने के घटना बाद भाजपा ने सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया। अल्पमत में आने के बाद उनकी सरकार गिरा दी गयी थी। 

1992 में बाबरी मस्जिद गिरने के बाद प्रदेश में भाजपा की लहर का मुकबला तत्कालीन बसपा प्रमुख कांशीराम के साथ मिलकर उत्तरप्रदेश में सफलता हासिल की और पुनः 1993 में मुख्यमंत्री बने लेकिन 1995 में गेस्ट हॉउस कांड के बाद बसपा ने समर्थन वापिस ले लिया था। 2003 में अपने अकेले दम पर बहुमत पाकर पांच साल की सरकार चलाई। 

एक समय में प्रधानमंत्री पद के दावेदार मुलायम ने केंद्र में देवगौडा सरकार और गुजराल सरकार में रक्षा मंत्री का पद भी संभाला था। लोकसभा के लिए भी वह सात बार निर्वाचित हुए थे।         

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal