जयसमंद से उदयपुर में जल आपूर्ति का विरोध

जयसमंद से उदयपुर में जल आपूर्ति का विरोध 

ग्रामीणों का कहना है कि उनके पास जयसमंद जैसी बड़ी झील होने के बावजूद उन्हें सिंचाई और पेयजल के लिए संकट का सामना करना पड़ सकता है। 
 
jaisamand
ग्रामीणों द्वारा अचानक आंदोलन शुरू कैसे किया गया कहीं इसके आड़ में कोई राजनीतिक हाथ तो नहीं है।

उदयपुर जिले में स्थित एशिया की सबसे बड़ी मानव निर्मित झील जयसमंद झील के मीठे पानी को लेकर विवाद की स्थिति बन गई है। जल संसाधन विभाग द्वारा जयसमंद झील से उदयपुर शहर को पेय जल दिया जाता है। यही बात जयसमंद के आसपास के गांव के ग्रामीणों को रास नहीं आ रही है और उन्होंने एक बड़ा आंदोलन छेड़ दिया है। उनकी मांग है कि जयसमंद झील का पानी उनके क्षेत्र को ही दिया जाए। 

इधर एक और चर्चा का विषय छिड़ा हुआ है कि जयसमंद की पेयजल योजना तो बरसों पहले ही बन गई थी लेकिन ग्रामीणों द्वारा अचानक आंदोलन शुरू कैसे किया गया कहीं इसके आड़ में कोई राजनीतिक हाथ तो नहीं है।

ग्रामीण बुधवार को भी जयसमंद झील पर जुटे और उन्होंने उदयपुर को पानी दिए जाने का विरोध किया। ग्रामीणों का कहना है कि उनके पास जयसमंद जैसी बड़ी झील होने के बावजूद उन्हें सिंचाई और पेयजल के लिए संकट का सामना करना पड़ सकता है। 

आपको बता दें कि जलदाय विभाग ने उदयपुर में पेयजल व्यवस्था के लिए जयसमंद झील से उदयपुर को पेयजल देने के लिए करोड़ों रुपए की योजना को मूर्त रूप दिया था। करीब एक तिहाई उदयपुर को जयसमंद का पानी सप्लाई किया जाता है। हालांकि कुछ ग्रामीण इससे भी सहमत हैं कि पहले उनकी पानी की पूर्ति की जाए उसके बाद उदयपुर को पेयजल दिया जाए तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं है। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal