RBSE12वीं साइंस-कॉमर्स का रिजल्ट जारी, लड़कियों ने मारी बाजी


RBSE12वीं साइंस-कॉमर्स का रिजल्ट जारी, लड़कियों ने मारी बाजी

उदयपुर में साइंस का रिजल्ट 94.88 प्रतिशत रहा, कॉमर्स में 96.33 प्रतिशत स्टूडेंट पास

 
RESULT
UT WhatsApp Channel Join Now

राजस्थान के 12वीं साइंस और कॉमर्स के छात्र-छात्राओं का इंतजार खत्म हो गया है। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 12वीं कॉमर्स और साइंस का रिजल्ट आज जारी कर दिया है। इस बार भी लड़कियां फिर लड़कों से आगे रही। इस साल साइंस में 94.88% और कॉमर्स में 96.33 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए।  एडमिनिस्ट्रेटर एल.एन.मंत्री ने बोर्ड के कांफ्रेंस हॉल में रिजल्ट जारी किया। लड़कियां फिर लड़कों से आगे हैं लड़कियों ने इस साल भी शानदार प्रदर्शन करते हुए लड़कों को पीछे छोड़ दिया। 

साइंस में लड़कियों का पासिंग प्रतिशत 94.79 रहा, जबकि लड़कों का 94.44 प्रतिशत रहा। कॉमर्स में लड़कियों का पासिंग परसेंटेज 99.15 और लड़कों का पासिंग प्रतिशत 94.44 प्रतिशत रहा। कॉमर्स में कुल 1490 छात्र रजिस्टर्ड हुए। जिनमें से 1472 ने परीक्षा दी। इनमें से 1418 पास हुए। इनमें से 842 छात्र फर्स्ट डिविजन से पास हुए। जबकि 511 सैकंड और 65 थर्ड डिविजन से पास हुए। वहीं साइंस में 5517 छात्र रजिस्टर्ड हुए। इनमें से 5474 ने परीक्षा दी। इन छात्रों में से 5194 छात्र पास हुए। इनमें से 3901 फर्स्ट डिविजन, 1276 सैंकड डिविजन और 3 छात्र थर्ड डिविजन पास हुए। 

इसके बाद जारी होगा 12वीं आर्टस का रिजल्ट

पिछले साल तीनों सब्जेक्ट (साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स) का रिजल्ट एक साथ जारी किया गया। यह बोर्ड के इतिहास में पहली बार था। इस बार आर्टस में करीब छह लाख स्टूडेंट्स हैं। इनके रिजल्ट को लेकर भी बोर्ड की ओर से तैयारी की जा रही है। अगले सप्ताह में बोर्ड आर्टस का रिजल्ट भी जारी कर सकता है। 

कक्षा 10 के परिणाम 15 जून तक घोषित किए जाएंगे

आरबीएसई कक्षा 10 के परिणाम 15 जून तक घोषित किए जाएंगे, जबकि अभी कक्षा 5 और 8 के छात्रों के परिणामों की तिथि आनी बाकी है। पिछली बार कोरोना महामारी के कारण इन परीक्षाओं का आयोजन नहीं किया गया था, और वैकल्पिक मूल्यांकन योजना के आधार पर परिणाम तैयार किए गए थे। लेकिन इस बार ऑफलाइन आयोजित हुए पेपर में प्राप्तांकों के आधार पर नंबर दिए जाएंगे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal