सुन्दरवास में युवती की हत्या का आरोपी 7 महीनो के बाद भी नहीं हुआ गिरफ्तार


सुन्दरवास में युवती की हत्या का आरोपी 7 महीनो के बाद भी नहीं हुआ गिरफ्तार  

दिन-दहाड़े की थी युवती की हत्या

 
Sohail Khan
UT WhatsApp Channel Join Now

घर में घुस कर मारी थी गोली

उदयपुर शहर के सुन्दरवास क्षेत्र में पिछले साल 1 जून में शिव-ज्योति अपार्टमेंट में दिन दहाड़े हुई 27 वर्षीय युवती नेहा कुमारी की हत्या का पुलिस 7 महीनो के बाद भी खुलासा नहीं कर पाई है और हत्या का आरोपी अभी भी बेखौफ आजाद घूम रहा है। अधिकारीयों का कहना है की आरोपी के गिरफ़्तारी के प्रयास लगातार जारी है और उसे जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

घटना बुधवार 1 जून की शाम को हुई जब अपार्टमेन्ट की तीसरी मंजिल पर बने फ्लेट में अपने पति और बच्ची के साथ रह रही महिला के घर में घुस कर आरोपी ने 3 गोलियां चलाई जिसमे से एक गोली उसके सर में लगी और उसकी मौत हो गई।

घटना के कुछ समय बाद घटना का एक विडियो भी सोशल मिडिया पर वाइरल हुआ जिसमे आरोपी को घटना के बाद पीडिता के घर के बाहर बेखोफ आते हुए देखा गया, वह अपने एक साथी के साथ स्कूटी पर बेठकर जाते हुए भी देखा जा सकता था, लेकिन सुन्दरवास जेसे व्यस्ततम क्षेत्र में दिन दहाड़े हत्या करके सही सलामत आरोपी का निकल जाना अपने आपमें आरोपियों में पुलिस के खौफ होने की बात पर भी एक सवाल खड़ा करता है।

घटना को आरोपी द्वारा उस समय अंजाम दिया गया जब मृतका नेहा का पति काम पर गया हुआ था, और वो अपनी बच्ची के साथ घर में अकेली थी. आरोपी ने पहले सड़क पर खेल रहे कुछ बच्चों से मृतका का पता पूछा और फिर उपर जा कर डोर बेल बजाई, जेसे ही उसने दरवाजा खोला आरोपी ने उसपर गोली चला दी। गोली की आवाज सुन कर पड़ोस में रहने वाले लोग भी बाहर आए लेकिन सब के सामने से आरोपी बेखौफ निकल कर चला गया।

हालाँकि इसके चलते पुलिस को कई सुराग भी हाथ लगे, पुलिस को जानकारी मिली की घटना को अंजाम देने से पहले आरोपी ने सूरजपोल थानाक्षेत्र से स्कूटी किराए पर ली थी और उसके लिए एक आधार कार्ड की कॉपी दूकानदार को दी थी जिसपर उसका पता दिल्ली का था लेकिन पता लगाने पर वो पता फर्जी निकला। तो वही मृतका के पति चन्दन सिंह ने आरोपी की पहचान शक्ति सिंह निवासी बिहार के रूप में की थी। पुलिस का दावा था की आरोपी की शिनाख्त होते ही पुलिस ने उसके घर और आस पास उसके सभी ठिकानो पर दबिश दी लेकिन उसका कोई निशान तक नहीं मिला। 

अब इस घटना को 7 महीने हो चुके है और ऐसे में जो सवाल उठता है वो ये है की जब पुलिस उसके घर तक पहुँच गई तो भी अभी तक आरोपी खुला क्यों घूम रहा है, पुलिस उसे गिरफ्तार क्यों नहीं कर पा रही है। 

एक सवाल ये भी उठता है की जब कोई आम व्यक्ति चोराहे से बिना हेलमेट के गुजरता है तो उसे रोक लिया जाता है और उसकी चेकिंग की जाती है, लेकिन कोई संदिग्ध व्यक्ति अपने पास हथियार लेकर शहर में घूमता है तो पुलिस उसे कोई नहीं पकड पाती? अगर ऐसे संदिग्धों को पहले ही पकड़ा लिया जाए तो शायद वो किसी वारदात को अंजाम ही नहीं दे पाए। 

हालाँकि अब तक इस दिन दहाड़े हुए हत्या कांड के आरोपी की गिरफ़्तारी अभी भी शेष है और पुलिस द्वारा अभी भी उसकी तलाश की जा रही है, लेकिन ऐसे में जनता का पुलिस के प्रति विश्वास अब हिलने लगा है। 

गौरतलब है की औरंगाबाद निवासी नेहा अपने पति चन्दन के साथ उत्तरी सुन्दरवास में बने शिव ज्योति अपार्टमेंट में रहती थी ,नेहा के पति ने पुलिस को बताया था की पूर्व में उसकी पत्नी नेहा की की आरोपी शक्ति सिंह से सगाई हुई थी लेकिन किसी कारण से सगाई टूट गई,और इसके एक साल के बाद नेहा की शादी चन्दन से हो गई। लेकिन इसके बाद से ही आरोपी लगातार नेहा को गोली मरने की धमकी देने लगा था। 

अब देखना ये होगा की पुलिस कब तक आरोपी को गिरफ्तार करने में सफल हो पाती है।   

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal