धार्मिक संगठनों ने की माँजी मंदिर की पवित्रता भंग करने वाले दोषियों के विरुद्ध कार्यवाही की मांग

धार्मिक संगठनों ने की माँजी मंदिर की पवित्रता भंग करने वाले दोषियों के विरुद्ध कार्यवाही की मांग

मुख्यमंत्री के नाम दिया ज्ञापन

 
manji ka mandir

उदयपुर 28 फ़रवरी 2024। कुछ दिनों पूर्व माँजी मंदिर एवं घाट परिसर एवं धार्मिक आस्था के केंद्र मंदिर परिसर के पास पर्यटकों को शराब परोसी जाने की घटना के संदर्भ में बुधवार को विभिन्न संगठनों द्वारा कलेक्ट्री पर धरना प्रदर्शन कर इस घटना के खिलाफ नाराजगी जाहिर की गई साथ ही इस घटना के विरोध कार्यवाही करने की मांग की गई।  

इस मौके पर सनातनी धर्मावलंबियों, आमजन, माँजी मंदिर बचाओ संघर्ष समिति, विश्व हिंदू परिषद,उदयपुर, श्री राम सेना (मेवाड़), हिंदू मित्र संगठन, श्री क्षत्रिय कुमावत समाज नवयुवक, मुकुंदपुरा, चांदपोल उदयपुर एवं अन्य संगठनों द्वारा मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर उदयपुर को ज्ञापन देकर मांग की गई की कुछ दिनों पूर्व माँजी मंदिर एवं घाट परिसर पर देवस्थान विभाग के अधिकारियों एवं ठेकेदार की लापरवाही की वजह से धार्मिक आस्था के केंद्र मंदिर परिसर के पास पर्यटकों को शराब परोसी गयी, जिससे मंदिर अपवित्र हुआ, मंदिर मर्यादा खंडित हुई है, जिसकी वजह से सनातनी हिंदू समाज/धर्मावलंबियों में भारी आक्रोश है। 

विश्व हिंदू परिषद के महानगर मंत्री अशोक प्रजापत ने बताया की इस घटना में कही न कहीं ठेकेदार की गलती है, क्योंकी वो शुल्क लेकर किसी को भी घाट पर जाने देता है, और साथ ही देवस्थान विभाग की भी इसमें कहीं न कहीं मौन स्वीकृति है, क्योंकी कई घटनाएं पूर्व में भी होने के बावजूद कोई कार्यवाही नहीं की गई है। समय समय पर विभाग को अवगत कराया जा रहा है लेकिन कोई कार्यवाही नहीं की गई है। 

प्रजापत ने कहा की इस कोई लेकर कलेक्टर साहब से आग्रह किया गया है की दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की जाए और इस ठेके को निरस्त किया जाए, क्योंकी मंदिर आमजन के लिए है , यह जगह को पर्यटन के लिए नहीं है की आप प्री वेडिंग शूट के लिए टेंडर जारी कर दिया जाए। जब कोई वहां पर दर्शन करने जाता है तो उससे भी शुल्क वसूल किया जाता है, ऐसे में आम आदमी वहां पर जा ही नहीं सकता, इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर साहब से टेंडर निरस्त करने की मांग की गई है। प्रजापत ने कहा की कलेक्टर साहब ने भी एक लेटर जारी करके बविष में टेंडर नहीं करने के आदेश देने का आश्वासन दिया है।   

इस दौरान माँजी मंदिर संघर्ष समिति के संयोजक हरीश तिवारी, सह-संयोजक रोहित चौबीसा, सदस्य निर्मल चौबीसा, भारत कुमावत, जय सोनी, कुंदन सलवाडीया, एकलिंग नाथ पुरोहित, केशवकान्त जोशी, दिनेश नरुका, कुंदन देवड़ा, श्याम सुंदर चौबीसा, बजरंग दल संयोजक ललित लोहार, विभाग संयोजक करण सिंह ,मनजीत सिंह, अविनाश कुमावत, आकाश सोनी, अजय सालवी, मनीष पटेल, गीता मानावत, सुषमा शुक्ला, प्रीति,पूजा, महेंद्र, जगदीश सोनी, केशव मोड, लोकेश सेन  श्री कुमावत समाज नवयुवक मंडल मुकुन्दपुरा, चाँदपोल, उदयपुर के अध्क्षक एडवोकेट भारत अजमेरा, महामंत्री गोपाल साडीवाल, कोषाध्यक्ष-अनुराग खंडारिया, पवन अजमेरा, श्री राम सेना के उमेश नागदा, गोपाल, विशाल, प्रदीप अजमेरा, हिन्दू मित्र संगठन, उदयपुर महानगर के पराग वैष्णव, राज माली, धर्मेंद्र, समाजसेवी - शांतिलाल मेहता, दिनेश चौबीसा, मोहित चौबीसा और अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal