बांसवाड़ा में स्वर्ण खदान के ऑक्शन की राह खुली


बांसवाड़ा में स्वर्ण खदान के ऑक्शन की राह खुली

1.34 लाख करोड़ रुपए के भंडार  

 
banswara
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर, 30 सितम्बर 2023। बांसवाड़ा की खदानें अब सोना उगलेंगी। दरअसल प्रदेश में सोने की खान के ऑक्शन की राह प्रशस्त हो गई है। बांसवाड़ा के भूखिया जगपुरा क्षेत्र के स्वर्ण के भंडार का ऑक्शन न्यायालय में विचाराधीन था। फैसला सरकार के पक्ष में आया है।

एसीएस माइंस वीनू गुप्ता ने कहा कि हाई कोर्ट में सरकार को है। खदान की नीलामी के लिए आवश्यक औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं। एक अनुमान के अनुसार यहां सोने के साथ तांबा, कोबाल्ट व निकल के भी भंडार हैं। यहां करीब 1,34,178 करोड़ रुपए का स्वर्ण भंडार और 7720 करोड़ के तांबे का भंडार है।

निदेशक संदेश नायक ने बताया कि भारतीय भू वैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग द्वारा 1990-91 में किए गए सर्वेक्षण के दौरान स्वर्ण के संकेत मिले थे। उस समय 69.658 वर्ग किलोमीटर के तीन ब्लॉक खनन के लिए आरक्षित किए गए थे। इस क्षेत्र में खनन के दौरान 15 ब्लॉकों में 171 बोर होल्स में 46037.17 मीटर ड्रिलिंग करने पर स्वर्ण भंडार का पता चला। मालूम हो कि सोने के कणों के साथ ही तांबा, कोबाल्ट व निकल भी शामिल रहते हैं।

एक माह में टेंडर, डेढ़ माह ऑक्शन में लगेंगे 

  • अभी मामला  कोर्ट से ही फाइनल हुआ है, ऐसे कई तरह की क्लियरेंस का काम होगा। फिर निविदा जारी होने में करीब एक से सवा माह लगेगा।
  • ऑक्शन भारत सरकार के ई-पोर्टल पर होगा। ऑक्शन प्रोसेस पूरा होने में करीब डेढ़ से दो माह लगेंगे।
  • अंतरराष्ट्रीय स्तर पर निविदा होगी। इसमें बड़ी कंपनियां शामिल होंगी। जो कंपनी शर्तें पूरी करेगी, उसे ही खनन का अधिकार दिया जाएगा।
  • खदान में सीधे तौर पर एक हजार से 1200 लोगों को रोजगार मिलेगा। इसके बाद प्रोसेसिंग, बिक्री आदि में भी काम मिलेगा। प्रदेश सरकार का राजस्व बढ़ेगा तो उससे राजस्थान के विकास की संभावनाएं भी बढ़ेंगी।
  • खदान से जितना भी सोना, तांबा, निकल आदि निकलेगा, उसमें  नीलामी के अनुरूप बड़ा हिस्सा केंद्र सरकार को जाएगा। राजस्थान की हिस्सेदारी 8 फीसदी रहेगी। इसके अलावा दो फीसदी पैसा केंद्र के एक्सप्लोरेशन ट्रस्ट के खाते में जाएगा।

यहां करीब 11. 48 करोड़ टन सोना 

सर्वेक्षण में 14 ब्लॉक में 11.48 करोड़ टन सोने के भंडार का आकलन किया गया है। हालांकि क्षेत्र में 223.63 टन स्वर्ण धातु मिलने की संभावना है। चूंकि सोने की खदान में तांबा निकलता है। यहां सोने की तुलना में 0.15 फीसदी यानी करीब 1,54,401 टन तांबा है।  इसके अलावा कोबाल्ट करीब 13,739 टन, 11,146 टन निकल के भंडार संभावित हैं।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal