बांसवाड़ा-19 अक्टूबर 2023 की प्रमुख खबरे

बांसवाड़ा-19 अक्टूबर 2023 की प्रमुख खबरे 

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े उदयपुर टाइम्स पर 

 
banswara

News-जिला कलक्टर व एसपी ने झाबुआ, रतलाम कलक्टर व एसपी के साथ कुशलगढ़ की मध्यप्रदेश बोर्डर पर की बैठक

चैक पोस्टों का किया निरीक्षण

बांसवाड़ा, 19 अक्टूबर। विधानसभा आम चुनाव-2023 के मद्देनजर गुरूवार को बांसवाड़ा जिला कलक्टर प्रकाशचंद्र शर्मा एवं पुलिस अधीक्षक अभिजीत सिंह ने झाबुआ कलक्टर तनवी हुजा एवं झाबुआ एसपी अभय जैन के साथ कुशलगढ़ की मध्यप्रदेश बोर्डर के भेरू पछाड़ चैक पोस्ट पर बोर्डर बैठक की और निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार आवश्यक कार्यवाही की।

इस मौके पर जिला कलक्टर व एसपी बांसवाड़ा ने जिले में विधानसभा चुनाव आम चुनाव को लेकर की जा रही चौकसी की कार्यवाही के बारे में जानकारी से अवगत कराया तथा मध्यप्रदेश बोर्डर पर की जा रही कार्यवाही के बारे में चर्चा की।

चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग के निर्देश हैं कि सीमावर्ती जिलों के साथ नियमित बैठकें करने व आदर्श आचार संहिता की अक्षरशः पालना करें। 

बोर्डर बैठक के पश्चात जिला कलक्टर व एसपी ने अन्य सीमावर्ती चैक पोस्ट का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान रतलाम में रतलाम कलक्टर भास्कर लक्षकार एवं एसपी रतलाम राहुंल लोधा के साथ भी बैठक की और इंटर स्टेट चैक पोस्ट पर सख्त गहन निगरानी रखने पर विस्तृत चर्चा की, जिससे अवैध शराब, कैश, मादक पदार्थों की आवाजाही ना हो सके।

इस अवसर पर कुशलगढ़ तहसीलदार, एस.एच.ओ कुशलगढ व मध्यप्रदेश के उपखंड अधिकारी व तहसीलदार मौजूद रहे।

News-कागदी-पिक-अप वियर पर एनडीआरएफ व सिविल डिफेंस की टीम द्वारा मॉक ड्रिल 

बांसवाड़ा, 19 अक्टूबर। नागरिक सुरक्षा एवं आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम पर गुरूवार शाम को राधेश्याम नाम के व्यक्ति द्वारा सूचना दी गई की कागदी पिकअप में दो नावों में लगभग 15 स्कूली बच्चे सवार होकर कागदी सेर कर रहे थे अचानक दोनो नाव आपस में टकरा गई और देखने पर पता चलता है कि 5 बच्चे शायद घायल और 10 के आसपास लोग पानी में पड़े हुए हैं जो बचाव के लिए चिल्ला रहे हैं। 

ज्यादा बड़ी जनहानि नहीं हो इसके लिए मौके पर सहायता भिजवाने की जल्द से जल्द कोशिश करें। इतना सुनते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया और आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम से प्रशासन, पुलिस कार्यालय, सिविल डिफेंस, एसडीएम, तहसीलदार, पीएमओ, सीएमएचओ माही, पीएचइडी, पीडब्ल्यूडी, एवीवीएनएल, शिक्षा विभाग, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग और कोतवाली को सूचना दी गई सूचना मिलते ही सभी विभाग हरकत में आ गए और सब चिंतित थे सबके मन में एक ही डर था की स्कूली बच्चे हैं कोई बड़ी घटना नहीं हो जाए। सभी जब वहां मौके पर पहुंचे तब सबने राहत की सांस ली और मौके पर डूबे हुए लोगों को एन.डी.आर.एफ. और सिविल डिफेंस द्वारा रेस्क्यू किया जा रहा था कुछ बच्चे गंभीर अवस्था में थे और कुछ हाथ और पैर में चोट से घायल थे लेकिन जब सब को बाहर निकाल लिया गया तब सबको पता लगा कि यह प्रशासन एवं एन डी आर एफ की ओर से ’बाढ़, बचाव, डूब की घटनाओं के मध्य नजर संयुक्त मॉक ड्रिल थी’ और मानसून एवं अन्य प्राकृतिक आपदाओं से पहले किस प्रकार तैयारी की जाए इस को लेकर तैयारियों के लिए जायजा लिया गया है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कानसिंह भाटी ने एन.डी.आर.एफ. एवं सिविल डिफेंस स्वयंसेवकों को और अन्य सहयोगी विभागो को बधाई देते हुए बताया कि विगत वर्षाे से सिविल डिफेंस का बहुत सराहनीय कार्य रहा है मानसून सत्र प्रारंभ होने के साथ ही सिविल डिफेंस की जिम्मेदारियां ज्यादा बढ़ जाती है क्योंकि जिला बांसवाड़ा अधिक वर्षा वाला क्षेत्र है और अधिकतर दुर्घटनाएं पानी से डूबने की होती है । ऐसी घटनाओं से निपटने के लिए सिविल डिफेंस की ओर से कोशिश रहती हैं कि कम से कम समय में बचाव दल घटनास्थल पर पहुंच कर राहत दे सके।

एएसपी अभिजीत सिंह ने बताया कि बांसवाड़ा जिला काफी सुंदर है यहां पानी की उपलब्धता बहुत है इसलिए हमें मानसून में डूब की घटनाओं और मानसून के बाद व्हीकल दुर्घटनाओं के लिए लोगो को जागरूक करने की आवश्यकता है सभी विभागो को रिस्पॉन्स टाइम पर विशेष फोकस करना चाहिए।

मॉक ड्रील में एन.डी.आर.एफ टीम के सहायक कमांडेंट योगेश कुमार एवं सिविल डिफेंस टीम के तैराक और गोताखोरो ने चीफ वार्डन दीपेश शर्मा, लोकेंश कलाल, सुरेंद्र मीना के नेतृत्व में कार्य किया गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal