बांसवाड़ा-26 फ़रवरी 2024 की प्रमुख खबरे


बांसवाड़ा-26 फ़रवरी 2024 की प्रमुख खबरे 

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े उदयपुर टाइम्स पर 

 
banswara
UT WhatsApp Channel Join Now

News-जिला कलक्टर ने ली साप्ताहिक समीक्षा बैठक

बांसवाड़ा, 26 फरवरी। प्रत्येक सोमवार को आयोजित होने वाली  विभागीय कार्योे व गतिविधियों संबंधी समीक्षात्मक बैठक में जिला कलक्टर डॉ इन्द्रजीत यादव ने अधिकारियों द्वारा पिछली बैठक में दिये गये निर्देशों की पालना में ढिलाई बरतने को गंभीरता से लेते हुए समस्त विभागाधिकारियों को अपने-अपने विभागीय कार्यों को तत्परता से निपटाने के सख्त निर्देश दिये और कहा कि अपनी कार्य प्रणाली में बदलाव लाते हुए कार्यों में तेजी लाएं।

यह निर्देश उन्होंने सोमवार को कलक्ट्रेट परिसर स्थित जनसुनवाई कक्ष में आयोजित बैठक में उपस्थित अधिकारियों एवं वीसी के माध्यम से उपखंड अधिकारियों व विकास अधिकारियों को दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर अभिषेक गोयल, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वी.सी. गर्ग सहित विभागीय अधिकारीगण मौजूद थे।

बैठक में एजेण्डे के अनुसार सम्पर्क पेडेंसी, सम्पर्क निपटान, मासिक एवं दैनिक जनसुनवाई पेडेंसी, पेयजल आपूर्ति और ग्रीष्मकालीन आकस्मिक योजना, जेजेएम से संबंधित मुद्दों, घरेलु और कृषि बिजली आपूर्ति, क्षेत्रीय कार्यालयों के आकस्मिक निरीक्षण पर की गई कार्रवाई रिपोर्ट, अंतर विभागीय मुद्दों, खाद्य सुरक्षा अभियान, विभागों और उनके क्षेत्रीय कार्यालयों के लिए प्रमुख संकेतक, ई-फाईल, 100 दिन का अभियान, पेंशन और पालनहार के लंबित मामलों, आयुष्मान भारत ई-केवाईसी बकाया, सिकल सेल एनीमिया परीक्षण अभियान तथा सम्पर्क शिकायतों की गुणवत्ता निगरानी के तहत प्रत्येक डीएलओ द्वारा प्रति सप्ताह 5 निस्तारित शिकायतों के विश्लेषण आदि मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की गई तथा उक्त कार्यों के संदर्भ में विस्तृत दिशा-निर्देश दिये गये। 

बैठक में जिला कलक्टर डॉ. इन्द्रजीत यादव ने समस्त विगाधिकारियों, उपखंड अधिकारियों एवं विकास अधिकारियों को अब तक की प्रगति की जानकारी ली तथा विभागीय कार्यों को समय सीमा में पूर्ण कर अगली बैठक में प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।

बैठक मेें उन्होंने समस्त अधिकारियों से जनसुनवाई, रात्रि चौपाल में आ रही ग्रामीणों की समस्याओं को लेकर की गई कार्यवाही का फीडबैक लिया और कहा कि इस संबंध में कोई अधिकारी कोताही बरता है तो उसके खिलाफ चार्जशीट दिये जाने की कार्यवाही अमल में लायी जाएगी।

बैठक में विभागीय अधिकारियों को सम्पर्क पोर्टल पर लंबित रिपोर्ट साथ में लाने सहित जनसुनवाई में लंबित प्रकरण, विकसित भारत संकल्प शिविरों की प्रगति, पेयजल आपूर्ति एवं ग्रीष्मकालीन आकस्मिक योजना, घरेलु और कृषि बिजली आपूर्ति, एसजेईडी पेंशन एवं पालनहार वार्षिक सत्यापन की स्थिति तथा फील्ड कार्यालयों के आकस्मिक निरीक्षण पर की गई कार्य रिपोर्ट आदि बिन्दुओं पर चर्चा करते हुए समीक्षा की। जिला कलक्टर ने प्रधानमंत्री आवास संबंधी प्रकरणों को प्रथामिकता के साथ पूरा करने के भी निर्देश दिए। 

उन्होंने खाद्य वस्तुओं की सुरक्षा जाँच और नमूना एकत्र करने के कार्य को पारदर्शी और वस्तुपरक तरीके से सुनिश्चित करने एवं निरीक्षण के दौरान खाद्य पदार्थ के नमूने की जांच एवं प्राप्त सैंपल जब्त करते हुए कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने अस्पतालों में दिये जा रहें भोजन व खाद्य वस्तुओं का भी निरीक्षण करने के निर्देश दिए।

स्वीप गतिविधियों का करें प्रभावी क्रियान्वयन

बैठक में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं स्वीप प्रकोष्ठ के नोडल अधिकारी श्री वी सी गर्ग ने अधिकारियों  से कहा कि स्वीप कार्यक्रम को लेकर स्कूलों, संस्थाओं में अधिक से अधिक युवाओं को जागरुक करने और मतदाता शिक्षा, मतदाता जागरूकता का प्रचार-प्रसार करने एवं मतदाता की जानकारी बढ़ाने के लिए एक प्रमुख कार्यक्रम है। इसके लिए उन्होंने स्वीप गतिविधियों को प्रभावी क्रियान्वयन करते हुए अधिक से अधिक लोगों को जोडने पर जोर दिया। गर्ग ने बताया कि जिले में स्वीप कार्यक्रम को लेकर टीम का गठन कर लिया गया है। जिसमें चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, ग्रामीण व पंचायत राज,नगरीय निकाय, उच्च व स्कूल शिक्षा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिकता, अल्पसंख्यक, श्रम, सूचना एवं प्रौद्याौगिकी, पर्यटन, उद्योग आईसीडीएस आदि विभागों के साथ मतदाता पंजीयन एवं जागरुकता के लिए संबंधी विभागों के साथ प्रभावी क्रियान्वयन करने के निर्देश दिये गये।

News-अहिंसा एवं कौमी एकता सम्मेलन आयोजित, दो सत्रों में हुए व्याख्यान

बांसवाड़ा, 26 फरवरी। जिला शान्ति एवं अहिंसा प्रकोष्ठ, बांसवाड़ा द्वारा जिला स्तरीय अहिंसा एवं कौमी एकता सम्मेलन - 2024 का आयोजन दिनांक 26-02-2024 को स्वर्गीय हरिदेव जोशी रंगमंच बांसवाड़ा पर आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी कैलाश चन्द बारोलिया एवं विशिष्ट अधिकारी अतिथि मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी शम्भूलाल नायक द्वारा की गयी। 

कार्यक्रम का आरम्भ राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की तस्वीर पर दीप प्रज्ज्वल एवं प्रार्थना द्वारा किया गया। कार्यक्रम मुख्यतः दो सत्रों में किया गया। प्रथम सत्र में व्याख्यान मुकेश उपाध्याय द्वारा अहिंसा पर विभिन्न धर्मो के विचार व मान्यता, धर्मेन्द्र पटेल द्वारा विविधता में एकता का प्रतिमान, भारत का संविधान, घनश्याम जोशी, नजमूल हुसैन एवं संदीप पण्ड्या द्वारा विभिन्न धर्मो के गीत प्रस्तुत किये गए। द्वितीय सत्र में नागेन्द्र सिंह चौहान द्वारा केन्द्र एवं राज्य सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं पर प्रकाश डाला गया।

प्रितेश अधिकारी द्वारा राष्ट्रीय एकता में युवाओं की भूमिका एवं श्रीमती प्रीति कुलश्रेष्ठ द्वारा विभिन्न धर्मो में अहिंसा गीत तथा दीपेश शर्मा सी.ई.ओ. स्काउट गाईड द्वारा कौमी एकता की वर्तमान समय में प्रासंगिकता पर व्याख्यान प्रस्तुत किया गया।

अध्यक्षीय उद्बोधन में में अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी द्वारा कौमी एकता की वर्तमान में आवश्यकता एवं उसमें युवाओं की भूमिका पर प्रकाश डाला तथा विशिष्ट अतिथि द्वारा छात्रों की कौमी एकता का संदेश दिया। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती प्रीति कुलश्रेष्ठ एवं आभार श्री नजमूल हुसैन द्वारा किया गया।

News-अर्जित ज्ञान का क्रियान्वयन जीवन के लिए जरूरी-डॉ. पानेरी

बांसवाड़ा, 26 फरवरी। गोविन्द गुरू जनजातिय विश्व विद्यालय बांसवाड़ा के हिन्दी के प्रोफेसर एवं लेखक डॉ.नरेन्द्र पानेरी ने कहा है कि अर्जित ज्ञान के क्रियान्वयन जीवन के लिए उपयोगी हो सकता है।

वे सोमवार को जिले के पीएमश्री राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय लिमथान में नौनिहालो में नैतिक विकास विषय पर आयोजित वार्ता में वार्ताकार के रूप में उपस्थित छात्र-छात्र.ाओं को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने वर्तमान समय में ज्ञान की उपलब्धता की चर्चा करते हुए हुआ कहा कि आधुनिक मोबाइल युग में ज्ञान का भण्डार तो उपलब्ध हो जाता है लेकिन इसे जब तक जीवन में क्रियान्वयन के लिए अनुकूल परिस्थितियां उत्पन्न नहीं की जाती है जबकि उपलब्ध ज्ञान की सार्थकता नहीं हो सकती है।

उन्होंने छात्र-छात्राओं से कहा कि जीवन में नैतिकता का विकास करने के लिए हमे अपने बुजुुर्गो एवं सम्माननीय जनों से ज्ञान के भण्डार को प्राप्त कर जीवन में उतारना होगा तभी नैतिकता के मार्ग पर हम प्रशस्त हो सकते है। उन्होंने विभिन्न कहानियों एवं उदाहरणों के माध्यम विद्यार्थियों से कहा कि वे पुरातन ज्ञान के भण्डार से साक्षात होने के लिए स्वयं में नैतिकता को जगाए तथा अपने पुर्वजों एवं बुजर्गो का सम्मान करे। हमे जीवनोपयोगी संस्कारों की जानकारी अपने माता-पिता एवं वृद्धजनों से ही मिलती है इसलिए हमे इस प्रकार के ज्ञान के जीवन में उतार कर जीवन को सफल बनाना चाहिए।

पानेरी ने वार्ता में वर्तमान में पर्यावरण के क्षय सें उत्पन्न हो रही विपरीत परिस्थितियों की चर्चा करते हुए कहा कि जीवन को बचाने के लिए पर्यावरण के प्रति सजग होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हम पर्यावरण के प्रति जितने सजग होंगे और अधिक से अधिक पेड लगाएंगे उतना ही पर्यावरण क्षय से बच सकेगा और शुद्ध पर्यावरण से जीवन में स्वच्छ एवं सुन्दरता के मार्ग पर आगे अविरल बढावा जा सकेगा।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विद्यालय के प्रधानाध्यापक मुकेश ठाकोर ने छात्रों ने जीवन में नैतिकता को विकास को बनाए रखनें के लिए अपने माता-पिता एवं बुजुर्गो, वृद्धजनों का सम्मान करने का आह्वान करते हुए कहा कि ज्ञान की प्राप्प्ति के लिए हमेश विनम्रता का मार्ग ही अख्तियार करना होता है।
कार्यक्रम का संचालन प्रमोद आचार्य एवं आभार प्रदर्शन उप प्राचार्य श्रीमती सारिका  वंगानी ने किया।

News-डॉ. भाटी ने संयुक्त निदेशक पशुपालन का पदभार ग्रहण किया
29 को लेंगे विभागीय योजनाओं की समीक्षा बैठक

बांसवाड़ा, 26 फरवरी। पशुपालन विभाग के सयुक्त शासन सचिव द्वारा उपनिदेशक बहुउदैशीय पशु चिकित्सालय बांसवाड़ा डॉ विजय सिंह भाटी को संयुक्त निदेशक पशुपालन विभाग बांसवाडा के रिक्त पद पर पदस्थापित किया गया।

डॉ विजय सिंह भाटी ने सोमवार को संयुक्त निदेशक पशुपालन विभाग के पद पर पदभार ग्रहण किया साथ ही दिनांक 29 फरवरी 2024 गुरूवार को प्रातः ग्यारह बजे समस्त बी,वी,एच ओ की बैठक आयोजित की है जिसमें वर्ष 2023-2024 दौरान आवंटित समस्त लक्ष्यों की आपूर्ति एवं विभागीय योजनाओ की समीक्षा बैठक रखी है।


 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal