रेलवे में अब पांच साल से छोटे बच्चों के लिए बेबी सीट (बर्थ) की सुविधा

रेलवे में अब पांच साल से छोटे बच्चों के लिए बेबी सीट (बर्थ) की सुविधा

मां की टेंशन हुई खत्म, अब ट्रेन में खिलखिलाते सफर करेंगे छोटे बच्चे

 
baby birth in Indian  railways

उदयपुर, 1 दिसम्बर । मां के साथ छोटे बच्चे बगल में बिना दि़क्कत के सो सकें, इसके लिए भारतीय रेलवे ने महिलाओं के लिए आरक्षित नीचे की बर्थ के साथ 'बेबी सीट बर्थ' की व्यवस्था की है। दरअसल ट्रेन में सफर के दौरान महिलाओं को होने वाली समस्या को देखते हुए सीट के साथ ही 'बेबी बर्थ' बनाया है। 

महिला के लिए आरक्षित नीचे की बर्थ के साथ बच्चे की बर्थ की व्यवस्था की गई है। रेलवे की ओर से पांच साल से छोटे बच्चों के लिए बेबी सीट (बर्थ) की सुविधा प्रदान की जाएगी। यह सुविधा रेलवे की ओर से दी जाने वाली विभिन्न सुविधाओं में से एक होगी। इसकी शुरुआत उत्तर रेलवे की कुछ गाडियों में कर दी गई है।

कोई अतिरिक्त किराया नहीं लगेगा

रेलवे की इस नई सुविधा की सबसे खास बात है कि इस बेबी बर्थ को लेने के लिए किसी अलग शुल्क को देने की जरूरत नही है। रेलवे ने यह सुविधा उत्तर रेलवे के लखनऊ और दिल्ली डिवीजन में शुरू की है। आने वाले वक्त में इस सुविधा को सभी रेल खंडों में शुरू किए जाने की संभावना है। इस सीट पर रिजर्वेशन करवाने के लिए पांच साल से कम उम्र के बच्चे का एक फॉर्म भरना होगा।  तो ही यह सुविधा मिलेगी।

यह बर्थ फोल्डेबल होगी

बता दें कि रेलवे इन दिनों अपने यात्रियों की सुविधा के लिए लगातार नए कदम उठा रहा है। जिससे यात्रियों को काफी लाभ हो रहा है। इसी तर्ज पर रेलवे अब छोटे बच्चों की मांओं के लिए भी सुविधा दे रहा है। इसके तहत पांच साल से छोटे बच्चों के साथ सफर करने वाली मां को मांगने पर बेबी बर्थ दी जाएगी। यह बर्थ फोल्डेबल होगी। इसमें स्टॉपर भी लगाया गया है ताकि बच्चा गिरे नहीं। ऐसे में बच्चों के साथ सफर करने में परेशानी नहीं होगी। बेबी बर्थ निचली बर्थ से जुड़ी होगी।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal