जैनम ज्वेलर्स पर वारदात करने वाला निकला CISF का जवान


जैनम ज्वेलर्स पर वारदात करने वाला निकला CISF का जवान

व्यापारियों में गुस्सा, बाजार बंद

 
jainam jwellers loot case
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर 22 मार्च 2024 । शहर में दिन दहाड़े ज्वेलर्स की हत्या कर 80 लाख रुपए का सोना लूटने वाला कोई ओर नहीं बल्कि सीआईएसएफ (CISF) का जवान निकला। इस वारदात में उसके दो दोस्त भी में शामिल रहे है, जिनकी पुलिस तलाश कर रही है। तीनों हरियाणा के रोहतक के रहने वाले हैं। घटना के एक दिन पहले 20 मार्च को ही उदयपुर आए थे।

व्यापारियों में गुस्सा, आज बाजार बंद
घटना लेकर सर्राफा व्यापारियों में भारी गुस्सा है। सर्राफा एसोसिएशन के अध्यक्ष यशवंत आंचलिया ने बताया कि सर्राफा एसोसिएशन की ओर से दोपहर 3 बजे चैंबर आफ कॉमर्स उदयपुर डिवीजन के साथ मिलकर जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा गया। साथ ही सर्राफा व्यापारी दोपहर 12 बजे तक अपना कारोबार बंद रखकर विरोध दर्ज करवाया।

आपको बता दे कि हत्या और लूट की वारदात भूपालपुरा थाना क्षेत्र के आयड़ इलाके में गुरुवार शाम करीब 4 बजे हुई थी। तीनों दोस्त अशोक नगर स्थित जैनम ज्वेलर्स की दुकान पर फर्जी ग्राहक बनकर गए थे। इससे पहले रेकी की थी। जैनम ज्वैलर्स के अंदर एक आरोपी अनिल जैन को दबोचकर बैठ गया।  इसी दौरान दूसरे आरोपी ने सोना लूटकर बैग में भर दिया।

CISF जवान छुट्टी लेकर लेकर आया था गांव

मामले में गिरफ्तार विकास चौधरी (CISF जवान) वर्तमान में मुम्बई पोर्ट पर तैनात है और छुट्टी लेकर रोहतक के खरकड़ा गांव आया था। फरार दो आरोपी आशीष चौधरी और संदीप चौधरी उसके दोस्त है। पुलिस पूछताछ में कई खुलासे किए।

दोस्तों को पहले उदयपुर भेजा

आरोपी जवान ने पुलिस को बताया वह घटना से एक दिन पहले (20 मार्च) उदयपुर आया था। उसके दोनों दोस्त आशीष चौधरी और संदीप चौधरी तीन दिन पहले ही उदयपुर आ गए थे। वे दोनों कई ज्वैलर्स की दुकानों पर फर्जी ग्राहक बनकर गए और रेकी की। 20 मार्च को तीनों ने मिलकर जैनम ज्वैलर्स की रैकी की और दुकान के आस-पास कई घंटे बिताए। इसके बाद लूट का प्लान बनाया।

दोपहर में वारदात करने का बनाया प्लान

आरोपी ने बताया कि तीनों दोस्तों ने दोपहर के समय वारदात करने का प्लान बनाया था। दोपहर में दुकान पर ग्राहक नहीं थे। ऐसे में गुरुवार दोपहर 3 बजे के समय दुकान में घुसे।

फरार आरोपियों के गुजरात भागने की आशंका 

एसपी योगेश गोयल ने 10 टीम बनाकर फरार आरोपियों को जल्द पकड़ने के निर्देश दिए हैं। 10 टीमों में 5 थानाधिकारी सहित 100 जवान जांच में जुटे हैं। इसके अलावा 50 अन्य जवान ज्वैलरी शॉप वाली रोड सहित रोडवेज, रेलवे स्टेशन और अन्य जगहों के सीसीटीवी कैमरे खंगाल रहे हैं। ताकि आरोपियों का सुराग हाथ लगे। उदयपुर पुलिस की ओर से गुजरात और हरियाणा पुलिस से मामले में सहयोग मांगा है। फरार दोनों आरोपियों को उदयपुर से पड़ोसी राज्य गुजरात भागने की आशंका है।

लोगों ने पकड़कर पीटा

एडिशनल SP सिटी उमेश ओझा ने बताया कि दुकान में घुसकर मालिक अनिल जैन पर पिस्टल तान दी। विरोध करने पर उससे मारपीट की और ज्वेलरी से भरा बैग लेकर भाग गए। विकास चौधरी (सीआईएसएफ जवान) अलग दिशा में भागा और आशीष चौधरी व संदीप चौधरी पैदल ही आयड़ के रास्ते होते हुए चारभुजा मंदिर वाली गली से गुजरे। उस गली में स्कूटी पर साजिद नाम का एक युवक बैठा हुआ था। उसे धक्का देकर स्कूटी से नीचे गिरा दिया। इस दौरान कॉन्स्टेबल भंवर विश्नोई पहुंचे तो बदमाशों ने कॉन्स्टेबल पर भी फायरिंग कर दी। कॉन्स्टेबल ने शोर मचाया तो आस-पास के घरों से लोग निकल कर आए और विकास चौधरी को पकड़कर पिटाई कर दी। मामले में फरार दो आरोपी एक युवक की स्कूटी लेकर भागे थे

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal