राहुल गाँधी मामले में कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने किया सत्याग्रह

राहुल गाँधी मामले में कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने किया सत्याग्रह

बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता और नेता गुलाब बाग स्थित गांधी मूर्ति के समीप इकट्ठा हुए और उन्होंने सत्याग्रह का आयोजन किया

 
congress

राहुल गांधी की सांसदी जाने के बाद कांग्रेस ने हल्ला बोल दिया है। पार्टी के कार्यकर्ता देशभर में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं, राहुल गांधी ने जहां शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा, तो आज कांग्रेस दिल्ली में राजघाट के साथ ही सभी जिला मुख्यालयों में एक दिन का सत्याग्रह कर रही है।

 इसी कड़ी में रविवार को उदयपुर में भी कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ताओं ने सत्याग्रह किया। इस मौके पर उदयपुर के कांग्रेस के पूर्व केंद्र मंत्री डॉ गिरिजा व्यास और लालसिंह झाला सहित अन्य कई दिग्गज नेता भी मौजूद रहे। बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता और नेता गुलाब बाग स्थित गांधी मूर्ति के समीप इकट्ठा हुए और उन्होंने सत्याग्रह का आयोजन किया।

इस अवसर पर डॉ गिरिजा व्यास ने कहा कि उन्होंने अपने राजनीतिक कार्यकाल में कांग्रेस में कई उतार-चढ़ाव देखे हैं। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का हारना और उसके बाद फिर 19 महीने बाद रीगेन करना। व्यास ने कहा कि उन्हें न्यायालय के निर्णय पर पूरा विश्वास है उन्होंने यह भी विश्वास है कि न्यायालय से उन्हें इंसाफ मिलेगा लेकिन, इस तरह का निर्णय आया वह अचंभित करने वाला है। 

व्यास ने कहा कि पहले भी कई बार नेताओं खिलाफ मामले भी दर्ज हुए हैं लेकिन इस बार राहुल गांधी के खिलाफ सोची समझी साजिश की जा रही है। राहुल गांधी की सदस्यता खत्म करना सिर्फ प्रदेश वासियों के लिए नहीं जबकि पूरे देश और विश्व के लोगों के लिए एक चौंकाने वाला विषय है। उन्होंने कहा कि ना सिर्फ कांग्रेस कार्यकर्ता और नेता बल्कि देश का हर एक नागरिक जागरुक और कांग्रेस के अलावा अन्य पार्टियों का जो रिएक्शन आया है वह भी राहुल गांधी के समर्थन में है और अब मोदी सरकार के दिन से गिनती के ही रह गए हैं आने वाले समय में इलेक्शन में राहुल गांधी पर इस तरीके के आरोप लगाकर फिर से एक बार राज मिल जाएगा तो वह बीजेपी की गलतफहमी है।

उदयपुर देहात कांग्रेस के अध्यक्ष लालसिंह झाला ने कहा कि राहुल गांधी न सिर्फ हमारी पार्टी के वरिष्ठ नेता है बल्कि वह लोकसभा सदस्य भी हैं, उन्होंने जिस तरीके से लोकसभा में अपनी बात उठाई मुद्दों को उठाया, लोकतंत्र में यह विपक्ष पार्टी का दायित्व है कि वह अपने मुद्दों को लोकसभा में उठाएं, उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी सदस्यता रद्द करना एक घोर निंदनीय कदम है। ऐसा परिवार जिसमें उनकी दादी देश के लिए शहीद हुए उनके पिता देश के लिए शहीद हो, एक ऐसा परिवार जिसने अपनी पूरी पूंजी देश के लिए समर्पित कर दी उस परिवार के खिलाफ ऐसी हरकत करना घोर निंदनीय कदम है। 

झाला ने कहा कि राहुल गांधी की सदस्यता निरस्त करने के खिलाफ अगर हमें सड़क पर भी उतरना पड़े तो हम सड़कों पर उतर कर राहुल गांधी के खिलाफ किए गए इस कदम का विरोध करेंगे, और कांग्रेस पार्टी इस मुद्दे को लेकर आखिरी तक लड़ेगी।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal