पार्षद पद होने के बावजूद बीपीएल के राशन पर महोदय की नजर

पार्षद पद होने के बावजूद बीपीएल के राशन पर महोदय की नजर 

इस मामले की पर नगर निगम के सहवृत पार्षद अजय पोरवाल ने इस मामले के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोध ब्यूरो में मदनलाल के विरुद्ध मामला दर्ज करवाया है

 
bpl ration issue

उदयपुर में चाँदपोल बाहर के आचार्य मार्ग के वार्ड नंबर 12 के पार्षद महोदय मदनलाल दवे अपने पद की शक्तियों को गलत इस्तेमाल करते पकडे गए।  जी हाँ एक तरफ जहाँ राज्य सरकार गरीबी रेखा से नीचे वर्ग वालो के हित में खाद्य सुरक्षा अभिनियम के अंतर्गत बीपीएल की योजना के तहत खाद्य सामग्री उपलब्ध करवा रहे है वही मदनलालजी अपने ही घर में अनाज की खोली को इस योजना से भर रहे है।  

मदनलाल जी दवे सम्पन परिवार से सम्बंधित व्यक्ति होने के बाद भी बीपीएल में स्वयं और अपनी अपनी गायत्री देवी और बेटे प्रतीक दवे का नाम इस योजना के तहत बनने वाले कार्ड़ में जोड़ दिया। यही नहीं इस काम में नगर निगम के कर्मचारी के साथ अधिकारी भी शामिल है।  

नगर निगम के चुनाव होने से पूर्व रिटर्निंग अधिकारी के समक्ष निर्देशन पत्र पर मदनलाल दवे ने कथित तौर पर 65 हजार के सोने के आभूषण और पुश्तैनी पक्का मकान होना बताया था। लेकिन हर आवश्यकता परिपूर्ण होने के बावजूद भी पार्षद साहब फ्री में गेंहू, दाल, चीनी उठा रहे है। ऐसे में इस योजना का असल हक़दार अपने हक़ की गुहार किसके सामने लगाए जबकि उनके वार्ड का पार्षद खुद लोगो का हक़ दबाये बैठा है। इस मामले की पर नगर निगम के सहवृत पार्षद अजय पोरवाल ने इस मामले के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोध ब्यूरो में मदनलाल के विरुद्ध मामला दर्ज करवाया है ।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal