उदयपुर की कवयित्री नाज़नीन अली नाज़ को डॉ. नूर अमरोहवी पुरस्कार

उदयपुर की कवयित्री नाज़नीन अली नाज़ को डॉ. नूर अमरोहवी पुरस्कार

इससे पहले भी नाज़नीन अली नाज़को कई प्रतिष्ठित पुरस्कार मिल चुके हैं

 
nazneen

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर अवामी राय और इस्लाम जिमखाना मुंबई के संयुक्त तत्वावधान में एक अंतर्राष्ट्रीय काव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें कई राजनीतिक और बौद्धिक हस्तियों के बीच उर्दू भाषा के शायरों एवं कवियों ने भाग लिया। इस अवसर पर मूलतः उदयपुर निवासी हाल कुवैत स्थित लेखिका और कवयित्री नाज़नीन अली नाज़ को उर्दू भाषा के प्रचार-प्रसार में उनके काम और योगदान के लिए "डॉ. नूर अमरोहवी पुरस्कार" से सम्मानित किया गया।

उक्त अवार्ड उन्हें डॉ. यूसुफ अब्राहनी, डॉ. सुहैल लोखंडवाला, डॉ. मोहम्मद अली पाटिनकर, डॉ. फातिमा पाटिनकर और डॉ. अलाउद्दीन शेख और अन्य प्रसिद्ध हस्तियों की उपस्थिति में पद्मश्री डॉ. ज़हीर काज़ी और विधायक अमीन पटेल द्वारा प्रदान किया गया। नाज़नीन अली की शायरी को मुंबई के पारखी श्रोताओं की खूब दाद सराहना मिली।

इससे पहले उन्होंने 5 मार्च को हैदराबाद में सैयद मिस्कीन के संयोजन में अखिल भारतीय दाग देहलवी फाउंडेशन द्वारा आयोजित 5वीं अंतर्राष्ट्रीय काव्य संध्या में भाग लिया था, जहां भी उनकी काव्य सामग्री और प्रस्तुति के लिए दर्शकों द्वारा उनकी काफी सराहना की गई थी।

नाज़ मुख्य रूप से एक उर्दू कवयित्री हैं जिन्होंने उर्दू और हिंदी में एक उपन्यास "ख़लिश" भी लिखा है। वह भारत और कुवैत के प्रमुख समाचार पत्रों में नियमित योगदानकर्ता हैं जहां वह सामाजिक मुद्दों और सार्वजनिक हित के विषयों पर लिखती हैं। इससे पहले भी नाज़ को कई प्रतिष्ठित पुरस्कार मिल चुके हैं जिनमें शान ए उर्दू पुरस्कार, साहिर लुधियानवी पुरस्कार, सुभद्रा कुमारी पुरस्कार आदि शामिल हैं।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal