Dungarpur -1 जुलाई 2024 की प्रमुख खबरे


Dungarpur -1 जुलाई 2024 की प्रमुख खबरे

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े Udaipur Times पर 

 
news from dungarpur, dungarpur  news, latest news from dungarpur
UT WhatsApp Channel Join Now

News-बेसिक स्किल बैच बनाकर 25 विश्वकर्मा को प्रशिक्षण सम्पन्न

डूंगरपुर 1 जुलाई 2024। राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान डूंगरपुर में प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के अन्तर्गत एनएसडीसी के दिशा निर्देशन में 5 से 7 दिवसीय स्किल असेसमेंट और बेसिक स्किल बैच बनाकर 25 विश्वकर्मा को प्रशिक्षण प्रदान किया गया।

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के उप निदेशक आलोक गुप्ता ने बताया कि जिसमें प्रशिक्षक सुनिता भोई ने विश्वकर्मा को टूलकिट के उपयोग के बारे में जानकारी दी व योजना के बारे में पूरी जानकारी दी गई। उन्होंने प्रशिक्षणार्थियों को योजना व उनसे मिलने वाले लाभ के बारे में जानकारी दी। 

डीपीएम सत्यनारायण भाटी और समूह अनुदेशक शिवदत्त सिंह ने टेलीफोनिक माध्यम से पूरे प्रशिक्षण को पूर्ण करने में सहयोग प्रदान किया। प्रशिक्षण के अंतिम दिवस में बड़ौदा बैंक के प्रतिनिधि जगदीशचन्द्र ने बैंक से मिलने वाले लाभ जैसे की लोन और अन्य फायदे के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

News-आंगनवाड़ी और ग्राम पंचायत में पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश

डूंगरपुर, 1 जुलाई। जिला प्रभारी सचिव श्री राजेन्द्र विजय ने सोमवार को कृषि विज्ञान केन्द्र फलोज का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिला प्रभारी सचिव विजय ने नर्सरी में तैयार किए जा रहे पौधो के बारे में जानकारी ली। इस दौरान कृषि विज्ञान पर उपस्थित वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रभारी सी.एम.बलाई ने बताया कि मॉडल नर्सरी में ग्राफ्टेड, आम, कटहल, जामुन, अनार, चीकू, अमरूद, नींबू, सीताफल, आंवला आदि के लगभग 1 लाख 5 हजार पौधे तैयार किए जा रहे हैं।

प्रभारी सचिव पहुंचे आंगनवाड़ी केन्द्र चीतरेटी

प्रभारी सचिव राजेन्द्र विजय आंगनवाड़ी केन्द्र चीतरेटी में बच्चों की उपस्थिति के बारे में जानकारी ली तथा बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को दिए जाने वाले पोषाहार के बारे में जानकारी लेते हुए संबंधित अधिकारी को गुणवत्तापूर्ण पोषाहार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। प्रभारी सचिव विजय ने आंगनवाड़ी केन्द्र चीतरेटी में पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण और इनकी उपयोगिता के बारे में बताते हुए आमजनों से अधिक से अधिक पौधारोपण करने का आह्वान किया।

प्रभारी सचिव ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र दामड़ी का अवलोकन किया

प्रभारी सचिव राजेन्द्र विजय ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र दामड़ी में उपस्थित डॉक्टर से सीएचसी की साफ-सफाई व दवाईयों के बारे में जानकारी ली तथा उपस्थित मरीजों के परिजनो से संवाद करते हुए निःशुल्क दवाईयो के बारे में फीडबैक लिया। इस दौरान परिजनो संतोष व्यक्त करते हुए सभी चिकित्सकीय सुविधाएं निःशुल्क उपलब्ध होना बताया।

प्रभारी सचिव ने ग्राम पंचायत मिनी सचिवालय दोवड़ा का किया निरीक्षण

प्रभारी सचिव राजेन्द्र विजय ने ग्राम पंचायत दोवड़ा के मिनी सचिवालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान प्रभारी सचिव ने मिनी सचिवालय पर उपस्थित समाजसेवी दयाशंकर परमार की कार्य शैली और पंचायत भवन की सराहना करते हुए पौधारोपण भी किया।

प्रभारी सचिव ने दोवड़ा में स्थित उचित मूल्य दुकान का किया निरीक्षण

प्रभारी सचिव विजय ने पंचायत समिति दोवड़ा में स्थित उचित मूल्य दुकान का निरीक्षण किया। उन्होंने उचित मूल्य दुकान पर राशन डीलर की पोस मशीन को चैक किया तथा आमजन को निःशुल्क वितरित की जानकारी लेकर 18 वर्ष से कम आयु अथवा 60 वर्ष से अधिक आयु तथा दिव्यांगजनो के घर-घर जाकर निःशुल्क राशन वितरण करने के निर्देश दिए। साथ ही प्रभारी सचिव श्री विजय ने खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की ओर से 90 वर्षीय श्रीमती वरजू पत्नी खेमजी पाटीदार को घर जाकर 5 किलोग्राम निःशुल्क राशन दिया तथा श्रीमती वरजू से संवाद कर कहा कि अब निःशुल्क राशन आपके घर तक आ जाएगा।

प्रभारी सचिव ने ब्लॉक दोवड़ा में प्लांटेशन कार्य का किया अवलोकन

प्रभारी सचिव श्री विजय ने भू-जल संरक्षण विभाग की ओर से  ग्राम पंचायत देव सोमनाथ ब्लॉक दोवड़ा में प्लांटेशन कार्य का किया अवलोकन किया। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर कुलराज मीणा, पौध संरक्षण वैज्ञानिक बी.एल.रोत, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अलंकार गुप्ता, जिला रसद अधिकारी विपिन जैन, महिला एवं बाल विकास विभाग के उप निदेशक पंकज कुमार द्विवेदी सहित सभी विभागो के अधिकारीगण एवं कर्मचारीगण मौजूद रहे।
अधिकारी करें नियमित मॉनिटरिंग, आमजन को मिले योजनाओं का लाभ: प्रभारी सचिव श्री राजेन्द्र विजय

News-विभागीय योजनाओं की प्रगति की समीक्षा बैठक ली

डूंगरपुर, 1 जुलाई। प्रभारी सचिव राजेन्द्र विजय सोमवार को दो दिवसीय दौरे पर डूंगरपुर पहुंचे। प्रभारी सचिव श्री विजय ने ईडीपी सभागार में राज्य सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि जिला स्तरीय अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि फील्ड लेवल पर अच्छा काम हो। उन्होंने मेडिकल डिपार्टमेंट की सराहना करते हुए कहा कि जिस तरह चिकित्सा विभाग में फील्ड लेवल पर पर्याप्त मॉनिटरिंग और नियमित निरीक्षण किए जा रहे हैं, उसी तरह  सभी विभागों से अपेक्षा है कि ग्राम पंचायत लेवल तक अपने विभागों के कामों को देखें। सबसे पहले तो अपने काम के दायरे को खुद समझिए। आमजन और फील्ड एजेंसी से सीधा संवाद रखें। उन्होंने कहा कि सभी एक टीम के रूप में काम करें और सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों का लाभ आमजन तक पहुंचाएं। एक भी पात्र व्यक्ति लाभ से वंचित न रहे। जिला कलक्टर अंकित कुमार सिंह ने जिले में राज्य सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों की प्रगति की जानकारी दी।

खाद्य पदार्थों की सैंपलिंग के लिए चलेगा अभियान

प्रभारी सचिव ने स्वास्थ्य विभाग से शुरुआत करते हुए एक-एक कर  सभी प्रमुख विभागों की योजनाओं की जिले में प्रगति की समीक्षा की। सीएमएचओ डॉ अलंकार गुप्ता को खाद्य पदार्थों में मिलावट रोकने के लिए अभियान चलाकर सैंपलिंग करवाने और उपभोक्ता जागरुकता के लिए चिकित्सा और रसद विभाग को संयुक्त अभियान शुरू करने  के निर्देश दिए। मौसमी बीमारियों को देखते हुए फोगिंग मशीन तैयार रखने और फोगिंग करवाने के निर्देश दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर कुलराज मीणा, सीईओ मुकेश चौधरी सहित सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

अपराध में कमी, अवैध खनन पर कसी नकेल

पुलिस अधीक्षक मोनिका सेन ने बताया कि जिले में महिला अत्याचारों में वर्ष 2023-24 में 22 प्रतिशत की कमी आई है। पोक्सो, रेप और गैंग रेप के 5 केस ही 1 साल से ज्यादा के हैं। वहीं जिले में अवैध खनन के 13 केस दर्ज किए गए हैं। अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई जारी है।
अधिकारियों को दिए ये निर्देश
1. सरकारी स्कूलों में पालनहार योजना के तहत एक भी पात्र  बच्चा वंचित न रहे।  इसकी जिम्मेदारी संबंधित स्कूल के प्रिंसिपल की होगी। अभी जिले में 17 हजार बच्चों को पालनहार योजना का लाभ मिल रहा है।
2. जल जीवन मिशन के तहत मेजर प्रोजेक्ट के कार्यों की गति बढ़ाने के निर्देश दिए।
3. पीडब्ल्यूडी को बारिश के मौसम से पहले मरम्मत कार्यों की प्लानिंग करने और प्रपोजल बनाने के निर्देश दिए। बारिश में रास्ते रुकने और पानी भरने की दिक्कत नहीं आनी चाहिए।
4. पौधरोपण अभियान में सभी सरकारी स्कूलों में बच्चों से पौधरोपण करवा कर उनकी सार-संभाल की जाए।
5. मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के पात्र परिवारों का डेटा एकत्रित करें। ग्राम पंचायत वार डोर टू डोर सर्वे करवाया जाए।
6. राजस्थान संपर्क पर दर्ज प्रकरणों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण हो।
7. पशुओं को मौसमी बीमारियों से बचाव के लिए वैक्सीनेशन  प्रोग्राम चलाया जाए। अधिकारी नियमित मॉनिटरिंग करें।
8. जल संसाधन विभाग बांधों के भराव की नियमित मॉनिटरिंग करें। डेम के गेट खुलने से पहले उसकी एडवांस  प्लानिंग करें।
विभागीय अधिकारी फील्ड में जाकर करें प्रभावी मॉनिटरिंग: प्रभारी सचिव श्री राजेन्द्र विजय

News-खाद्य पदार्थों में मिलावट की जांच के लिए टीम बनाने के निर्देश

डूंगरपुर, 1 जुलाई। जिला प्रभारी सचिव श्री राजेन्द्र विजय ने सभी विभागीय अधिकारियों को फील्ड लेवल तक जाकर योजनाओं के क्रियान्वयन की प्रभावी मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने यह निर्देश सोमवार को आयोजित जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में दिए।
जिला परिषद के ईडीपी सभागार में आयोजित जिला स्तरीय बैठक में प्रभारी सचिव श्री विजय ने सभी विभागाध्यक्ष को अपने विभागों की सभी योजनाओं की पूर्ण जानकारी हो। साथ ही वे अपने अधीनस्थ कार्यरत सभी कार्मिकों को लक्ष्य देते हुए कार्य निर्धारण करें तथा आमजन के साथ संवाद रखते हुए धरातल पर कार्यों का प्रभावी क्रियान्वयन कर रिपोर्ट ले। उन्होंने पिछली बैठक में दिए गए निर्देशों की अनुपालना करते हुए विभागों द्वारा किए गए कार्यों को प्रशंसनीय बताया।

बैठक में जिला कलक्टर अंकित कुमार सिंह ने फ्लैगशिप योजनाओं, मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना 2, सघन वृक्षारोपण कार्यक्रम सहित अन्य योजना की प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने जिले में परिवहन विभाग के रिक्त पद, हीट वेव के दौरान की गई व्यवस्थाओं, पेयजल वितरण के लिए टीम बनाकर की गई व्यवस्थाओं, सघन वृक्षारोपण के लिए अब तक की गई तैयारियों की विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की।बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक मोनिका सेन ने जिले में कानून एवं शांति व्यवस्था तथा विभाग द्वारा अपराध नियंत्रण हेतु की जा रही कार्यवाही की जानकारी दी।

कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिरिक्त जिला कलक्टर कुलराज मीणा ने प्रभारी सचिव का स्वागत करते हुए बैठक कार्यवाही प्रारंभ की। बैठक में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुकेश चौधरी ने महात्मा गांधी नरेगा का योजना में जॉब कार्ड, रोजगार दिवस, 837 परिवारों को सौ दिवस रोजगार देना, प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री आदि आदर्श ग्राम योजना आदि विभिन्न योजनाओं की प्रगति की जानकारी दी।

बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए प्रभारी सचिव श्री विजय ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को योजनाओं के क्रियान्वयन में जिन-जिन ब्लॉक में कम प्रगति है वहां पर ब्लॉक लेवल अधिकारी के साथ बैठक कर फोकस करते हुए कार्य करें और समय-समय पर इसकी रिपोर्ट ले। उन्होंने जिला कलक्टर को जिले में खाद्य पदार्थों में मिलावट की जांच करने, बाहर से आने वाले मसालों एवं अन्य खाद्य पदार्थों की भी सैंपलिंग करने के लिए टीम गठित करने के निर्देश दिए। समीक्षा के दौरान दवाईओं की उपलब्धता, मौसमी बीमारियों के उपचार हेतु की गई व्यवस्थाओं, फॉगिंग, क्षय निवारण के लिए किए जा रहे कार्य, कुपोषण सर्वे आदि के संबंध में जानकारी लेते हुए दिशा निर्देश प्रदान किए।

बैठक में शिक्षा विभाग की समीक्षा करते हुए जिले में कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों, मिड-डे-मील, खाद्यान्न वितरण, मुख्यमंत्री बाल गोपाल योजना, बोर्ड परीक्षा परिणाम, छात्रवृत्ति वितरण की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने पीएम श्री योजना का व्यापक प्रचार प्रसार करने तथा इस संबंध में कार्यशाला का आयोजन करने के निर्देश दिए। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का विद्यालयों में बालिकाओं को जानकारी देने, जिन ब्लॉक में न्यून प्रगति है वहां सर्वे करवाकर फोकस करने, पालनहार के पात्र बच्चों को संस्था प्रधान के माध्यम से चिन्हित करवाने के निर्देश दिए। उच्च शिक्षा विभाग में समीक्षा करते हुए देवनारायण एवं कालीबाई स्कूटी योजना के अंतर्गत जो शेष लाभार्थी रह गए हैं, उनका सत्यापन करने के निर्देश दिए।

बैठक में पीडब्ल्यूडी अधीक्षण अभियंता को बारिश से पूर्व लक्षित कार्यों को पूरा करने के निर्देश दिए। साथ ही मानसून के दौरान आपदा प्रबंधन के लिए पूरी तैयारी रखने और जिन क्षेत्रों में पूर्व में समस्याएं आई हैं, उन्हें पहले से चिन्हित करने तथा तैयारी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने मिसिंग लिंक, नॉन पैचेबल वर्क तथा विभाग के अंतर्गत चल रहें प्रोजेक्ट के प्रगति की जानकारी ली।

जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग की समीक्षा करते हुए प्रभारी सचिव श्री विजय ने क्षय नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत आयु के अनुसार डाटा तैयार करने के निर्देश दिए, जिससे कि उनकी उचित चिकित्सा के साथ-साथ उनके खानपान तथा आदतों पर भी विशेष फोकस कर उपचार किया जा सकें। बैठक में पशुपालन विभाग की समीक्षा के दौरान राष्ट्रीय कृत्रिम गर्भाधान, टीकाकरण कार्यक्रम की जानकारी भी तथा प्रभारी सचिव श्री विजय ने अतिरिक्त जिला कलक्टर को वैक्सीनेशन के लिए मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। कृषि विभाग की समीक्षा के दौरान जिले में खरीफ फसल की बुवाई, खाद की उपलब्धता, मिनीकिट वितरण आदि के बारे में जानकारी दी। कृषि सहायक निदेशक ने अवगत कराया कि अभी तक 80 हजार मिनीकिट का आवंटन प्राप्त हुआ है, जिसका वितरण किया जा रहा है तथा ओर अधिक डिमांड की गई है।

प्रभारी सचिव श्री विजय ने जल संसाधन अधिकारी को बरसात के दिनों में नियमित एवं सतत् मॉनिटरिंग करने, पूर्व के वर्षों के दौरान जहां पर भारी बारिश के बाद समस्याएं आती है वहां पूर्व से ही तैयारी रखने के निर्देश दिए।

बैठक में विद्युत विभाग, वाटरशेड, हॉर्टिकल्चर सहित अन्य विभागों की भी समीक्षा कर आवश्यक निर्देश प्रदान किए। बैठक में जिले के समस्त जिला स्तरीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal