राजस्थान में 31 जनवरी तक पटाखों पर पाबंदी

राजस्थान में 31 जनवरी तक पटाखों पर पाबंदी 

अस्थायी लाइसेंस नहीं होगा जारी 

 
arrest for fireworks selling

लगातार दूसरा साल है, जब सरकार ने ऐसा निर्णय लिया

कोरोना के मामलों में गिरावट हुई है लेकिन तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश भर में शुक्रवार से पटाखों की बिक्री और हर तरह की आतिशबाजी चलाने पर पाबंदी लगा दी है। इससे साफ ज़ाहिर होता है कि दशहरा और दिवाली बिना आतिशबाजी के होगी। गृह विभाग की ओर से एडवाइजरी जारी कर दी गई है। यह रोक 1 अक्टूबर से लेकर अगले साल 31 जनवरी तक रहेगी।

31 जनवरी तक पटाखों के अस्थायी लाइसेंस जारी करने पर भी रोक लगा दी है। गृह विभाग ने सभी कलेक्टरों को इस संबंध में आदेश दिए हैं। जिला स्तर पर बड़ी संख्या में दिवाली पर अस्थायी लाइसेंस जारी होते हैं। एडवाइजरी में लिखा है कि एक्सपर्ट ने कोरोना की तीसरी लहर की संभावना जताई है। कोरोना संक्रमित लोगों को आतिशबाजी के धुएं से सांस लेने में दिक्कत को देखते हुए पिछले साल आतिशबाजी पर प्रतिबंध लगाया था।

आतिशबाजी के धुएं से वृद्ध, बीमार व्यक्ति, सीओपीडी, अस्थमा और कोविड रोगियों को बहुत तकलीफ होती है। इसलिए इस साल भी आतिशबाजी पर प्रतिबंध लगाना जरूरी है। वहीं आपको बता दे कि पिछले साल भी राजस्थान सरकार ने दिवाली पर पटाखों की खरीद-बिक्री और आतिशबाजी करने पर रोक लगाई थी। इस बार भी दशहरे और दिवाली पर आतिशबाजी नहीं होगी।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal