राजस्थान में "डेल्टा प्लस वेरिएंट" की दस्तक, बीकानेर में मिला पहला केस

राजस्थान में "डेल्टा प्लस वेरिएंट" की दस्तक, बीकानेर में मिला पहला केस 

अभी तक महाराष्ट्र, केरल, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, पंजाब, जम्मू कश्मीर, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश में ही डेल्टा प्लस वेरिएंट केस मिले थे

 
delta plus variant first case found in rajasthan

भारत में कोरोना का एक नया रूप डेल्टा प्लस भी प्रवेश कर गया है और देश में इसके 40 से अधिक संक्रमित मिल चुके हैं। ये दूसरी लहर में फैले कोरोना के डेल्टा वैरिएंट से भी अधिक खतरनाक - CM

कोरोना वायरस का अब तक के सबसे खतरनाक वेरिएंट डेल्टा प्लस धीरे धीरे देश में अपने पैर पसार रहा है। अभी तक महाराष्ट्र, केरल, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, पंजाब, जम्मू कश्मीर, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश में ही डेल्टा प्लस वेरिएंट केस मिले थे। लेकिन अब इन राज्यों में राजस्थान भी शामिल हो गया है। राजस्थान के बीकानेर में डेल्टा प्लस वेरिएंट का पहला केस मिला है। आपको बता दे कि बीकानेर की एक महिला को कोरोना के नए डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि की गई है। वहीं चिकित्सा विभाग ने भी बीकानेर में एक 65 वर्षीय महिला कोरोना के नए डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि की है। महिला को वैक्सीन की दोनों डोज लगी हुई थी। 

31 मई को महिला का सैंपल NIV पूना भेजा गया था। 25 दिनों के लंबे इंतजार के बाद रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि महिला में नए डेल्टा प्लस वेरिएंट पाया गया है। सुचना मिलने के बाद कंटेनमेंट जोन बनाकर एग्रेसिव सैंपलिंग के निर्देश जारी करने के साथ महिला के परिजन, कांटेक्ट पर्सन के अलावा आसपास के इलाके में सैंपलिंग के निर्देश जारी कर दिए है। चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के मुताबिक महिला की हालात में पहले से सुुधार है।  

बता दे कि कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वैरिएंट के 11 राज्यों में अब तक 50 मामले सामने आ चुके हैं।  प्राप्त जानकारी के अनुसार डेल्टा प्लस वैरिएंट के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में दर्ज किए गए हैं और अब तक 21 लोग संक्रमित हो चुके हैं।  इसके अलावा केरल, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, पंजाब, जम्मू कश्मीर, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश में ही डेल्टा प्लस वेरिएंट केस मिले है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ऩए डेल्टा वेरिएंट पर ट्वीट करके कहा कि "सभी लोग अपनी बारी आने पर वैक्सीन भी अवश्य लगवाएं। भारत में कोरोना का एक नया रूप डेल्टा प्लस भी प्रवेश कर गया है और देश में इसके 40 से अधिक संक्रमित मिल चुके हैं। ये दूसरी लहर में फैले कोरोना के डेल्टा वैरिएंट से भी अधिक खतरनाक है इसलिए भी अब अतिरिक्त सावधानी की आवश्यकता है।" 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal