उदयपुर की झीलों में जल्द चलेंगे फ्लोटिंग फाउंटेन

उदयपुर की झीलों में जल्द चलेंगे फ्लोटिंग फाउंटेन 

रात में भी उदयपुर की झीलें पर्यटकों को करेगी आक​र्षित

 
pichola lake

उदयपुर,12 दिसंबर। राजस्थान के उदयपुर शहर में झील एक फेमस पर्यटन स्थल है। इन्ही झीलों को सवारने के साथ ही इनमे ऑक्सीजन रिचार्ज करने के लिए रंगसागर, स्वरूप सागर व कुम्हारिया तालाब में 2.93 करोड़ की लागत से नए फ्लोटिंग फाउंटेन के लिए पाइप, केबल से लेकर मशीनरी का काम पूरा हो गया है। 

यह फाउंटेन कलरफुल लाइट्स के साथ 9 मीटर की ऊंचाई तक पानी फेंकेंगे और ऑक्सीजन रिचार्ज करेंगे। शीघ्र ही यह फ्लोटिंग फाउंटेन कलरफुल लाइट्स के साथ चलेंगे। यह फाउंटेन जीआई पाइप के साथ एरीऐशन सिस्टम से जुड़े होंगे, जो कम्प्रेशर से पाइप के जरिए झील के अंदर तक ऑक्सीजन रिचार्ज करेंगे, ताकि जलीय घास व काई नहीं पनपे। निगम का कहना है कि ठेका कंपनी पांच साल तक इसे मेंटेन करेगी।

निगम अधिकारियों का दावा है कि निगम का दावा है कि बार-बार केबल व उपकरण चोरी होने से इस बार यह काम पूरी तरह से ठेके पर दिया गया है, जिनमें नई तकनीक के साथ फ्लोटिंग फाउंटेन लगाए जाएंगेे। 

पहले भी उतारे फव्वारे

निगम ने पूर्व में दूधतलाई, कुम्हारिया तालाब व रंगसागर में 42 लाख रुपए खर्च कर तीन फव्वारे उतारे थे। प्रति फव्वारे की कीमत करीब 14 लाख रुपए आई थी। इन फव्वारो में दूधतलाई का फव्वारा पानी में डूब गया तथा उसकी केबल गायब हो गई थी। इसी तरह अम्बापोल पुलिया के पास रंगसागर में लगाए गए फव्वारे की मोटर जल गई तो कुम्हारिया तालाब में लगे फव्वारे से चोर केबल व उपकरण चुरा ले गए। ये फव्वारे कुछ समय बाद ही बंद हो गए। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal