गिट्स ने एनर्जीथॉन 2023 बेस्ट प्रेक्टिस अवार्ड का खिताब किया अपने नाम

गिट्स ने एनर्जीथॉन 2023 बेस्ट प्रेक्टिस अवार्ड का खिताब किया अपने नाम

राजस्थान में यह खिताब हासिल करने वाल गिट्स एकमात्र महाविद्यालय हैं
 
gits

गीतांजली इन्स्टिटियूट ऑफ टेक्नीकल स्टडीज, उदयपुर ने ऊर्जा संरक्षण क्लीन ऊर्जा एवं ग्रीन ऊर्जा पर 19.13 घण्टे तक सतत चलने वाली मेराथन कॉन्फ्रेस में अपना योगदान देकर ‘‘सस्टेनेबल बेस्ट प्रेक्टिस अवार्ड’’ एवं ‘‘स्टार कन्ट्रीब्यूटर’’ का खिताब अपने नाम किया। उल्लेखनीय है कि पूरे राजस्थान में यह खिताब हासिल करने वाल गिट्स एकमात्र महाविद्यालय हैं।

संस्थान के निदेशक डॉ. एन.एस. राठौड ने ग्रीन ऊर्जा को अपनाने पर जोर देते हुए कहा कि विकास की इस सरपट दौड में पर्यावरण संरक्षण की जिम्मेदारी हमारी ही हैं। अगर हम अपने आने वाली पीढी को कुछ देना चाहते है तो पर्यावरण सरंक्षण पर ध्यान देना होगा। धरती को सरंक्षित करने के लिए देश विदेश की संस्थाएं आगे आ रही हैं। ऐसे हमारा कर्त्तव्य बनता है कि पर्यावरण संरक्षण में चल रही मुहिम में अपना योगदान प्रदान करें। 

इसी के तहत क्लीन ऊर्जा, ग्रीन ऊर्जा एवं पर्यावरण संरक्षण तथा सतत विकास लक्ष्य-7 पर आधारित 19.13 घण्टे तक चलने वाली तथा लिम्काबुक रिकॉर्ड में दर्ज होने वाली इस मेराथन में गिट्स में सस्टेनेबल बेस्ट प्रेक्टिस अवार्ड एवं स्टार कन्ट्रीब्यूटर का खिताब जितकर पूरे उदयपुर का गौरव बढाया। 

गिट्स को उपरोक्त अवार्ड केम्पस परिसर में उपस्थित हरे पैड, पौधे, सौलर एनर्जी उत्पादन की क्षमता, बॉयोगैस प्लांट, जीरो वेस्ट केम्पस, वाटर हार्वेस्टिंग एवं विद्यार्थियों बनाये गये सौर ऊर्जा से संचालित बोधि ट्री तथा ऊर्जा संरक्षण की दिशा में किये गये कार्यो के आधार पर दिया गया। 

इस मेराथन को इन्स्टिीट्यूट ऑफ ग्रीन इन्जिनियर्स, एनर्जी स्वराज फाउण्डेशन, स्माइल फॉर मिलियंस, डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम फाउण्डेशन, डॉ. एम जे आर एज्यूकेशन एण्ड रिसर्च इंस्टिट्यूट के साथ मिलकर गिट्स के द्वारा ऑग्रेनाइज किया गया। इसमें देश विदेश के 110 स्पीकर, 55 प्रजेंटर एवं 15000 लोगो ने भाग लेकर सस्ती, भरोसेमंद टिकाऊ और आधुनिक ऊर्जा अपनाने का संकल्प लिया। 

राजस्थान राज्य के एकमात्र ऑर्गेनाइज सेक्रेटरी मि. डेनिस जांगिड के अनुसार इस मेराथन कॉन्फ्रेस में स्वच्छ और नवीनीकरण ऊर्जा  के विभिन्न पहलुओं पर विशेषज्ञों, शोधकर्ताआ उद्योग जगत की जानी मानी हस्तियों एवं स्कॉलर्स ने अपने सुझाव प्रस्तुत किये एवं भविष्य जरूरतों पर विचार विमर्श किया जिसमें यूनाइटेड नेशन ग्लोबल रिपोर्ट प्रजेंटेशन में सिविल विभागाध्यक्ष डॉ. मनीष वर्मा एवं डॉ. संगीता चौधरी ने प्रस्तुति देकर स्टार कन्ट्रीब्यूटर का खिताब अपने नाम किया। 

वहीँ दूसरी तरफ सस्टेनेबल बेस्ट प्रेक्टिस अवार्ड में डॉ. विजेन्द्र कुमार मौर्य एवं डेनिस जांगिड द्वारा क्लीन ऊर्जा एवं ग्रीन ऊर्जा पर आधारित कार्यों की प्रस्तुति देकर खिताब अपने नाम किया। यह मेराथन कॉन्फ्रेस यूनाइटेड नेशन के सस्टेनेबल डवलपमेट गोल -7 के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए था। इस अवसर पर वित्त नियंत्रक बी.एल. जांगिड सहित पूरे गीतांजली परिवार को पर्यावरण संरक्षण के प्रति प्रतिबद्ध  रहने के लिए धन्यवाद दिया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal