कलाल समाज द्वारा सहस्र बाहु कल्याण बोर्ड के गठन की मांग


कलाल समाज द्वारा सहस्र बाहु कल्याण बोर्ड के गठन की मांग

कलाल समाज ने अशोक गहलोत के नाम ज्ञापन सौंप कर बोर्ड का गठन कर समाज को सौगात देने की मांग की है

 
kalal samaj
UT WhatsApp Channel Join Now

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा कई समाजों को बोर्ड बनाकर सौगात दी गई है इसके बाद अब और कई समाज मुख्य मंत्री से बोर्ड के गठन की मांग कर रहे है। कलाल समाज भी अब सहस्र बाहु कल्याण बोर्ड के गठन की मांग कर रहा है। 

पूरे प्रदेश में कलाल समाज ने अशोक गहलोत के नाम ज्ञापन सौंप कर बोर्ड का गठन कर समाज को सौगात देने की मांग की है। उदयपुर मुख्यालय पर भी आज बड़ी तादाद में कलाल समाज के लोगो ने कलेक्ट्री के बाहर प्रदर्शन कर बोर्ड के गठ्न की मांग की है। कलाल समाज के पदाधिकारियों ने कहा की कलाल समाज सभी वर्गों के आधार पर उदयपुर संभाग सहित प्रदेश के कई जिलों में निवास करता है ऐसे में राजस्थान के बड़े राजस्व में कलाल समाज का बडा योगदान है । 

कर्नाटक राज्य की तर्ज पर राजस्थान में भी आबकारी बंदोबस्त व्यवस्था में शराब के जनक कलाल समाज को आरक्षण देने और और नागदा स्थित सहस्त्रबाहु मंदिर का विकास कार्य कराने की मांग की है । 

प्रदर्शन के दौरान वेगड़ा, सुहालका, पूर्बिया, टांक, मेवाड़ा और जायसवाल साहित अन्य वर्ग के पदाधिकारी मोजूद थे। सुहालका समाज के सूर्य प्रकाश सुहालका ने बताया कि समाज के विकास के योगदान के लिए बोर्ड का गठन कर सरकार कलाल समाज की मांग को जल्द पूरा करने और सवीना खेड़ा सर्कल का नाम सहस्त्रबाहु अर्जुन खेड़ा सर्कल रखकर प्रतिमा लगवाने की अनुशंसा करने की मांग की है। 

देहात कांग्रेस जिला अध्यक्ष और वेगड़ा कलाल समाज अध्य्क्ष कचरू लाल चौधरी ने कहा कि कलाल समाज प्रदेश के ग्रामीण अंचलों के साथ शहरी क्षेत्र में निवास करता है समाज की आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के लिए सरकार को जल्द ही बोर्ड का गठन किया जाना चाहिए।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal