मदार का पानी फतेहसागर में समाहित होना शुरू

मदार का पानी फतेहसागर में समाहित होना शुरू

कल ओवरफ्लो हुआ था बड़ा मदार तालाब

 
madaar

सीसारमा का वेग घटकर 1 फीट हुआ

उदयपुर 14  सितंबर 2021। झीलों की नगरी की धड़कन कही जाने वाली फतहसागर झील में मदार नहर से पानी की आवक शुरू हो चुकी है। सोमवार रात करीब सवा 11 बजे मदार बड़ा तालाब का पानी मदार नहर के जरिये फतहसागर के मुहाने को छू गया। अब झील में आवक शुरू हो चुकी है। वर्तमान में फतेहसागर झील का जलस्तर 5 फ़ीट 10 इंच है। जबकि कुल भराव क्षमता 13 फ़ीट है। इस हिसाब से अभी फतहसागर 7 फ़ीट 2 इंच खाली है। 

इधर, पिछोला को भरने वाली सीसारमा चैनल का वेग आज घटकर 1 फ़ीट रह गया है। वर्तमान में पिछोला का जलस्तर 9 फीट 3 इंच है। 11 फीट की भराव क्षमता वाले का पिछोला में 10 फ़ीट भराव क्षमता पूर्ण होने पर इसका पानी भी लिंक नहर के ज़रिये फतहसागर में छोड़ा जाएगा।

दो दिन साधारण बरसात होने के बाद सोमवार रात को एक बार फिर उदयपुर पर बादल मेहरबान हुए। देर रात शहर सहित आसपास के कई इलाकों में बरसात हुई। सबसे ज्यादा 65 एमएम बरसात देवास में हुई। वहीं शहर में रात को लगभग आधा इंच बरसात हुई। मंगलवार सुबह भी शहर के कई इलाकों में बादल बरसे। इसके अलावा झाड़ोल में 15 एमएम, मदार में 13 एमएम, गोगुंदा में 13 एमएम, वल्लभनगर में 11 एमएम, नाई में 5 एमएम बरसात हुई। उदयपुर जिले में अबतक औसत 428 एमएम बरसात हो चुकी है।

मौसम विभाग की माने तो आगामी तीन दिनों में उदयपुर, जोधपुर, कोटा, भरतपुर संभाग में भारी बारिश की संभावना जताई गई है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal